वाराणसी [रवि पांडेय]। समाज दो तरह के लोगों से चलता है। एक तो वह जो समाज में फैली अव्यवस्थाओं की आलोचना करते हैं और दूसरे वह जो उन अव्यवस्थाओं को ठीक करने का बीड़ा उठाते हैं। जहां लोग सरकारी स्कूलों में बच्चों को पढ़ाना नहीं चाह रहे हैं। ऐसे में नासिरपुर प्राथमिक विद्यालय नजीर बन रहा है। इस विद्यालय को नजीर बनाने में सबसे बड़ा योगदान है यहां की एक कर्मठ शिक्षिका का, जिसने अपने वेतन के पैसों से यहां तमाम व्यवस्थाएं बढ़ाकर स्कूल की काया पलट कर दी।

हम बात कर रहे हैं काशी विद्यापीठ विकास खंड के नासिरपुर स्थित कंपोजिट विद्यालय में सहायक अध्यापिका प्रीति सिंह की। जिनकी क्रिएटिव सोच ने विद्यालय की तस्वीर बदल दी। प्रीति को बच्चों से लगाव और प्रेम ने विद्यालय के बच्चों को बैठने के लिए छह महीने में फर्नीचर की व्यवस्था खुद के पैसे से कर डाली। विद्यालय के 120 बच्चों को बैठने के लिए डेस्क और बेंच का कार्य घर पर ही करवाया और इसके बाद पति अंजनी राय ने तीन बार में ट्रैक्टर से विद्यालय पर पहुंचाया। इस कार्य में इकलौते बेटे और पति ने भरपूर साथ निभाया ।

रचनात्मक सोच वाली प्रीति को स्वच्छता और पर्यावरण से भी प्रेम : सुंदरपुर स्थित बृज इन्क्लेव कालोनी की रहने वाली प्रीति सिंह काशी विद्यापीठ से फाइन आर्ट्स की छात्रा होने के कारण कोरोना काल में विद्यालय की अनुपमा सिंह, रचना राय, अनुपमा पाठक के साथ मिलकर कक्षाओं, कार्यलय और विद्यालय की दीवारों को पेंटिंग से आकर्षक बना दिया। प्रीति की पर्यावरण और स्वच्छता से प्रेम ने सहयोगियों के साथ मिलकर विद्यालय में पौधरोपण और गमले में पौधों को लगाकर हरा भरा कर दिया है। प्रीति ने बताया कि बच्चों को टूटे फर्श पर बैठने में काफी दिक्कत होती थी जिनके बैठने के लिए पति अंजनी राय और एनआईटी से इंजीनियरिंग कर रहे बेटा से राय चर्चा की। कान्वेंट में पढ़े बेटे ने मां को नेक कार्य की शुरुआत के लिए पापा को भी प्रेरित किया।

चोरों और अवांछनीय तत्वों से शिक्षिकायें परेशान : नासिरपुर विद्यालय में अक्सर चोरी और अवांछनीय तत्वों से यहां पढ़ाने वाली शिक्षिकायें काफी परेशान हैं। प्रधानाचार्य नीरजा सिंह ने बताया कि विधायक निधि और सरकारी दो सोलर लाइट की बैट्री चोर खोल ले गए। नलों की टोटी और ट्री गार्ड तक यहां से खोल ले जाते हैं।परिसर में बाहरी लोग गंदगी कर देते हैं। यहां सभी महिला अध्यापिका होने के कारण विरोध भी करने में डर लगता है। नीरजा सिंह ने बताया कि फंड आते ही टूटे हुए फर्श के लिए जल्द ही काम कराया जाएगा।

Edited By: Abhishek Sharma

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट