मेरठ, जेएनएन। नितिन की गली से जैसे ही योगी वापस जाने के लिए मुड़े तभी दूसरी बंद गली में एक बुजुर्ग तारा चंद्र शर्मा बिना मास्क आते नजर आए। जिस पर योगी ने हाथ जोड़कर बुजुर्ग को प्रणाम करने के साथ मास्क लगाने और कोरोना से बचकर रहने की अपील की। उनकी अपील पर तत्काल बुजुर्ग ने भी मास्क लगाकर योगी आदित्यनाथ की जय का जयकारा भी लगाया। इस दौरान मौजूद लोग खुद को मुस्काराने से नहीं रोक पाएं।

उम्रभर याद रहेगी योगी जी से मुलाकात

गांव बिजौली निवासी भाजपा कार्यकर्ता का हाल जानने के लिए उनके दर तक पहुंचे योगी की इस अदा ने गांव वासियों के मन में उनका कद और सम्मान शिखर चूम रहा है। योगी से संवाद करने वाले कार्यकर्ता के चाचा की खुशी जहां छिपाएं नहीं छिप रही है, वहीं पड़ोसी भी योगी की ही चर्चाओं में देर रात तक डूबे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से हुई छोटी से मुलाकात के बाद निरंजन त्यागी गांव भर में छा गए हैं। अपनी खुशी पर काबू पाते हुए निरंजन बताते हैं उम्मीद ही नहीं थी कि वह यहां तक आएंगे। आते ही प्रणाम किया और हालचाल पूछा। साथ ही नितिन के स्वास्थ्य के संबंध में पूछने के बाद सरकार द्वारा दी जा रही सुविधा के बारे में भी जानकारी ली। जिसमें रेस्पांस टीम आने, दवाई मिलने, कंट्रोल रूम से फोन आने, साफ-सफाई और सैनिटाइजर आदि को लेकर पूछा। इसके बाद वह वापस लौट गए। योगी से हुई इस संक्षिप्त मुलाकात को अपने जीवन का यादगार पल बताते हुए निरंजन त्यागी ने कहा कि मुलाकात जरूर छोटी थी, लेकिन ताउम्र याद रहेगी। उधर, योगी के दहलीज तक आने और हालचाल जानने के बाद कार्यकर्ता के घर में जश्न जैसा माहौल हो गया। उधर, पड़ोसी राजेंद्र शर्मा, सतीश गिरि, शिवकुमार आदि ने बताया कि योगी जी का हमारी गली में आना सच में यादगार पल बन गया है।

मात्र दस मिनट में खाना खाया

गौतमबुद्धनगर के बाद मुख्यमंत्री मेरठ पहुंचे तो निर्धारित कार्यक्रम से एक घंटा 20 मिनट का विलंब हो चुका था। मुख्यमंत्री पुलिस लाइन से सीधे सर्किट हाउस पहुंचे। वहां उन्हें दोपहर का भोजन लेना था। विलंब देखते हुए उन्होंने दस मिनट में खाना खाया व फिर से निरीक्षण को निकल गए। यहां उनके लिए पसंदीदा तुरई और लौकी की सब्जी, लौकी की खीर बनाई गई। उन्होंने सादी रोटी ली। अरहर की दाल और मिक्स वेज की सब्जी भी थी लेकिन सीएम ने उन्हें ज्यादा पसंद नहीं किया। उनका खाना बिना लहसुन-प्याज बनाया था। टेबल पर उनके साथ प्रदेश महामंत्री अश्विनी त्यागी व प्रदेश मंत्री डा. चंद्रमोहन भी साथ थे। 

Edited By: Himanshu Dwivedi