रानीखेत, [जेएनएन]: पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने बिनसर महादेव के मंदिर पहुंचकर आशीर्वाद लिया। यहां पूर्व सीएम ने लोगों के साथ चिमटा बजाकर भजन भी गाए। इस दौरान विधायक करन सिंह माहरा ने पुलिस-प्रशासन पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि उन्होंने पूर्व सीएम रावत को सुरक्षा मुहैया नहीं करवार्इ। 

दरअसल, पूर्व सीएम अपने पैतृक आवास मोहनरी जाते वक्त रामनगर हाईवे से कुछ दूर स्थित सौनी बिनसर महादेव मंदिर पहुंचे। जहां उन्होंने महादेव के आगे शीश नवाया। साथ ही पूजा-अर्चना कर महाआरती में भी हिस्सा लिया।  

आपको बता दें पूर्व सीएम हरीश रावत यहां शतचंडी महायज्ञ और श्रीमद् देवी भागवत कथा सुनने बैठे। करीब आधे घंटे ध्यानमग्न होने के बाद महामड्लेश्वर श्री श्री 1008 परेशानंद यति, कथा व्यास नंदा बल्लभ पंत व मंहत राम गिरि का आशीर्वाद लिया। बाद में लोगों से मिलकर उनका हालचाल भी जाना। 

इस दौरान विधायक करन माहरा, किसान नेता गोपाल सिंह देव, मंदिर समिति के सेवादार चंदन बिष्ट, बचे सिंह देव, पूरन सिंह बिष्ट, तारा दत्त पपनै, दिनेश तिवारी, हिमांशू अधिकारी, प्रह्लाद सिंह नेगी, नितिन पांडे, उमेश बिष्ट, नीरज बवाडी़, जितेंद्र कड़ाकोटी, हिमांशू शर्मा, प्रकाश पंत आदि मौजूद रहे।

सवालों के घेरे में पुलिस प्रशासन 

वहीं, विधायक करन माहरा ने पुलिस प्रशासन को एक बार फिर कटघरे में खड़ा कर दिया। उन्होंने आरोप लगाया की पूर्व सीएम को सुरक्षा मुहैया नहीं कराई गई जो, शासन-प्रशासन की बड़ी चूक है। साथ ही मंदिर व मेला परिसर में भी व्यवस्था को राजस्व व पुलिस के जवान तैनात न होने पर भी नाराजगी जताई।

यह भी पढ़ें: हरीश रावत का वर्ष 2019 के चुनावी समर में उतरने का ऐलान

यह भी पढ़ें: सांसद अनिल बलूनी बोले, राजनीति से खत्म करना होगा वीआइपी कल्चर 

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस