Move to Jagran APP

मेरठ में एटीएस ने तीन और पीएफआइ सदस्‍यों को पकड़ा, बुलंदशहर में अधिवक्‍ता को पूछताछ के बाद छोड़ा

डिस्क्लेमर इस समाचार को भारत सरकार के आदेश के बाद पोर्टल से हटा दिया गया है। आपको हुई असुविधा के लिए खेद है। Disclaimer This news has been Take Down by the order of Government of India Ministry of IB. We are deeply regretted the inconvenience caused.

By JagranEdited By: PREM DUTT BHATTPublished: Tue, 27 Sep 2022 11:16 AM (IST)Updated: Thu, 29 Sep 2022 09:38 PM (IST)
मेरठ में एटीएस ने तीन और पीएफआइ सदस्‍यों को पकड़ा, बुलंदशहर में अधिवक्‍ता को पूछताछ के बाद छोड़ा
ATS In Meerut मेरठ के लिसाड़ीगेट, खरखौदा और सरूरपुर थाना क्षेत्रों में पुलिस के साथ की छापामारी।

मेरठ, जागरण संवाददाता। PFI Members Arrested मेरठ में एटीएस ने एक बार फिर पीएफआइ सदस्‍यों को पकड़ने के लिए कार्रवाई की है। एटीएस और पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में पीएफआइ के तीन सदस्यों को पकड़ लिया है। दोनों से एटीएस की टीम पूछताछ कर रही है। माना जा रहा है कि तीनों के कब्जे से कुछ साहित्य भी मिला है। वहीं बुलंदशहर में एटीएस की टीम ने कई घंटे की पूछताछ के बाद स्याना के अधिवक्ता को बाद छोड़ दिया है। टीम जिले से नोएडा के लिए रवाना हो गई है। स्थानीय पुलिस ने अधिवक्ता को छोड़ने की पुष्टि की है।

loksabha election banner

सहारनपुर में भी पूूूूछताछ 

इस बीच सहारनपुर में भी छापेमारी की सूचना आ रही है। वहीं इस बीच सहारनपुर में एटीएस की संयुक्त टीम द्वारा पीएफआइ से जुड़े व्यक्ति के भाई से चल रही पूछताछ। पीएफआइ से जुड़े कई लोग छापेमारी से पहले ही हुए फरार। गंगोह से एक व्यक्ति को हिरासत में लिया। पूछताछ जारी।

तीनों से की जा रही पूछताछ

दो दिन पहले पकड़े गए पीएफआइ के चार सदस्यों से उक्त तीनों आरोपितों का जुड़ाव माना जा रहा है। उनकी पूछताछ में ही इनके नाम सामने आए थे। मंगलवार को एटीएस की टीम ने एक साथ दो स्थानों पर छापामारी की। एटीएस ने लिसाड़ीगेट के न्यू इस्लाम नगर निवासी फुरकान को पकड़ लिया है। उसे सीओ आफिस में लाकर पूछताछ की जा रही है। 

पीएफआइ से जुड़ा

माना जा रहा है कि फुरकान काफी दिनों से पीएफआइ से जुड़ा हुआ है। सीएए की हिंसा में भी फुरकान नामजद किया गया है। उसके अलावा एटीएस की टीम ने सरूरपुर के हर्रा निवासी फहीम को पकड़ा था। फहीम से भी एटीएस की टीम पूछताछ कर रही है। उसके बाद टीम ने खरखौदा के असलीम कालोनी से अब्दुल वासिद को पकड़ा है। तीनों आरोपितों को पकड़कर एटीएस की टीम पूछताछ कर रही है।

यह बोले एसपी देहात

एसपी देहात केशव कुमार का कहना है कि पीएफआइ से जुड़े लोगों को पकड़ने की कार्रवाई एटीएस की टीम कर रही है। उसके साथ पुलिस भी सहयोग कर रही है। पकड़े गए पीएफआइ के सदस्यों से सामान बरामदगी की जा रही है। वहीं, बुलंदशहर से एक वकील और शामली के कैराना के पावटी गांव से तीन लोगों को भी हिरासत में लिया गया है। 

बुलंदशहर में अधिवक्ता को उठाया

बुलंदशहर जिले में एनआईए व एटीएस की टीम ने मंगलवार की तड़के शहर से देहात तक कई स्थानों पर पापुलर फ्रंट आफ इंडिया (पीएफआई) के सदस्यों के ठिकानों पर छापेमारी की। दोनों टीमों ने भारी पुलिस बल के साथ छापेमारी कर कई संदिग्धों को हिरासत में लिया है। टीम स्याना से एक अधिवक्ता समेत कई संदिग्धों को हिरासत में लिया है। हालांकि कुछ को पूछताछ के बाद छोड़ दिया है। जबकि अधिवक्ता टीम की हिरासत में हैं।

दो संदिग्‍धों से घंटों पूछताछ

जिले में एटीएस की टीम ने मंगलवार की सुबह कई स्थानों पर पीएफआई एजेंट की तलाश में छापेमारी की है। टीम ने नगर कोतवाली के फैसलाबाद, गुलावठी और स्याना में छापेमारी की। फैसलाबाद में छापेमारी कर टीम ने दो संदिग्धों से घंटों पूछताछ करने के बाद छोड़ दिया। साथ ही अन्य कई स्थानों पर छापेमारी कर टीम ने कई संदिग्धों से पूछताछ के बाद छोड़ दिया।

मेरठ में प्रैक्‍टिस करता है वकील

इसके टीम ने स्याना में एक अधिवक्ता के घर पर छापा मार कर अधिवक्ता को हिरासत में ले लिया। अधिवक्ता मेरठ न्यायालय में वकालत करता है। बताया जा रहा है कि अधिवक्ता लंबे समय से पीएफआई से जुड़ा हुआ था। अधिवक्ता का मेरठ के शास्त्रीनगर में आवास है। टीम को अधिवक्ता द्वारा पीएफआई के सदस्य बनाने की आशंका है। टीम अधिवक्ता को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

ये बोले एसएसपी

एटीएस की टीम ने जिले में कई स्थानों पर छापेमारी की है। टीम कई संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

- श्लोक कुमार, एसएसपी

शामली के कैराना में छापेमारी

शामली के कैराना क्षेत्र में तीन गांवों में एनआईए, एटीएस और एसटीएफ की टीमों ने सोमवार की रात्रि लगभग तीन बजे छापेमारी कर ग्राम मामौर प्रधान पति मौलाना साजिद के बड़े भाई मौलाना जाहिद व गांव गोगवांन निवासी सरवर पीएफआई (पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया) जिला संयोजक क्षेत्र के गांव पावटीकलां से जाबिर को छापेमारी के दौरान उठाया गया है। वहीं मौलाना जाहिद भी पीएफआई के सक्रिय कार्यकर्ता है। टीमों की संयुक्त छापेमार कार्रवाई के दौरान तीनों व्यक्तियों को टीम पूछताछ के लिए साथ ले गई है। इस दौरान स्थानीय पुलिस टीम भी मौजूद रही।

सहारनपुर में रागिब की यहां दबिश

सहारनपुर के गंगोह थानाक्षेत्र के गांव कुंडाकलां में सोमवार की देर रात एनआईए ने छापेमारी की। एनआईए की टीम रागिब नाम के व्यक्ति के घर पर दबिश दी गयी। हाफिज तो भाग गया, लेकिन एनआईए की टीम हाफिज के भाई सद्दाम को साथ ले गयी है। यह सब जानकारी ग्रामीण दे रहे है। कोई अधिकारी बोल नही रहा है। रागिब एसडीपीआई राजनीतिक संगठन का सदस्य है। यह संगठन पीएफआई का सहयोगी माना जाता है।

यह भी पढ़ें : PFI Members Arrested: मेरठ में पकड़े गए पीएफआइ सदस्‍यों के दफ्तर में मिला दिल दहला देने वाला साहित्य

डिस्क्लेमर: इस समाचार को भारत सरकार के आदेश के बाद पोर्टल से हटा दिया गया है। आपको हुई असुविधा के लिए खेद है।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.