आजमगढ़, जागरण संवाददाता। लोकसभा उपचुनाव में बसपा की ओर से शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली सुबह से ही मतगणना स्‍थल पर काउंटिंक के दौरान मौजूद रहे। एक बार वह भाजपा उम्‍मीदवार को तीसरे स्‍थान पर भेजकर सपा के बाद दूसरे स्‍थान पर जा पहुंचे थे। लेकिन दोपहर बाद तक पहले और दूसरे स्‍थान से इतर काफी देर तक तीसरे स्‍थान पर बने रहने के बाद निराश नजर आए और वापस हो गए। इस दौरान उनके समर्थक भी काफी हताश नजर आए। दरअसल यहां से बसपा की ओर से वह सबसे पहले प्रत्‍याशी घोषित किए गए थे। इसके बाद से ही वह क्षेत्र में चुनाव प्रचार करने के बाद भी चुनाव में दमदारी से लड़ने के बाद भी जीत नहीं सके।  

दोपहर दो बजे गुड्डू जमाली वापस : बसपा प्रत्याशी शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली चेहरा झुकाए मतगणना स्थल से बाहर निकल गए। वह सुबह से मतगणना स्‍थल पर डटे रहे। संभवत: नाउम्मीद होने पर बाहर निकल गए। हालांकि उन्होंने बात करने की कोशिश पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। मतगणना स्थल पर भाजपा के दिनेश लाल यादव गए ही नहीं, धर्मेंद्र सुबह कुछ देर रहने के बाद यह कहकर लौट आए कि ऊपर के नेताओं को यहां की स्थिति के बारे में जानकारी दूंगा। हालांकि, वह जीत का दम भरकर मतगणना स्थल से निकले थे।

कौन हैं शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली : बसपा प्रत्याशी शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली के पास एक अरब, 59 करोड़, 24 लाख, 31 हजार, 542 रुपये के सचल व अचल संपत्ति की मालिक हैं। जबकि इनकी पत्नी शाहीन शाह आलम 31 करोड़, 89 लाख, 85 हजार, 655 रुपये चल व अचल संपत्ति की मालकिन हैं। इनके के पास क्वालिस टाएटा गाड़ी है। पिस्टल व राइफल के शौकीन हैं तो एक लाख, 72 हजार, 500 रुपये के अन्य मूल्यवान वस्तु है। जबकि इनकी पत्नी 62.50 ग्राम सोना, 5.50 किलाे चांदी और 1.50 लाख रुपये के अन्य मूल्यवान वस्तु रखीं हैं। शहर कोतवाली के बाजबहादुर माेहल्ला निवासी जमाली ने 1995 में न्यू पोर्ट यूनिवर्सिटी कैलीफोनैिया से संबद्ध माडर्न इंस्टीट्यूट आफ नई दिल्ली एमबीए किया।

Edited By: Abhishek Sharma