रामपुर, जेएनएन। टांडा में कोसी नदी पर तीन साल से अधर में लटके लालपुर पुल का निर्माण कार्य फिर से शुरू कराने के लिए उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य बुधवार को रामपुर आ रहे हैं। वह पुल के लिए धनराशि स्वीकृत करने की भी घोषणा करेंगे। लेकिन, इससे पहले अस्थायी पुल का निर्माण होगा, जिसका काम मंगलवार को शुरू भी हो गया।

सेतु निगम की ओर से क्रेन द्वारा पिलर पहुंचाए जाने लगे हैं। इसके निर्माण से यहां के लोगों को काफी राहत मिलेगी। लंबे समय के बाद एक बार फिर क्षेत्र के लाखों लोगों का संपर्क सीधा जनपद मुख्यालय से जुड़ जाएगा। लालपुर में कोसी नदी पर वर्ष 1932 में पुुल का निर्माण हुआ था। 1975 में जर्जर हो जाने पर बड़े वाहनों के लिए इसे बंद कर दिया गया। इसके बाद से क्षेत्र के लोग लगातार समस्या से जूझते आ रहे हैं। क्षेत्रवासियों को जिला मुख्यालय जाने में परेशानी का सामना करना पड़ता है। इस दौरान वर्ष 2016 में समाजवादी पार्टी के कार्यकाल में इसके निर्माण की कवायद शुरू की गई थी। कार्य शरू हुआ और पुल के पिलर भी बन गए थे। इस बीच पुराना पुल तोड़कर लकड़ी का अस्थाई पुल बना दिया गया था। सत्ता परिवर्तन होने पर कार्य अधर में लटक गया। ऐसे में पुराना पुल टूटने से गहन समस्या खड़ी हो गई। यदि पुराना चालू रहता तो इतनी परेशानी नहीं होती। अब लकड़ी का अस्थाई पुल भी समस्या बना हुआ है। इसे प्रति वर्ष बरसात शुरू होने से पहले हर बार तोड़ दिया जाता है, जिससे क्षेत्र के लोगों की समस्या बढ़ जाती है। इस बार भी इसे तोड़ दिया गया था, जिस कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। लोगों को दूसरे रास्तों से लंबा सफर तय करके अपनी मंजिल तक पहुंचना पड़ रहा है। बाइक सवारों को सैदनगर अथवा मुरादाबाद होकर रामपुर जाना पड़ता है। अब स्थायी पल से पहले इस पुल के बनने से जनता को काफी राहत मिलेगी। जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने अधूरे पुल को पूरा कराने के लिए 33 करोड़ रुपये का प्रस्ताव शासन को भेजा था। उम्मीद है कि उपमुख्यमंत्री इस धनराशि की मंजूरी यहां आकर करेंगे। लालपुर में कोसी पुल के निर्माण की शुरुआत को लेकर कवायद तेज हो गई है। इसके निरीक्षण के लिए उप मुख्यमंत्री के आने को लेकर प्रशासन की ओर से तैयारी शुरु कर दी गई हैं। इसके लिए सभास्थल आदि की व्यवस्था की जाने लगी है। भाजपा जिला अध्यक्ष अभय कुमार गुप्ता ने उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या से अधूरे पड़े इस पुल के निर्माण की मांग की थी। इस पर उन्होंने 23 सितंबर को लालपुर आकर पुल के निर्माण की शुरुआत कराने का वादा किया है। इस खबर से क्षेत्र में खुशी का माहौल है। पुल बन जाने से रामपुर के बाद जिले में सबसे ज्यादा राजस्व अदा करने वाली टांडा तहसील और भी उन्नत हो उठेगी। वर्तमान में यहां 32 राइस मिलें हैं। पुल बन जाने के बाद इसके साथ-साथ आसपास का क्षेत्र भी विकास की पटरी पर सरपट दौड़ने लगेगा। बुधवार को मुख्यमंत्री के आने की तैयारियों में प्रशासन जी-जान से जुट गया है। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद बुधवार को रामपुर आएंगे। वह यहां कोसी नदी पर अधूरे लालपुर पुल का फिर से कार्य शुरू कराएंगे। प्रशासन ने उनके कार्यक्रम की तैयारियां शुरू कर दी हैं। जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने बताया कि उप मुख्यमंत्री सुबह 10.20 बजे हेलीकाप्टर से पुलिस लाइन पहुंचेंगे। इसके बाद लालपुर पुल के कार्य का शुभारंभ करेंगे। वहां जनसभा को भी संबोधित करेंगे। जन सभा में कम लोग ही शामिल रहेंगे। सामाजिक दूरी का अनुपालन करने के साथ ही मास्क लगाना भी जरूरी होगा। जनसभा के बाद मंडल के पदाधिकारियों से भी मिलेंगे। अफसरों के साथ भी बैठक करेंगे। 11.45 बजे रामपुर से प्रस्थान कर जाएंगे। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप