कैराना: कैराना में एक के बाद एक आपत्तिजनक पोस्ट वायरल होने का सिलसिला जारी है। मस्जिद-मदरसों में आपत्तिजनक पर्चे बांटे गए, वहीं कैराना के ही एक युवक ने उन्हें फेसबुक पोस्ट कर दिया। इसके बाद यह वायरल हो रहा है। पर्चो में बहुसंख्यक समाज व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अशोभनीय शब्दों का प्रयोग किया गया। पर्चे बंटने व सोशल साइट पर उन्हें पोस्ट करने से नगर में तनाव का माहौल है।

¨झझाना में शुक्रवार को आपत्तिजनक पर्चे मोहल्लों में बांटे गए थे। इसके बाद शनिवार को कैराना भी ये पर्चे नगर के अधिकतर मदरसों और मस्जिदों में बांटे गए। पर्चे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अभद्र शब्दों का प्रयोग कर बेहद अशोभनीय टिप्पणी की गई है। बहुसंख्यक समुदाय के लोगों पर भी सीधे तौर पर निशाना साधा गया है। देश में कत्ल आदि अपराधों का जिक्र करते हुए विशेष समुदाय पर जुल्म ढ़ाने का आरोप लगाया गया है। गाय का जिक्र कर भड़काने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। यह पर्चे किसकी ओर से और कौन बांट रहा है? यह पता नहीं चल पाया है। पर्चे पर पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया न्यू दिल्ली का नाम भी छापा गया है। कैराना के एक युवक ने इन पर्चे को अपनी फेसबुक आइडी पर पोस्ट कर दिया है। यह युवक कस्बे का झोलाछाप डॉक्टर बताया जा रहा है। इस पोस्ट पर अब लोग भड़काऊ कमेंट कर रहे हैं। एक युवक ने तो यहां तक लिखा कि बहुत सब्र हो चुका है, इतना सब्र होता नहीं, चुप्पी तोड़नी पड़ेगी अब। इसे लेकर बहुसंख्यक समुदाय के लोगों में भारी आक्रोश है। बताया जाता है कि इस मामले पर उच्च अधिकारी नजर बनाए हुए हैं।

कोतवाली प्रभारी धर्मेंद्र ¨सह पंवार का कहना है कि आपत्तिजनक पर्चे छापने वाली ¨प्रटिग प्रेस की जांच कराई जाएगी। पर्चे छपवाकर उन्हें बांटनेवालों को कतई बख्शा नहीं जाएगा। जो लोग पर्चो को सोशल मीडिया पर पोस्ट व शेयर कर रहे हैं, उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

By Jagran