वाराणसी [हिमांशु अस्थाना]। कोरोनावायरस संक्रमण का भय सभी को सता रहा है। रोगी हो या निरोगी सभी इस जानलेवा वायरस को पटकनी देने की जुगत में लगे हैं। वहीं, लॉकडाउन के बीच कोरोना से जंग को सहायक पेय व खाद्य पदार्थों का भी निर्माण तेजी से हो रहा है। इसी कड़ी में आइआइटी, बीएचयू में इंक्यूबेटेड तीन युवा महिला उद्यमी डा. कामिनी सिंह, निशा निरंजन व डा. मणि उप्रेती आगे आईं और औषधिक गुणों से भरपूर तीन उत्पाद यानी मशरूम वाली चाय, स्नैक्स और मोरिंगा टी का निर्माण किया। ऑनलाइन बाजार में उपलब्ध तीनों उत्पाद के बारे में दावा है कि यह प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मददगार है।

पोषक तत्वों से परिपूर्ण

बीएचयू मालवीय नवप्रवर्तन केंद्र के समन्वयक प्रो. पीके  मिश्रा कहते हैं कि रफ्तार परियोजना अंतर्गत कई ऐसे उत्पादों का निर्माण किया गया है, जो कि व्यक्ति के रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में सहायक हैं। यह उसी का हिस्सा है। न्यूट्रितत्व स्टार्टअप की संस्थापक डा. मणि उप्रेती के अनुसार यह स्नैक्स चिया, क्विनोआ, बीज, फल और सब्जियों से बना उच्च प्रोटीन एंटीऑक्सिडेंटजैसे ओमेगा-3, फैटी एसिड, बीटा-कैरोटीनपॉलीफेनोल खनिज आदि के साथ उच्च फाइबर जैसे पोषक तत्वों से परिपूर्ण हैं।

हिमालयी औषधि से बनी चाय

आइआइटी, बीएचयू की इंक्यूबेटी स्टार्टअप वीएन आर्गेनिक की संस्थापक निशा निरंजन ने हिमालयी क्षेत्र में पायी जाने वाली औषधि की मदद से मशरूम वाली चाय बनाई है। इसमें एंटी- बैक्टीरियल, एंटी-वाइरल, एंटी-एजिंग, एंटी-ऑक्सीडेंट, इत्यादि जैसे औषधीय गुण हैं। यह चाय उपापचयी क्रियाओं को बढ़ाता है। शरीर की आतंरिक प्रतिरक्षा प्रणाली और सुदृढ़ हो जाती है।

तीन सौ बीमारियों में है फायदेमंद

जेवीकेएस (जैविक विकास कृषि संस्थान ) एग्रो टेक स्टार्टअप के अंतर्गत मोरिंगा टी का निर्माण किया गया है। इस टी में आवश्यक पोषकतत्व जैसे विटामिन, प्रोटीन, पोटाशियम, मैग्नीशियम कैल्शियम, आयरन इत्यादि उपलब्ध हैं। भरपूर ऊर्जा देने के संग रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाता है। कंपनी की संस्थापक डा. कामिनी सिंह ने बताया कि वायरल, फंगल व जीवाणुजनित सहित लगभग तीन सौ बीमारियों में यह चाय फायदेमंद है।

Edited By: Saurabh Chakravarty