Move to Jagran APP

Mahatma Gandhi kashi Vidyapith: भैरव तालाब परिसर में अब बीसीए की भी होगी पढ़ाई, जानें आवेदन की प्रक्रिया

Mahatma Gandhi kashi Vidyapith महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ ने भैरव तालाब परिसर में अब बीसीए की भी पढ़ाई होगी। काशी विद्यापीठ ने सत्र 2023-24 से शिक्षाशास्त्र व मनोविज्ञान में छह वैल्यू-एड कोर्स शुरू करने का निर्णय लिया है। नए सत्र की प्रवेश विवरणिका में इसका उल्लेख कर दिया गया है।

By Jagran NewsEdited By: Swati SinghPublished: Fri, 26 May 2023 11:04 AM (IST)Updated: Fri, 26 May 2023 11:24 AM (IST)
काशी विद्यापीठ के भैरव तालाब परिसर में अब बीसीए की भी होगी पढ़ाई

वाराणसी, जागरण संवाददाता। महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ ने भैरव तालाब परिसर में अब बीसीए की भी पढ़ाई होगी। स्ववित्तपोषित पाठ्यक्रम के तहत बीसीए में 66 सीटें निर्धारित हैं। ऐसे में अब बलवंत सिंह कृषि विज्ञान व प्रौद्योगिकी संस्थान (भैरव तालाब) में बीएससी-कृषि के साथ बीसीए कोर्स भी संचालित किए जाएंगे।

loksabha election banner

हिंदू अध्ययन पर राजभवन का ब्रेक

वहीं काशी विद्यापीठ में एमए (हिंदू अध्ययन) कोर्स सत्र 2023-24 में भी शुरू नहीं होगा। जबकि हिंदू अध्ययन कोर्स शुरू करने के लिए विद्या परिषद व कार्यपरिषद करीब एक साल पहले ही हरी झंडी दे दी थी। राजभवन से अनुमोदन न मिलने के कारण विश्वविद्यालय ने हिंदू अध्ययन में दाखिले का आवेदन इस वर्ष भी ब्रेक कर दिया है। इसी प्रकार डिप्लोमा इन रिमोट सेंसिंग एंड जीआईएस पाठ्यक्रम में दाखिले का आवेदन भी ऑनलाइन नहीं किया गया है।

विभागीय स्तर पर होंगे वैल्यू-एड कोर्स में दाखिला

काशी विद्यापीठ ने सत्र 2023-24 से शिक्षाशास्त्र व मनोविज्ञान में छह वैल्यू-एड कोर्स शुरू करने का निर्णय लिया है। नए सत्र की प्रवेश विवरणिका में इसका उल्लेख कर दिया गया है। इसके तहत शैक्षिक तकनीकी का प्रमाणपत्र, जीवन कौशल परिचय प्रमाणपत्र, सॉफ्ट स्किल प्रमाणपत्र, प्रभावी संचार का मनोविज्ञान, योग का मनोविज्ञान व युवाओं का जीवन कौशल नामक वैल्यू-एड कोर्स महज 30 घंटे का होगा। वहीं वैल्यू-एड कोर्स में दाखिला स्नातक प्रथम खंड में दाखिला पूर्ण होने के बाद विभागीय स्तर पर किया जाएगा।

11000 अभ्यर्थियों ने किया आवेदन

काशी विद्यापीठ के स्नातक, स्नातकोत्तर व व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में दाखिले का आवेदन दस मई से ही ऑनलाइन है। आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 मई निर्धारित है। वहीं अब तक 11000 अभ्यर्थियों ने विभिन्न पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए आवेदन कर चुके है ।

आवेदन के लिए छह दिनों का मौका

उदय प्रताप स्वायत्तशासी कॉलेज, हरिश्चंद्र पीजी कॉलेज सहित अन्य महाविद्यालयों में दाखिले के लिए आवेदन करने का अब भी छह दिनों का मौका है । दोनों कॉलेजों के स्नातक, स्नातकोत्तर के विभिन्न पाठ्यक्रमों में दाखिले का आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 मई तक निर्धारित है।

यूपी कॉलेज में स्नातक व स्नातकोत्तर के विभिन्न पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए 5730 अभ्यर्थियों ने अब तक आवेदन किया है। जबकि हरिश्चंद्र पीजी कालेज के स्नातक व स्नातकोत्तर के विभिन्न पाठ्यक्रमों में अब तक करीब 5500 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.