Move to Jagran APP

ग्रेटर नोएडा में घर बनाना हुआ महंगा, उद्योग लगाने में भी ज्यादा ढीली करनी पड़ेगी जेब; ये रही वजह

ग्रेटर नोएडा में घर बनाना और उद्योग लगाना अब महंगा हो गया है। प्राधिकरण ने वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए सभी श्रेणी में संपत्ति की आवंटन दरों में पांच से साढ़े पांच प्रतिशत की वृद्धि कर दी है। औद्योगिक विकास आयुक्त एवं ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण चेयरमैन मनोज कुमार सिंह की अध्यक्षता में शनिवार को हुई 135 वीं बोर्ड बैठक में आवंटन दर वृद्धि के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई।

By Dharmendra Kumar Edited By: Geetarjun Sat, 15 Jun 2024 08:55 PM (IST)
ग्रेटर नोएडा में घर बनाना हुआ महंगा।

जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा। ग्रेटर नोएडा में घर बनाना और उद्योग लगाना अब महंगा हो गया है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण (Greater Noida Authority) ने वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए सभी श्रेणी में संपत्ति की आवंटन दरों में पांच से साढ़े पांच प्रतिशत की वृद्धि कर दी है।

औद्योगिक विकास आयुक्त एवं ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण चेयरमैन मनोज कुमार सिंह की अध्यक्षता में शनिवार को हुई 135 वीं बोर्ड बैठक में आवंटन दर वृद्धि के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। नई दरें 01 अप्रैल 2024 से लागू मानी जाएंगी।

कई परियोजनाएं हैं आने वाली

प्राधिकरण सीईओ एनजी रवि कुमार ने कहा कि ग्रेटर नोएडा और ग्रेटर नोएडा वेस्ट में विकास से जुड़ी कई परियोजनाएं आने वाली हैं, जिनमें ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो, मल्टीमाडल लॉजिस्टक हब एवं ट्रांसपोर्ट हब जैसी महत्वाकांक्षी परियोजनाएं शामिल हैं।

संपत्ति आवंटन की दरें होंगी निर्धारित

विकास परियोजनाओं को देखते हुए प्रत्येक वित्तीय वर्ष में संपत्ति की आवंटन दरें निर्धारित की जाती हैं। चालू वित्तीय वर्ष 2024-25 में औद्योगिक, आवासीय, वाणिज्यिक, संस्थागत, बिल्डर आदि सभी श्रेणी में आवंटन दरों में 5.30 प्रतिशत बढ़ाने के प्रस्ताव को बोर्ड ने मंजूरी दी है।

कितनी रहेगी कीमत

उद्योगों के लिए 9920 रुपये प्रति वर्गमीटर से लेकर 30788 रुपये प्रति वर्गमीटर तक उद्योग श्रेणी में आवंटन दर 9920 रुपये प्रति वर्गमीटर से लेकर 30788 रुपये प्रति वर्गमीटर तक की गई है। अभी यह दरें 9920 रुपये प्रति वर्गमीटर से लेकर 29238 रुपये प्रति वर्गमीटर तक थीं। अलग-अलग सेक्टर व क्षेत्रफल के भूखंडों के हिसाब से दरें अलग अलग हैं। दर वृद्धि से प्राधिकरण क्षेत्र में उद्योग लगाना महंगा हो गया है।

घर बनाना भी हुआ महंगा

ग्रेटर नोएडा में घर बनाना भी अब महंगा हो गया है। प्राधिकरण ने आवासीय श्रेणी में भी चालू वित्त वर्ष के लिए आवंटन दर वृद्धि की है। आवंटन दर अलग-अलग सेक्टर में 31887 रुपये प्रति वर्गमीटर से लेकर 47227 रुपये प्रति वर्गमीटर कर दी हैं। अभी यह दरें 30282 रुपये प्रति वर्गमीटर से लेकर 44850 रुपये प्रति वर्गमीटर थीं। बिल्डर श्रेणी में आवंटन दर 38484 रुपये प्रति वर्गमीटर से लेकर 54493 रुपये प्रति वर्गमीटर तक की गई हैं। वर्तमान में यह दरें 36547 रुपये प्रतिवर्गमी. से लेकर 51750 रुपये प्रति वर्गमी. थीं। प्राधिकरण के अनुसार इस श्रेणी में संपत्ति की बाजार दर 41610 रुपये प्रति वर्गमीटर से लेकर 81250 रुपये प्रति वर्गमीटर तक हैं।

संस्थागत श्रेणी में भी महंगे हुए भूखंड

संस्थागत श्रेणी में भी भूखंड महंगे हो गए है। इस श्रेणी में भूखंड अलग-अलग सेक्टर व आकार के हिसाब से 14294 रुपये प्रति वर्गमी. से लेकर 27245 रुपये प्रतिवर्गमी तक की गई हैं।

एकमुश्त लीज रेंट 11 से बढ़कर हुआ 15 गुना

नोएडा प्राधिकरण की तर्ज पर ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने भी एकमुश्त लीज रेंट में बढ़ोतरी कर दी है। अभी तक ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण वार्षिक लीज रेंट का 11 गुना लेता था, लेकिन अब इसे 15 गुना लिया जाएगा। यह तीन माह बाद लागू होगा। तीन माह के दौरान आवंटी एकमुश्त लीज रेंट वार्षिक लीज रेंट का 11 गुना के हिसाब से भुगतान कर सकेंगे। हालांकि आवासीय संपत्ति के लिए पुरानी व्यवस्था ही लागू रहेगी।