सहारनपुर, जागरण संवाददाता। इमरान मसूद के बसपा में शामिल होने के बाद अब सपा को एक और बड़ा झटका लगने जा रहा है। उप्र विधानसभा चुनाव में भाजपा छोड़ साइकिल पर सवार होने वाले पूर्व आयुष राज्य मंत्री डा. धर्म सिंह सैनी अब फिर भाजपा का दामन थामेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की खतौली में होने वाली जनसभा में वह भाजपा के मंच से उपचुनाव में कमल खिलाने का आह्वान करेंगे। यह पटकथा खुद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चौ. भूपेंद्र सिंह ने तैयार की है। भाजपा ने सैनी मतों को लुभाने के लिए बड़ा दांव चला है। 

पिछले विधानसभा चुनाव में बदला था पाला 

पिछले विधानसभा चुनाव की घोषणा के बाद प्रदेश की राजनीति में दलबदल का खेल शुरू हो गया था। तत्कालीन आयुष राज्य मंत्री डा. धर्म सिंह सैनी ने भाजपा को अलविदा कहते हुए सपा को ज्वाइन कर लिया था, हालांकि डा. धर्म सिंह सैनी का सपा में जाने का दांव उल्टा पड़ा। उन्हें 315 मतों के अंतर से हार का सामना करना पड़ा। इस हार से उनका 20 साल का अजेय किला ढह गया। वह नकुड़ सीट से लगातार चार बार विधायक चुने गए थे, लेकिन भाजपा छोड़ने का बड़ा नुकसान उठा बैठे। 

लगातार हाशिए पर थे सपा में 

वह सपा में भी लगातार हाशिए पर थे। सपा के मंचों से नदारद रहने की वजह से उनके भाजपा में शामिल होने की चर्चा बढ़ती गई। वो भाजपा प्रदेश नेतृत्व के संपर्क में थे। चौ. भूपेंद सिंह के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद से उनके प्रयासों में तेजी आई और इसी बीच खतौली उपचुनाव भी आ गए। यहां सैनी वोटों की बड़ी संख्या है। अब खतौली में सीएम योगी के सामने उनकी भाजपा में वापसी तय मानी जा रही है।

आयुष कालेजों में दाखिले में भूमिका को लेकर उठाए गए थे सवाल

पिछले दिनों उप्र के आयुष कालेजों में बिना नीट परीक्षा उत्तीर्ण किए 891 छात्र-छात्राओं को प्रवेश देने के मामले में डा. धर्म सिंह सैनी की भूमिका को लेकर सवाल उठाए गए थे। तब उन्होंने कहा था कि इस प्रकरण से उनका कोई सरोकार नहीं है। काउंसिलिंग से पूर्व ही उन्होंने भाजपा से इस्तीफा देकर सपा ज्वाइन कर ली थी। 

अब नई भूमिका क्या 

सहारनपुर की राजनीति में डा. धर्म सिंह सैनी की भाजपा में वापसी को लेकर सुगबुगाहट तेज है। यह जिज्ञासा भी आम लोगों में है कि भाजपा में वापस आ रहे डा. धर्म सिंह सैनी की भूमिका क्या होगी। 

Edited By: Parveen Vashishta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट