वाटर मैनेजमेंट में डीएम सम्भल को मिली उपलब्धि

जागरण संवाददाता, सम्भल : अपने कार्य से इतर समाज के लिए कुछ कर गुजरने वाले भी कम नहीं हैं। ऐसे लोग तथा संस्थाओं का सम्मान करने के लिए स्कोच अवार्ड के जरिए एक शुरूआत वर्ष 2003 में की गई। अब इस अवार्ड से देश के जाने माने राजनीतिज्ञ, समाज सेवी, पर्यावरणविद, शिक्षाविद् सम्मानित हो चुके हैं। इसी कड़ी में सम्भल के डीएम अविनाश कृष्ण सिंह भी वर्ष 2020 के सेमी फाइनलिस्ट बने। इन्हें इस आशय का प्रमाण पत्र भी चेयरमैन समीर कोचर द्वारा जारी किया गया है।

आइएएस अविनाश कृष्ण सिंह को यह अवार्ड वाटर मैनेजमेंट को लेकर किए गए उनके प्रयास पर मिला है। उन्होंने सम्भल में अपने प्रशासनिक दायित्व से अलग हटकर कई ऐसे कार्य किए जो आम जन, ग्रामीण क्षेत्र के लोगों के पेयजल की दुश्वारियों को कम करने वाली थी। बबराला में निजी संस्थाओं की मदद से आरओ प्लांट की पहल हो या वाटर कूलर। गंगा नदी को बबराला में साफ सुथरा बनवाकर वहां घाट का निर्माण और गंगा आरती, विलुप्त की स्थिति में पहुंच चुकी सोत नदी को पुनर्जीवन व बरसात का पानी रोककर इसे प्रवाहवान बनाना प्रमुख रहा। डीएम सम्भल अविनाश कृष्ण सिंह ने कहा कि वर्ष 2003 में यह अवार्ड देना शुरू किया गया था। इसके जरिए भारत को सशक्त और मजबूत राष्ट्र बनाने के लिए उस संस्था, व्यक्ति का सम्मान करना था जिसने लीक से हटकर कुछ अलग किया हो।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस