जागरण संवाददाता, वाराणसी : गरीबरथ एक्सप्रेस और जनता एक्सप्रेस व वाराणसी - प्रतापगढ़ अनारक्षित ट्रेन कैंट स्टेशन से बनारस शिफ्ट की जाएगी। डीआरएम सुरेश कुमार सपरा ने बताया कि उक्त ट्रेनें अगले सप्ताह तक बनारस स्टेशन से संचालित होने लगेंगी।

विदित हो कि कैंट स्टेशन (वाराणसी जंक्शन) पर प्रस्तावित यार्ड री- माडलिंग के कार्य को अंतिम रूप देने की कवायद तेज हो गई है। इसके तहत प्लेटफार्म विस्तार और चौड़ीकरण कार्य से पहले मेगा ब्लाक लिया जाएगा। इस अवधि में परिचालन व्यवस्था सुचारु रखने के उद्देश्य से और तीन जोड़ी गाड़ियों को बनारस स्टेशन (मंडुआडीह स्टेशन) स्थानांतरित करने की योजना बनाई गई है। इसके पहले कामायनी एक्सप्रेस सहित कई ट्रेनें कैंट से बनारस स्थानांतरित की जा चुकी हैं।

प्रतापगढ़ रूट की तीन जोड़ी गाड़ियां तीन अक्टूबर तक रहेंगी निरस्त

प्रतापगढ़ स्टेशन पर प्रस्तावित री- माडलिंग कार्य के चलते इस रूट पर संचालित ट्रेनों का परिचालन प्रभावित रहेगा। इसके तहत बनारस स्टेशन ( मंडुआडीह स्टेशन) से बनकर चलने वाली तीन जोड़ी गाड़ियां तीन अक्टूबर तक अस्थाई रूप से निरस्त रहेंगी। पूर्वोत्तर रेलवे वाराणसी मंडल के जनसंपर्क अधिकारी अशोक कुमार ने बताया कि गाड़ी संख्या - 14213 बनारस - बहराइच अनारक्षित 22 सितंबर से निरस्त ट्रेन तीन अक्टूबर तक नहीं चलेगी। गाड़ी संख्या -14214 बहराइच - वाराणसी अनारक्षित ट्रेन 23 सितंबर से चार अक्टूबर तक नहीं चलेगी। गाड़ी संख्या - 15107 बनारस - लखनऊ अनारक्षित ट्रेन और गाड़ी संख्या - 15708 लखनऊ - बनारस अनारक्षित ट्रेन को 22 सितंबर से तीन अक्टूबर तक निरस्त किया गया है। गाड़ी संख्या - 05117/05118 बनारस - प्रतापगढ़ अनारक्षित विशेष ट्रेन 22 सितंबर से बंद है। इसके अलावा गाड़ी संख्या - 18205 दुर्ग - नौतनवा एक्सप्रेस 22 से 29 सितंबर तक परिवर्तित मार्ग छिवकी - जीवनाथपुर - वाराणसी - वाराणसी सिटी के रास्ते चलेगी। वहीं, गाड़ी संख्या - 15127 काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस 24, 29 व 30 सितंबर और तीन अक्टूबर को एक घंटे विलंब से रिशेड्यूल कर चलाई जाएगी।

Edited By: Saurabh Chakravarty