Move to Jagran APP

कांग्रेस और समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी काे वाराणसी में दी चूड़‍ियां

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के वाराणसी दौरे में कमिश्‍नरी कार्यालय के पास आते समय जहां समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने घेराव किया तो वापसी में कांग्रेस कार्यकर्ताओ ने उनके वाहन को घेर लिया और उनकी गाड़ी के आगे बैठ गए।

By Abhishek SharmaEdited By: Published: Sat, 03 Oct 2020 02:13 PM (IST)Updated: Sat, 03 Oct 2020 04:13 PM (IST)
प्रदर्शन में केंद्रीय मंत्री को याद दिलाया कि निर्भया कांड के वक्त आपने चूड़ी लेकर प्रदर्शन किया था।

वाराणसी, जेएनएन। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के वाराणसी दौरे में कमिश्‍नरी कार्यालय के पास आते समय जहां समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने घेराव किया तो वापसी में कांग्रेस कार्यकर्ताओ ने उनके वाहन को घेर लिया और उनकी गाड़ी के आगे बैठ गए। उन्होंने केंद्रीय मंत्री को याद दिलाया कि निर्भया कांड के वक्त आपने चूड़ी लेकर प्रदर्शन किया था, आरोप लगाया कि आज आपकी सरकार में महिलाओं के साथ दुष्कर्म हो रहा है। दोपहर बाद पुलिस ने केंद्रीय मंत्री स्‍मृमि ईरानी के काफ‍िले के सामने विरोध प्रदर्शन करने वाले कांग्रेस कार्यकर्ता मयंक चौबे, मनीष चौबे, रिषभ पांडेय, प्रिंस राय, दिलीप सोनकर, रोहित चौरसिया, विहान यादव, विश्‍वनाथ कुंवर, कुंवर यादव का धारा 151 में चालान किया है।

वहीं कांग्रेस कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस ने तुरंत ही एक्शन लिया और कांग्रेस कार्यकर्ताओं को काफ‍िले से काफी दूर तक् धकेल दिया। विरोध प्रदर्शन के बीच खास बात यह कि खुफिया विभाग की सूचना के बाद भी पुलिस कांग्रेस कार्यकर्ताओं को केंद्रीय मंत्री के समक्ष आने से रोक नहीं सकी। वहीं, इससे पूर्व सपा की महिला कार्यकर्ताओं ने भी चूड़ी लेकर मंत्री के सामने प्रदर्शन किया। वहीं मंत्री ने सर्किट हाउस में लोगों को बुलाकर वार्ता की। उनके सामने दो मांगे रखी गईं जिसमें महिला उत्पीड़न को रोकने व सोशल मीडिया पर पीड़िता के नाम को उजागर किया जा रहा है उसे रोकने की मांग की गई। इसके बाद उनकी मांगों को पूरा करने का आश्वासन दिया गया।

केंद्रीय मंत्री ने प्रदर्शन का संयम से मुस्‍कुराकर दिया जवाब

एक ओर प्रेस वार्ता से पूर्व सपा की ओर से महिला कार्यकर्ताओं ने केंद्रीय मंत्री का घेराव किया तो दूसरी अोर सर्किट हाउस में कांग्रेस कार्यकर्ताआें ने घेराव कर केंद्रीय मंत्री से महिलाओं के हित के लिए खड़े होने की अपील की। हालांकि केंद्रीय मंत्री ने दोनों ही जगहों पर पार्टी कार्यकर्ताआें से बातचीत कर जल्‍द पीडिता को न्‍याय का भरोसा दिलाया। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से मिलने पहुंची सपा की महिला कार्यकर्ता साथ में चल रहे अधिकारियों के मना करने के बाद भी केंद्रीय मंत्री ने सपा कार्यकर्ताओं को सर्किट हाउस में बिठाने को कहा। इसके बाद उन्‍होंने सपा कार्यकर्ताओंं से मुलाकाम भी की। एक महिला सपा कार्यकर्ता ने बातचीत में कहा कि बनारस की जनता लालची है उसने लालच में मोदी जी को जिता दिया। इस पर स्मृति ईरानी ने तुरंत कहा कि दुनिया भर में काशी का एक गौरव है वहां की जनता को लालची कहना ठीक नहीं। इस पर वह सपा कार्यकर्ता चुप हो गई। जब वह सड़क पर कार से जा रही थीं तो कुछ कांग्रेस कार्यकर्ता प्रदर्शन कर रहे थे, उन्हें चूड़ी भेंट करना चाहते थे। इस दौरान स्मृति ईरानी ने कार की खिड़की का शीशा खोला और उनसे चूड़ी ले ली कहा कि जब 'हमारे लिए चूड़ी लेकर आई हैं और लोग आए हैं तो मुझे क्यों नहीं लेना चाहिए'।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.