Move to Jagran APP

फूलपुर में बिना भाषण दिए लौटे राहुल-अखिलेश, सीएम योगी ने ली चुटकी; कहा- अब तो लोग इन्हें...

फूलपुर और इलाहाबाद संसदीय क्षेत्र में राहुल गांधी व अखिलेश यादव की संयुक्त जनसभा के दौरान उन्हें सुनने आई भीड़ बेकाबू हो गई। मंच तक पहुंचने के लिए समर्थकों ने सुरक्षा घेरा तोड़ दिया। फूलपुर के पड़िला में तो जनसभा इस कदर अव्यस्था की भेंट चढ़ी कि दोनों नेताओं को बिना संबोधन के ही लौटना पड़ा। यहां अफरातफरी में माइक का तार ही टूट गया।

By Jagran News Edited By: Abhishek Pandey Published: Mon, 20 May 2024 07:44 AM (IST)Updated: Mon, 20 May 2024 07:44 AM (IST)
फूलपुर में बिना भाषण दिए लौटे राहुल-अखिलेश, सीएम योगी ने ली चुटकी; कहा- अब तो लोग इन्हें...

जागरण संवाददाता, प्रयागराज। फूलपुर और इलाहाबाद संसदीय क्षेत्र में राहुल गांधी व अखिलेश यादव की संयुक्त जनसभा के दौरान उन्हें सुनने आई भीड़ बेकाबू हो गई। मंच तक पहुंचने के लिए समर्थकों ने सुरक्षा घेरा तोड़ दिया।

फूलपुर के पड़िला में तो जनसभा इस कदर अव्यस्था की भेंट चढ़ी कि दोनों नेताओं को बिना संबोधन के ही लौटना पड़ा। यहां अफरातफरी में माइक का तार ही टूट गया। इलाहाबाद के करछना की सभा में समर्थकों ने सुरक्षा घेरा तोड़ दिया। हालांकि, यहां दोनों नेताओं ने सभा को संबोधित किया। इस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चुटकी ली।

बेकाबू हो मंच तक पहुंची भीड़

फूलपुर में रविवार को करीब दोपहर डेढ़ बजे दोनों नेता अलग-अलग हेलीकाप्टर से पहुंचे थे। दोनों के मंच पर पहुंचते ही समर्थक बेकाबू हो गए। सुरक्षा घेरा तोड़ दिया। मंच की ओर बढ़ने लगे। पुलिस ने रोकने की कोशिश की तो धक्का-मुक्की की, कुछ को मामूली चोट भी आई।

पुलिस ने लाठी फटकारी, लेकिन अति उत्साही समर्थकों ने एक न सुनी। मंच के करीब पहुंचकर नेताओं के समर्थन में नारेबाजी करने लगे। कई लोग मंच पर चढ़ गए। पहले अखिलेश और फिर राहुल ने समर्थकों को समझाने की कोशिश की, लेकिन समर्थकों की धक्का-मुक्की में माइक और बिजली के तार टूट गए। नहीं मानने और अव्यवस्था से खिन्न नेताद्वय मंच पर ही बैठकर आपस में बात किए और फिर बिना भाषण दिए चले गए।

सपा से अमरनाथ मौर्या हैं प्रत्याशी

प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की सीट रही फूलपुर लोकसभा से इस बार सपा से अमरनाथ मौर्या प्रत्याशी हैं जबकि इलाहाबाद से कांग्रेस के उज्ज्वल रमण सिंह मैदान में हैं। संबोधन न होने से 44 डिग्री तापमान के बीच रैली में जुटे लोग मायूस व असंतुष्ट होकर घर लौटे।

बहरिया से आई महिलाओं की टोली ने कहा कि हम पचे तो राहुल को सुनै आइ रहेन, लेकिन कौनौ बोलबै न भवा।

इस हंगामे पर चुटकी लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पड़िला की जनसभा में दो लड़के आए थे भाषण देने, लेकिन पता चला कि वहां लोग ही नहीं थे। अब तो लोग भी इन्हें सुनना नहीं चाहते हैं। बिना संबोधन के ही लौट गए। योगी भी रविवार को सभा के लिए प्रयागराज में थे। प्रत्याशी ने प्रसाशन पर फोड़ा ठीकरा जनसभा में हुई अव्यवस्था का ठीकरा सपाइयों ने प्रशासन पर फोड़ा है।

रविवार शाम जिला कार्यालय में प्रेसवार्ता कर फूलपुर से सपा प्रत्याशी अमरनाथ सिंह मौर्य ने कहा कि दोनों नेताओं की सुरक्षा को लेकर प्रशासन ने कोई व्यवस्था नहीं की थी। जनसभा में अपार भीड़ थी, बावजूद इसके चंद पुलिसकर्मी ही लगाए गए थे।

अव्यवस्था को लेकर डीसीपी गंगानगर अभिषेक भारती का कहना है कि एक दिन पहले सपा व कांग्रेस के जिलाध्यक्ष के साथ बैठक हुई थी। इसमें जनसभा स्थल के लिए जो मानक तय हुए थे, उसकी पूर्ति आयोजकों द्वारा नहीं की गई थी। पुलिसकर्मियों को पर्याप्त संख्या में लगाया गया था।

राहुल-अखिलेश ने बातचीत का वीडियो कराया प्रसारित

जनसभा में माइक खराब हो जाने के कारण राहुल गांधी और अखिलेश सिंह यादव मंच पर ही आमने-सामने कुर्सी पर बैठ गए। इस दौरान दोनों ने आपस में संवाद स्थापित करते हुए उसका वीडियो बनवाया, जिसे बाद में इंटरनेट मीडिया पर प्रसारित करा दिया। दोनों बाकायदा चुनावी परिचर्चा की।

इंडी गठबंधन के एजेंडा से लेकर भाजपा पर तंज भी कसा। राहुल गांधी ने अपनी घोषणाओं को इस माध्यम से आमजन तक पहुंचाने की कोशिश की। इस दौरान गीत भी प्रसारित किया गया। हेलीकॉप्टर में बैठने के ठीक पहले एक चैनल से बातचीत में अखिलेश यादव ने कहा कि राम मंदिर पर बुलडोजर चलवाने की बात करने वाले लोग सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवमानना कर रहे हैं, शीर्ष कोर्ट को इसका संज्ञान लेना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान के लिए जासूसी करने वाला राम सिंह गोरखपुर से गिरफ्तार, ISI एजेंट को भेज रहा था भारतीय नौसेना की जानकारी


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.