वाराणसी (जेएनएन) । आदमपुर थाना क्षेत्र के कज्जाकपुरा रेलवे क्रासिंग के समीप शुक्रवार की रात दो समुदायों में हुई मारपीट व पथराव के मामले में पुलिस ने पार्षद समेत 21 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। सीसीटीवी फुटेज व प्रत्यक्षदर्शियों से पूछताछ के आधार पर पुलिस कड़ी कार्रवाई की तैयारी में है। उधर, क्षेत्र में तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए अब भी भारी पुलिस बल तैनात कर लोगों की पल-पल की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। कई पुलिसकर्मियों को सादे वेश में भी तैनात किया गया है।

पुलिस के मुताबिक कज्जाकपुरा रेलवे क्रासिंग के समीप एक ई रिक्शा चालक आकर रुका। उसी दौरान पीछे से बाइक सवार दो तीन युवक आए और वे भी रुक गए। उसी दौरान किसी बात को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हो गया। देखते ही देखते दोनों समुदाय में मारपीट होने लगी। सूचना के बाद दोनों ही ओर से कई लोग आ गए और मारपीट के अलावा पथराव करना शुरू कर दिए। हंगामा व पथराव की सूचना पर डीएम सुरेंद्र सिंह, एसएसपी आनंद कुलकर्णी के अलावा एसपी सिटी दिनेश कुमार सिंह ने 18 थानों की पुलिस के साथ मौके पर पहुंच किसी तरह स्थिति को नियंत्रित किया। हालांकि तब तक दोनों पक्षों से आठ लोग घायल हो गए थे। सभी को अस्पताल पहुंचाकर पुलिस ने चक्रमण कर लोगों से शांति की अपील की गई।

देर रात तक स्थिति सामान्य होने के बाद अफसर वापस लौटे। इंस्पेक्टर आदमपुर राजीव सिंह के मुताबिक किरन सोनकर की तहरीर पर पार्षद वकास अंसारी समेत 14 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है जबकि मोइनुद्दीन की तहरीर पर सात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि घटनास्थल के आसपास लगे सीसी फुटेज की मदद से माहौल खराब करने वालों को चिह्नित करने का प्रयास जारी है। दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी जिससे कि भविष्य में इस तरह की गलती की पुनरावृत्ति न हो। 

Posted By: Abhishek Sharma