Move to Jagran APP

Sultanpur News: लखनऊ-वाराणसी हाईवे पर तेज रफ्तार स्कार्पियो ने बाइक सवार मेजर दंपती को रौंदा, मौत; बाल-बाल बचा साइकिल सवार

लखनऊ-बलिया मार्ग से जा रही तेज रफ्तार स्कार्पियो अनियंत्रित होकर डिवाइडर तोड़ते हुए दूसरी तरफ से आ रहे बाइक सवार दंपति को रौंद दिया। इसके बाद स्कार्पियो छोड़कर चालक समेत अन्य लोग मौके से फरार हो गए। दुर्घटना इतनी भीषण थी कि बाइक सवारों की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। उधर दुर्घटना की जद में आकर साइकिल सवार कृष्ण प्रसाद भी गंभीर रूप से घायल होने से बाल-बाल...

By Jagran News Edited By: Riya Pandey Published: Sun, 09 Jun 2024 03:59 PM (IST)Updated: Sun, 09 Jun 2024 03:59 PM (IST)
लखनऊ-वाराणसी हाईवे पर तेज रफ्तार स्कार्पियो ने बाइक सवार मेजर दंपती को रौंदा

संवाद सूत्र, सुलतानपुर। Road Accident News: लखनऊ-वाराणसी राजमार्ग पर अमहट चौराहे के पास स्कार्पियो की टक्कर से बाइक सवार दंपति की मौके पर ही मौत हो गई। मृतकों की पहचान पीटीएस (पुलिस प्रशिक्षण विद्यालय) अमहट में मेजर के पद पर तैनात राम केवल व उनकी पत्नी रीता के रूप में हुई है। वे मऊ जिले के रहने वाले थे। नगर काेतवाल श्रीराम पांडेय ने बताया कि स्कार्पियो पुलिस के कब्जे में है और चालक की तलाश की जा रही है।

दुर्घटना रविवार की सुबह उस समय हुई, जब लखनऊ-बलिया मार्ग से जा रही तेज रफ्तार स्कार्पियो अनियंत्रित होकर डिवाइडर तोड़ते हुए दूसरी तरफ से आ रहे बाइक सवार दंपति को रौंद दिया। इसके बाद स्कार्पियो छोड़कर चालक समेत अन्य लोग मौके से फरार हो गए। दुर्घटना इतनी भीषण थी कि बाइक सवारों की घटना स्थल पर ही मौत हो गई।

उधर, दुर्घटना की जद में आकर साइकिल सवार लौहरपश्चिम धम्मौर के कृष्ण प्रसाद यादव भी गंभीर रूप से घायल होने से बाल-बाल बच गए। उन्हें हल्की खरोचें आई हैं। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार रविवार का दिन और भीषण गर्मी की वजह से सड़क खाली थी। नहीं तो दुर्घटना की चपेट में और लोगों के आने से इनकार नहीं किया जा सकता था।

मऊ जिले के रहने वाले थे मेजर

मेजर राम केवल मऊ जिले के घोसी थाना के रसड़ी सरायगनेश गांव के रहने वाले थे। वर्तमान में वे रायबरेली जिले के पीएसी कालोनी में परिवार समेत रहते थे। मेजर के दो बेटे सर्वेश और अभिषेक तथा एक बेटी श्वेता हैं।

घरेलू सामान की खरीदारी के लिए शहर आ रहे थे मेजर

पुलिस अधीक्षक (प्रशिक्षण) ब्रजेश मिश्र ने बताया कि मेजर बहुत ही शांत व कर्तव्यनिष्ठ पुलिस कर्मी थे। सुबह परेड के बाद वे पत्नी के साथ शहर खरीदारी के लिए निकले थे। लगभग 15 मिनट बाद ही दु:खद हादसे की खबर आ गई। एसपी मिश्र ने कहा कि जल्द ही उनके परिवारजन को उनके समस्त देयकों आदि का भुगतान कराया जाएगा।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.