सुलतानपुर (जेएनएन)। जनवादी महिला समिति की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष तथा पूर्व सांसद सुभाषिनी अली को पुलिस का विरोध करने के कारण गिरफ्तार किया गया। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अभद्र टिप्पणी करने के बाद भाजपा को दोबारा सत्ता में आने के लिए अपनी पार्टी की तरफ से पूरा प्रयास करने की घोषणा की।

सुलतानपुर में बीते दिनों दो युवकों की हत्या के बाद राहुल नगर में दो वामपंथी नेताओं की मूर्तियों को भीड़ ने तोड़ डाला था। आज उन दोनों की मूर्ति की फिर से स्थापना के कार्यक्रम में सुभाषिनी अली आई थीं। इस दौरान पुलिस ने उनको राहुल नगर जाने से रोका। इससे नाराज होकर वह सड़क पर बैठ गई। पुलिस ने उनको वहां से गिरफ्तार कर लोक निर्माण विभाग के गेस्ट हाउस में भेजा।

वहां पर मीडिया से उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी से घटिया प्रधानमंत्री देश को नहीं मिला है। वह तो इस बड़े पद के लायक हैं ही नहीं। अब दोबारा मोदी को किसी भी कीमत पर हम प्रधानमंत्री नहीं बनने देंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा को दोबारा सत्ता में आने से रोकने के लिए सभी दल को एक होना पड़ेगा। उन्होंने वामदलों के कांग्रेस के साथ किसी भी कीमत पर समझौता नहीं करने के साथ ही कहा कि देश को पीछे ढकेलने के कांग्रेस की भी बड़ी भूमिका रही है।

जनवादी महिला समिति की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व सांसद सुभाषिनी अली सहगल ने महागठबंधन पर कहा कि यह सिर्फ मीडिया में ही बन रहा है। उन्होंने कहा कि विपक्षी दल को पहले भाजपा को रोकने को लेकर गंभीर होना पड़ेगा। वामदल के साथ सभी को बैठकर योजना बनानी होगी। माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी की नेता सुभाषिनी अली इससे पहले एक दुष्कर्म पीडि़ता की तस्वीर सार्वजनिक करने के कारण चर्चा में आईं थीं। 

Posted By: Dharmendra Pandey