बीसलपुर (पीलीभीत) : कोतवाली क्षेत्र के गांव रौहनियां में मंगलवार की रात लाउडस्पीकर से भजन कीर्तन करने को लेकर दोनों समुदायों के लोगों के बीच तनाव पूर्ण स्थिति पैदा हो गई। समुदाय विशेष के लोग धर्म स्थल पर पहुंच गए और तोड़फोड़ की। देव प्रतिमाएं उठा ले गए। लाउडस्पीकर का तार तोड़ दिया तथा एक धार्मिक कलेंडर फाड़ दिया। अपर पुलिस अधीक्षक रोहित मिश्र के अनुसार पांच लोगों के खिलाफ पुलिस को तहरीर मिली है। आरोपितों ने लाउडस्पीकर का तार तोड़ दिया है तथा एक धार्मिक कलेंडर को फाड़ दिया है। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को संभाल लिया है।

रौहनियां गांव के बाहर स्थित मढ़ी पर रोजाना शाम के वक्त गांव के लोग लाउडस्पीकर से भजन कीर्तन करते हैं। गांव में दोनों समुदायों के लोगों की आबादी है। मंगलवार की रात रोजाना की भांति मढ़ी पर रहने वाले साधू तथा अन्य लोग लाउडस्पीकर से भजन कीर्तन कर रहे थे। रात करीब नौ बजे गांव में रहने वाले दूसरे समुदाय के तमाम लोग मढ़ी पर पहुंचकर लाउडस्पीकर से भजन कीर्तन करने का विरोध करने लगे। इन लोगों का कहना था कि कल ईद है और नमाज का समय हो गया है लिहाजा लाउडस्पीकर से भजन कीर्तन नहीं होना चाहिए। मढ़ी पर भजन कीर्तन कर रहे लोग कहने लगे कि वे तो गांव के बाहर भजन कीर्तन कर रहे हैं, जबकि नमाज तो गांव के अंदर पढ़ी जाती है। इसी बात को लेकर दोनों समुदायों के लोगों में कहासुनी होने लगी। पुलिस क्षेत्राधिकारी प्रवीण मलिक और प्रभारी निरीक्षक जयप्रकाश यादव फोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर स्थिति को संभाल लिया है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप