वाराणसी (जेएनएन)। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता तथा पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी ने कल रात देव दीपावली का आनंद लेने के बाद आज सुबह-ए बनारस का लुत्फ उठाया। लालकृष्ण आडवाणी से कल रात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में अपना 90वां जन्मदिन के पहले का कार्यक्रम भी मनाया था। 

 

भारतीय जनता पार्टी के मार्गदर्शक मंडल के सदस्य वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी ने सुबह-ए बनारस का पूरा लुत्फ लिया। पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी की बरसों की मुराद उस वक्त पूरी हो गई जब वह सुबह-ए-बनारस का नजारा लेने भैंसासुर घाट पहुंचे। इसकी तैयारी उन्होंने कल ही कर ली थी। उन्होंने आज सूर्योदय का समय भी पता किया।

 

ठीक उसी समय वह भैंसासुर घाट पर पहुंच गए। उन्हें एक समाचार पत्र के कार्यालय से दूरभाष पर सूचना प्राप्त कर यह बताया गया कि आज सूर्योदय सुबह छह बजकर आठ मिनट पर तथा सूर्यास्त सायं पांच बजकर 15 मिनट पर होगा। सूर्योदय का समय जानने के बाद आडवाणी ने रविवार को सुबह-ए-बनारस का नजारा देखने के प्रति अपनी दिलचस्पी दिखाई।

 

आठ नवम्बर को उनका 90 जन्मदिन होगा। भाजपा के दिग्गज नेता कल शाम देव दीपावली का नजारा लेने गंगा तट पर पहुंचे थे जहां उन्हें देवों के स्वागत में दीपों की कालीन बिछी दिखी। अपनी चटखीली रंगत से उत्सव प्रिय बनारस के दिल में उतर जाने वाला देवदीपावली महाउत्सव देख आडवाणी विभोर हो गए। दीप उत्सव की गहरी और शोख रंगत ने बुजुर्ग आडवाणी को खूब रिझाया।

 

महा उत्सव का आनंद लेने के लिए आडवाणी जब मोटरबोट पर सवार हुए तो गंगा तट के प्राचीन इमारतों, मंदिरों व भवनों को जानने के प्रति उनकी जिज्ञासा बढ़ती चली गई। आडवाणी ने लोकोत्सव बनने को आतुर देव दीपावली के साथ काशी के अन्य विविध उत्सवों को भी जानने की कोशिश की। 

यह भी पढ़ें: संवादी में आज के पहले सत्र का आकर्षण रहेंगे सीएम योगी आदित्यनाथ

 

आडवाणी ने कल गंगा आरती को कहा कि अद्भुत। कल शाम लगभग दो घंटे से अधिक समय तक मोटरबोट की सवारी की। सायं छह बजे भैंसासुर घाट से मोटरबोट पर सवार होने के बाद अस्सी घाट तक की यात्र की। दशाश्वमेध घाट पर आडवाणी ने गंगा की महाआरती का आनंद लिया। उनके साथ रहीं उनकी पुत्री प्रतिभा बोलीं, दादू वेरी प्रीटी। इस पर बुजुर्ग नेता ने कहा-अद्भुात..बहुत सुदंर।

यह भी पढ़ें: आगरा एक्सप्रेस-वे पर कार पलटने से लगी आग, छह लोगों की मौत 

 

घाट पर सजाई रंगोली: लालकृष्ण आडवाणी के सम्मान में भैंसासुर व खिड़किया घाट पर रंगोली सजाई गई थी जिस पर लिखा था ''श्री एलके आडवाणी..90 इयर्स"। आडवाणी ने कई दीप जलाए। उनका हर-हर महादेव से स्वागत किया गया।

उनके साथ सतुआ बाबा महामंडलेश्वर संतोष दास, पुत्री प्रतिभा, निजी सहायक दीपक चोपड़ा, भाजपा राष्ट्रीय कार्यसमिति के सदस्य अशोक धवन, हर्षपाल कपूर, प्रदीप अग्रहरि के साथ एक दर्जन लोग थे। 

देवदीपावली पर अपना 90 वां जन्म दिन मनाने के बाद वरिष्ठ भाजपा नेता लाल कृष्ण आडवाणी बाबा विश्वनाथ दरबार पूजन के लिए पहुंचे। विश्वनाथ मंदिर पहुचे भाजपा के दिग्गज नेता संग उनकी बेटी प्रतिभा आडवाणी भी मौजूद थीं। 

बाबा दरबार में षोडशोपचार दर्शन पूजन के दौरान मंदिर अर्चक डॉ श्रीकांत मिश्र ने पूजन करवाया। दर्शन के दौरान आडवाणी ने पूरे मंदिर प्रांगण को बड़े ही ध्यान से देखा और शांत भाव से बाबा दर्शन किया, इस दौरान मंदिर प्रशासन की ओर से श्रीकांत ने अंग वस्त्र भेट किया। मंदिर से निकलने के बाद छत्ताद्वार पर मौजूद लोगों ने महादेव का नारा लगाया तो आडवाणी ने हाथ जोड़ कर सभी का अभिवादन भी किया। 

Posted By: Dharmendra Pandey