रायबरेली, जागरण संवाददाता। भदोखर के पूरे निकासू मजरे बेलाभेला गांव में रविवार की सुबह युवक का शव पेड़ पर लटका मिला था। प्रारंभिक सूचना पर पुलिस ने उसका पोस्टमार्टम कराया। रिपोर्ट में गला दबाकर हत्या किए जाने की पुष्टि हुई तो आनन-फानन पुलिस ने मामला पंजीकृत किया। चौंकाने वाली बात ये है कि हत्या का मुख्य आरोपित शनिवार की शाम से ही लापता है।

उक्त गांव निवासी रामकेश और संदीप में मित्रता थी। शनिवार की शाम दोनों एक साथ घर से निकले थे। देर शाम रामकेश तो घर लौट आया, लेकिन संदीप का कहीं पता नहीं चला। संदीप की मां शिवरानी ने भदोखर थाने में उसी शाम गुमशुदगी दर्ज करा दी। रात में रामकेश अपने घर पर ही था, लेकिन रविवार की सुबह उसका शव गांव से करीब 500 मीटर दूर बबूल के पेड़ से लटका मिला।

मृतक के प‍िता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज

पहले पुलिस इस घटना को खुदकुशी मान रही थी, लेकिन सोमवार को जब रामकेश की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई तो पुलिस अधिकारी अचंभित हो गए। एसपी आलोक प्रियदर्शी और सीओ सिटी वंदना सिंह पूरे निकासू मजरे बेलाभेला पहुंचे और घटना की जांच की। रामकेश के पिता राजाराम की तहरीर पर संदीप और उसकी मां शिवरानी के खिलाफ हत्या का मामला पंजीकृत किया गया। शिवरानी घर पर मौजूद थीं, जिनसें पुलिस अधिकारियों ने पूछताछ की। पुलिस को इस मामले में अब तक कोई महत्वपूर्ण लीड हाथ नहीं लगी है।

25 दिसंबर को हुआ था झगड़ा

संदीप और रामकेश के परिवार वालों के बीच 25 दिसंबर को मामूली बात पर झगड़ा हो गया था। बावजूद इसके, संदीप और रामकेश की मित्रता बनी रही। वे शनिवार को साथ निकले, उसके बाद क्या हुआ, ये बताने वाला अभी कोई नहीं मिला है।

पोस्‍टमार्टम र‍िपोर्ट में गला दबाने की पुष्‍ट‍ि 

रामकेश की गला दबाकर हत्या की गई, ऐसा पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला है। दो लोगों के खिलाफ नामजद मामला पंजीकृत है, जिसमें से एक वारदात के पहले से ही गुमशुदा है। तहकीकात की जा रही है, जल्द ही हत्यारोपितों को पकड़ लिया जाएगा।   -वंदना सिंह, क्षेत्राधिकारी नगर 

Edited By: Anurag Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट