Move to Jagran APP

UP News: यूपी के इस जिले में सात होमगार्ड समेत 13 लोगों की गर्मी के कारण मौत, चुनाव में लगी थी ड्यूटी

सात होमगार्ड्स सहित कुल 13 लोगों की भीषण गर्मी के चलते शुक्रवार को मंडलीय चिकित्सालय में मौत हो गई। वहीं होमगार्ड्स पीएसी व पुलिस के करीब 40 जवान अस्पताल में भर्ती कराए गए हैं। इसमें से पांच की हालत गंभीर बताई जा रही है। सूचना पर जिला निर्वाचन अधिकारी प्रियंका निरंजन व पुलिस अधीक्षक अभिनंदन तथा मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डाॅ. आरबी कमल ने अस्पताल पहुंचकर घटना की जानकारी ली।

By Prashant Kumar Yadav Edited By: Shivam Yadav Fri, 31 May 2024 08:01 PM (IST)
मीरजापुर : मंडलीय अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में गर्मी से बीमार लोगों का हो रहा उपचार। जागरण

जागरण संवाददाता, मीरजापुर। चुनाव ड्यूटी सहित अन्य स्थानों पर तैनात सात होमगार्ड्स सहित कुल 13 लोगों की भीषण गर्मी के चलते शुक्रवार को मंडलीय चिकित्सालय में मौत हो गई। वहीं होमगार्ड्स, पीएसी व पुलिस के करीब 40 जवान अस्पताल में भर्ती कराए गए हैं। इसमें से पांच की हालत गंभीर बताई जा रही है। 

चुनाव ड्यूटी में लगे पांच होमगार्ड्स, बाबू, स्वीपर की मौत की सूचना पर जिला निर्वाचन अधिकारी प्रियंका निरंजन व पुलिस अधीक्षक अभिनंदन तथा मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डाॅ. आरबी कमल ने अस्पताल पहुंचकर घटना की जानकारी ली। अस्पताल में भर्ती जवानों का हाल जाना।

गश खाकर गिरे जवान

जिले में एक जून काे मतदान कराने के लिए नगर के पॉलिटेक्निक परिसर से फोर्स के साथ पोलिंग पार्टियों को रवाना किया जा रहा था। दोपहर दस बजे के बाद अचानक होमगार्ड्स, सिपाही, पीएसी के जवान व पैरामिलिट्री के कुछ जवान गश्त खाकर गिरने लगे। 

कोई पोलिंग पार्टी के साथ मतदान केंद्र पर पहुंचकर बेहोश हो गया। देखते ही देखते वह कोमा में चले गए। यह देख तत्काल वहां मौजूद अन्य लोग जवानों को लेकर अस्पताल पहुंचे। दोपहर दो बजे तक करीब 30 होमगार्ड्स, पीएसी व सीआरपीएफ के जवान भर्ती किए जा चुके थे। 

वहीं, शाम चार बजते बजते 40 जवान भर्ती कर लिए गए। इसमें पांच होमगार्ड्स के जवानों की मौत हो गई। मृतकों में गोंडा के बच्चाराम, प्रयागराज के त्रिभुवन सिंह, बस्ती के रहने वाले सत्य प्रकाश, गोंडा के रहने वाले रामजियावन, सिकंदरपुर महगांव कछार कौशांबी के रामकरन शामिल है। 

वहीं, सीएमओ के बावजूद, स्वीपर सहित कुल 12 लोगों की माैत हो गई। घटना की खबर लगते ही कुछ मृतकों के स्वजन रोते बिलखते अस्पताल पहुंचे। वहीं, कुछ लोगों को अभी सूचना दी जा रही है। अपर पुलिस अधीक्षक आपरेशन ओपी सिंह व सीओ नगर मनोज कुमार गुप्ता ने भी अस्पताल पहुंचकर घटना की जानकारी ली।

सीएमओ के बाबू की लू लगने से मौत

सीएमओ कार्यालय में तैनात नवली थाना रेवतीपुर जनपद गाजीपुर के बाबू शिव पूजन श्रीवास्तव शुक्रवार की सुबह अपने बेटे के साथ पॉलिटेक्निक गए थे। इसी दौरान अचानक उनको चक्कर आने लगा। उनको सांस लेने में दिक्कत होने लगी। यह देख साथ में मौजूद बेटा पीयूष उनको तत्काल मंडलीय चिकित्सालय ले आया, जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। बताया गया कि वह पिछले तीन वर्षों से यहां तैनात थे।

चुनार के स्वीपर की ड्यूटी के दौरान मौत

चुनार में स्वीपर के पद पर तैनात पीरवाजी शहीद दरगाह चुनार के रवि प्रकाश की ड्यटी चुनाव के दौरान पॉलिटेक्निक में लगी थी। शुक्रवार को अचानक उसकी तबीयत खराब हुई तो उसे मंडलीय चिकित्सालय लाया गया, जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

चुनार जज के यहां तैनात होमगार्ड्स की मौत

देहात कोतवाली के संडवा गांव के रहने वाले होमगार्ड्स कृष्णकांत अवस्थी की ड्यूटी चुनार के एक जज के यहां लगी थी। गुरुवार की रात वह ड्यूटी करके घर आए और खान खाने के बाद सो गए। 

सुबह मृत अवस्था में पाए गए। स्वजन ने लू लगने या अन्य कारणों से मौत होने की आशंका जताते हुए पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव केा पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

आयुक्त के यहां तैनात होमगार्ड्स की मौत

आयुक्त डाॅ. मुथुकुमार स्वामी बी के यहां तैनात होमगार्ड्स काशी की शुक्रवार को तबीयत खराब हो गई। उसे मंडलीय चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

निजी बस के कंडक्टर की गई जान

प्रयागराज के मेजा थाना क्षेत्र के लखनपुरा गांव के रहने वाले अविनाश पांडेय प्रयागराज की एक निजी बस में कंडक्टर थे। वह मीरजापुर से प्रयागराज चलते थे। अस्पताल कर्मियों ने बताया कि दोपहर में एंबुलेंस सरोई से उनको मंडलीय चिकित्सालय ले आई थी। जहां आने पर उनको मृत घोषित कर दिया गया। परिजनों ने बताया कि सुबह वह घर से ड्यूटी के लिए निकले थे। उनकी मौत भी गर्मी के कारण बताई जा रही है।

कचहरी रोड पर एक अज्ञात व्यक्ति मृत अवस्था में मिला

शहर कोतवाली के कचहरी रोड पर शुक्रवार की दोपहर एक अज्ञात व्यक्ति अचेता अवस्था में मिला। उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां देखने के बाद चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। अस्पताल चौकी प्रभारी हरिशंकर यादव ने बताया कि मृतक की पहचान कराने की कोशिश की जा रही है। हालांकि उसके पास कुछ मिला नहीं है।

सांस फूलने लगी, अस्पताल पहुंचते हुई मौत

देहात कोतवाली के भरूहना स्थित शुक्लहा के रहने वाले राधे शुक्रवार की सुबह कुछ काम करके आए और अचानक उनको घबराहट होने लगी। सांस भी फूलने लगी। घर के लोगों को बताया ताे उन्हें तत्काल अस्पताल ले आए। जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। चिकित्सकों ने गर्मी के चलते लू लगने की आशंका जताते हुए उनकी मौत होने की बात बताई।

एक दिन पूर्व बुखार, दूसरे दिन अस्पताल में गई जान

लालगंज के नरैना कला के रहने वाले अनीता को एक दिन पूर्व घर में काम कर रही थी। उसी दौरान उसे गर्मी लगने लगी। कुछ देर बाद बुखार आ गया। पास के एक अस्पताल से दवा ली लेकिन सुधार नहीं हुआ। दूसरे दिन डॉक्टर ने बताया कि उसे लू लग गया है। मंडलीय चिकित्सालय ले जाए। यहां लाने पर उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

गर्मी से समाचार पत्र विक्रेता की मौत

क्षेत्र के कस्बा के समाचार पत्र विक्रेता मुहयद्दीन उर्फ गड्डी अखबार वितरित कर दोपहर 12 बजे के करीब वापस घर जा रहे थे। वह हलिया पुराने थाने के सामने पहुंचे ही थे कि तबीयत बिगड़ने लगी। ऐसे में साइकिल खड़ी कर सड़क पर ही लेट गए। 

मौके पर पहुंचे परिजनों व ग्रामीण पीएचसी ले गए जहां चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया। प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ. अवधेश कुमार ने बताया कि मृतक हॉकर की लू लगने अथवा ब्रेन हेमरेज या हार्ट अटैक से मौत हुई होगी।

किशोरी अंजलि की गर्मी के चलते गई जान

मड़िहान अंतर्गत ग्राम सभा बैदौली के पूरवा देवदहा गांव के बृजेश कुमार मौर्य की 17 वर्षीय पुत्री अंजली की मौत हो गई। पिता ने बताया कि गुरुवार को तबीयत एकाएक खराब होने पर कलवारी में झोलाछाप के यहां ले गए थे, जहां हालत में सुधार न होने पर सीएचसी ले आए। यहां भी स्थिति नाजुक होने पर डॉक्टरों ने मंडलीय चिकित्सालय रेफर कर दिया जहां देर रात पुत्री की मौत हो गई। उन्हें गर्मी के चलते मौत होने का अंदेशा है।