Move to Jagran APP

यूपी के गांवों में अब लगेगा वाटर टैक्स, जल विभाग ने जारी किया आदेश

जल जीवन मिशन के तहत उत्तर प्रदेश के तमाम गांवों में पानी की टंकियां लगाई जा रही हैं। टंकी लगाने के बाद ग्रामीणों को वाटर कनेक्शन दिया जाएगा। लेकिन ग्रामीणों को पानी के लिए प्रति माह शुल्क चुकाना होगा। जिन गांवों में नई पानी की टंकियां लगाई गईं हैं वहां कनेक्शन पर प्रति माह 50 रुपये का जल कर देना होगा।

By GYANENDRA SINGH1 Edited By: Abhishek Pandey Tue, 09 Jul 2024 04:14 PM (IST)
यूपी के गांवों में अब लगेगा वाटर टैक्स

जागरण संवाददाता, प्रयागराज। ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले परिवारों को अब पानी का टैक्स देना होगा। जल जीवन मिशन (ग्रामीण) के तहत जिन गांवों में पानी की टंकियां लगाई जा रही हैं, उन गांवों में ग्रामीणों से जलकर भी वसूला जाएगा। टंकी लगने के बाद ग्रामीणों को पानी का कनेक्शन दिया जाएगा।

ग्राम पंचायतों से अनुबंध

यह टैक्स गांवों में ग्राम पंचायतें ग्रामीणों से वसूलेंगी। ग्राम पंचायतों से इसके लिए अनुबंध भी करवाए जा रहे हैं। अभी अधिकतर ग्राम पंचायतें किसी प्रकार का टैक्स वसूली नहीं करतीं, इससे पंचायतों में आर्थिक संकट रहता है। जलकर से पानी की टंकी व पाइप की मरम्मत होगी। वाटर टैक्स के स्लैब निर्धारित कर दिए गए हैं। सबसे कम वसूली उन परिवारों से होगी जिनके घर में कनेक्शन नहीं हैं और वे सरकारी नल से पानी भरते हैं।

घरेलू नल कनेक्शन पर मात्र 50 रुपये प्रति माह जल कर देना होगा। जल निगम के अधिशासी अभियंता प्रवीण कुमार कुट्टी ने बताया कि ज्यादातर गांवों में पानी की टंकियां स्थापित हो गई हैं। कुछ गांवों में टंकियों को ग्राम पंचायत को हैंडओवर भी कर दिया गया है। ग्राम पंचायत ही जल कर वसूल करेगी और टंकियों का देखभाल करेगी। बड़े मरम्मत कार्य कार्यदायी संस्था कराएगी और छोटे-हल्के कार्य ग्राम पंचायत ही कराएगी।

इसे भी पढ़ें: यूपी के कई गांवों में आई बाढ़, पानी में बहा 11 वर्षीय बालक; नाले में मिला शव