Move to Jagran APP

Ration Shop: राशन की दुकानों में कुछ इस तरह से हो रही थी घटतौली, अब आपूर्ति निरीक्षक ने दिया ये आदेश

उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती जिले के जमुनहा तहसील क्षेत्र में कोटे की दुकान पर घटतौली रुकने का नाम नहीं ले रही है। आनलाइन कांटे से केवल राशन खारिज किया जाता है। उपभोक्ताओं को राशन दूसरे कांटे से दिया जाता है। इसके चलते जगह-जगह कोटेदार व उपभोक्ताओं में विवाद होता रहता है। जमुनहा ब्लाक के बनकटवा महोली गांव में घटतौली को लेकर ग्रामीणों ने एसडीएम से शिकायत की है।

By Bhoopendra Pandey Edited By: Abhishek Pandey Fri, 12 Apr 2024 06:48 PM (IST)
कोटे की दुकानों पर नहीं रुक रही घटतौली

संवाद सूत्र, जमुनहा(श्रावस्ती)। उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती जिले के जमुनहा तहसील क्षेत्र में कोटे की दुकान पर घटतौली रुकने का नाम नहीं ले रही है। आनलाइन कांटे से केवल राशन खारिज किया जाता है। उपभोक्ताओं को राशन दूसरे कांटे से दिया जाता है। इसके चलते जगह-जगह कोटेदार व उपभोक्ताओं में विवाद होता रहता है।

जमुनहा ब्लाक के बनकटवा महोली गांव में घटतौली को लेकर ग्रामीणों ने एसडीएम से शिकायत की है। शासन की ओर से कोटे की दुकान पर घटतौली रोकने के लिए आनलाइन कांटे की व्यवस्था की गई है। यह कांटा ई-पाश मशीन से लिंक है।

उपभोक्ता के कार्ड पर दर्ज यूनिट के अनुसार राशन कांटे पर रखने पर ही ई-पाश मशीन पर अंगूठा स्वीकार करता है, लेकिन कोटेदार आनलाइन कांटे से केवल राशन खारिज करते हैं। उपभोक्ता को दूसरे कांटे पर राशन तौल कर देते हैं। इसमें प्रति यूनिट 500 ग्राम राशन कम देते हैं।

मारपीट पर उतारू कोटेदार

जमुनहा ब्लाक के बनकटवा महोली के उपभोक्ताओं ने बताया कि राशन घटतौली का विरोध करने पर कोटेदार मारपीट पर उतारू हो जाते हैं। कमरुद्दीन, दिलशाद, जुमई समेत अन्य उपभोक्ताओं ने एसडीएम को तहरीर देकर राशन घटतौली रोकवाने व कोटेदार पर कार्रवाई की मांग की है।

इसी प्रकार भिठिया चिचड़ी, चौगोई, रानीसीर चिरैया, फतुहापुर समेत कई गांव में घटतौली के विरोध में ग्रामीण हंगामा कर चुके हैं, लेकिन जिम्मेदार खामोश है। आपूर्ति निरीक्षक श्याम नाथ ने बताया कि शिकायत मिली है। टीम गठित कर जांच की जाएगी। कमी मिली तो कोटेदार पर कार्रवाई होगी।

इसे भी पढ़ें: धर्मेंद्र यादव व निरहुआ के खिलाफ बसपा की खास रणनीति, मायावती के इस करीबी को आजमगढ़ से दिया टिकट