रामपुर, जेएनएन। जनपद की पुलिस ने शातिर बदमाशों को सबक सिखाने की ठान ली है। मुठभेड़ में गोली का जवाब गोली से ही दे रही है। एक महीने के अंदर जिले में तीन मुठभेड़ हो चुकी हैं। इनमें तीनों ही बदमाशों के गोली लगी है। तीनों ही पैरों में गोली लगने से लंगड़े हो गए हैं।

पहले मासूम बच्ची से दुष्कर्म कर हत्या करने के आरोपी को मुठभेड़ में गोली मारी गई

रामपुर में डॉ.अजय पाल शर्मा ने जब से पुलिस अधीक्षक की कमान संभाली है, तब से ही बदमाशों पर कड़ी कार्रवाई हो रही है। उन्हें मुठभेड में गोली मारकर लंगड़ा किया जा रहा है। सबसे पहले मासूम बच्ची से दुष्कर्म कर हत्या करने के आरोपी को मुठभेड़ में गोली मारी गई। यह घटना सिविल लाइंस थाना क्षेत्र में हुई। इसके बाद स्वार क्षेत्र में लूटपाट कर भाग रहे बदमाश को गोली मारी गई।

सिपाही हुआ घायल तो बदमाश को भी किया घायल

शुक्रवार की रात स्वार क्षेत्र में मुठभेड़ में एक बदमाश को गोली मार दी गई, तीनों के पैरों में गोली गली है जिससे वे लंगड़े हो गए हैं। स्वार क्षेत्र में सोमवार की रात पुलिस ने चेङ्क्षकग के दौरान बाइक सवार दो लोगों को रोकना चाहा तो उन्होने पुलिस पर गोली चला दी। एक सिपाही राहुल मलिक घायल हो गया। जवाब में पुलिस ने भी गोली चलाई और बदमाश को गोली मारकर घायल कर दिया। यह बदमाश गंज क्षेत्र के सैजनी नानकार गांव का मेहराज खां है। उसके पैर में गोली लगी है। उसके खिलाफ 13 मुकमे दर्ज हैं।

पहले भी स्वार पुलिस ने लूटपाट कर भाग रहे बदमाश को मारी थी गोली

इससे पहले भी स्वार पुलिस ने लूटपाट कर भाग रहे बदमाश को पैर में गोली मारकर घायल कर दिया था। सिविल लाइंस थाना क्षेत्र में सात मई को एक छह साल की बालिका गायब हो गई गई थी। 21 जून को इसकी लाश बरामद हुई। पुलिस ने छानबाीन की तो पता चला कि मुहल्ले के ही नाजिल नामक युवक ने उससे दुष्कर्म किया और फिर हत्या कर लाश छुपा दी। इस मामले में आरोपी को पकडऩे की कोशिश की तो भागने लगा। पुलिस पर फायङ्क्षरग की। पुलिस ने भी जवाब में फायङ्क्षरग की और उसे पैर में गोली मारकर घायल कर दिया।

जवाबी कार्रवाई कर आत्मरक्षा को भी गोली चलाती है पुलिस

पुलिस अधीक्षक डा. अजयपाल शर्मा ने बताया शातिर बदमाशों के खिलाफ पुलिस को कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए गए हैं। बदमाश अगर पुलिस पर फायङ्क्षरग करते हैं तो पुलिस भी जवाबी कार्रवाई करती है और आत्मरक्षा में भी गोली चलाती है। पुलिस की कोशिश रहती है कि किसी की जान न जाए, इसलिए पैरों को ही निशाना बनाया जाता है। स्वार पुलिस ने मेहराज को मुठभेड़ में गिरफ्तार किया है। उसके खिलाफ लूट, डकैती, हत्या के प्रयास और गुंडा एक्ट समेत विभिन्न आरोपों में 13 मुकदमे दर्ज हैं।

 

Edited By: Narendra Kumar