मेरठ, जेएनएन। सठला व परीक्षितगढ़ में पटाखों का अवैध धंधा पकड़े जाने के बाद पुलिस ने मवाना में छापामारी की। आबादी क्षेत्र के मोहल्ला कल्याण सिंह में बिना सुरक्षा इंतजामों के एक मकान में अवैध रूप से पटाखों का निर्माण होता मिला। लाखों रुपये कीमत के पटाखे और विस्फोटक बरामद हुआ। धंधेबाज निकल भागा लेकिन छह मजदूर महिलाएं काम करती मिलीं। वहीं सरधना में भी तीन क्विंटर पटाखों के साथ चार को गिरफ्तार किया गया है। फरार आरोपित आरिफ, उसके छोटे भाई रिजवान समेत छह मजदूर महिलाओं के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है।

सरधना के पीरजादगान व सहारनपुर के बिहारीगढ़ में पटाखों में विस्फोट से हादसा होने के बाद पुलिस-प्रशासन अलर्ट मोड पर है। शनिवार को सीओ उदय प्रताप सिंह की अगवाई में इंस्पेक्टर प्रेमचंद शर्मा ने पुलिस के साथ मवाना के मोहल्ला कल्याण सिंह राजो वाला बाग में आरिफ समेत कई घरों व गोदाम में छापामारी की। रिजवान पुत्र मास्टर मकबूल अहमद के मकान में पटाखे बनते मिले। गेट के बाहर लगा ताला पुलिस ने तोड़ दिया।

अंदर छह मजदूर महिलाएं पटाखे बनाते मिलीं। छत पर भारी मात्र में पटाखे सूख रहे थे। मौके से 20 बोरे सुतली बम, दस पेटी अनार बम, फुलझड़ी अन्य पटाखे व भारी मात्र में विस्फोटक बरामद हुआ। उक्त माल की बाजार में कीमत पांच लाख रुपये से अधिक बताई जाती है। पुलिस माल को थाने ले आई। इंस्पेक्टर ने बताया कि पकड़ी गई महिलाओं को मौके पर नोटिस तामील करा छोड़ दिया गया।

मार्च में समाप्त हो चुका आरिफ की आतिशबाजी का लाइसेंस

आरिफ का आतिशबाजी का लाइसेंस भी मार्च माह में खत्म हो गया था। छोटा भाई रिजवान मकान में सुबह महिला मजदूरों को काम पर लगाकर और शाम को निकालता था। इस बीच गेट पर ताला लगा रहता है। छत पर बम सुखाए जाते थे। आतिशबाजी तैयार कर पार्टयिों के पास भेजते थे।

तीन क्विंटर पटाखों के साथ चार पकड़े, दो फरार

शनिवार को पुलिस ने छापेमारी कर तीन क्विंटल अवैध पटाखे जब्त कर चार लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि गोटका थाना सरूरपुर निवासी सद्दाम पुत्र सलीम को अवैध पटाखों के साथ नगर के इकबाल पुत्र इब्राहिम के मकान से पकड़ा गया है। यहीं के निवासी शकील पुत्र जमील अहमद, अकील अहमद पुत्र खलील अहमद और सुऐब पुत्र खलील अहमद को मोहल्ला कमरानवाबान से पकड़ा गया है। इनके पास से भारी मात्र में अवैध पटाखे बरामद हुए हैं। वसीम पुत्र सलीम निवासी गोटका व सलाउद्दीन पुत्र अलाउद्दीन मोहल्ला खारीकुआं फरार होने में कामयाब हो गए।

सीओ मवाना उदय प्रताप सिंह ने कहा कि मवाना में कई गोदाम व मकानों में छापा मारा गया। एक मकान में भारी मात्र में पटाखों का जखीरा पकड़ा। मौके पर मिली महिलाओं को नोटिस देकर छोड़ दिया। आरोपितों की जल्द गिरफ्तारी होगी।

पूरे साल चलता अवैध धंधा

दीपावली से शुरू होकर पूरे साल पटाखों का अवैध कारोबार मवाना की गली मोहल्लों में घर-घर चलता है। बावजूद, पुलिस सिर्फ दीपावली के दौरान ही कार्रवाई करने को निकलती है।

सुरक्षा का कोई इंतजाम नहीं

पटाखों के पास विस्फोटक सामान भी रखा था। सुरक्षा के कोई मानक नहीं थे। अगर हादसा हो जाए तो दमकल की गाड़ी भी यहां आसानी से नहीं पहुंच पाएंगी।

दीपाली नजदीक आते ही अवैध भंडारण शुरू

दीवाली नजदीक आते ही पटाखों का अवैध भंडारण शुरू हो गया है। अवैध गोदामों में भरा जा रहा पटाखों का यह जखीरा किसी बड़े हादसे का सबब बन सकता है।

नहीं हटाया जा रहा है मलबा

गुरुवार को हुए धमाके के तीसरे दिन मलबा हटाने के लिए पालिका का एक भी कर्मचारी नहीं पहुंच सका। स्थानीय लोगो का कहना है कि धमाका हुए तीन दिन बीत गए हैं। अभी तक किसी ने खबर नहीं ली है। मलबा नहीं हटने से स्थानीय लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021