मेरठ [संजीव तोमर] । कुछ समय पहले कैराना से हिंदुओं के पलायन के मुद्दे ने पूरे देश में हलचल मचा दी थी। अब मेरठ भी इसकी चपेट में आ गया है। शहर के बीच में स्थित लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र अंतर्गत मुस्लिम बहुल प्रह्लादनगर में बहुसंख्यक वर्ग के 425 परिवारों में से कोई 125 परिवार अपना मकान बेचकर पलायन कर चुके हैैं। नमो ऐप पर इसकी शिकायत पर शासन-प्रशासन अचानक सक्रिय हो उठा है। इनमें से अधिकांश मकानों की खरीद-बिक्री बीते पांच-छह वर्ष के भीतर की है। यहां दूसरे समुदाय के लोगों को औने-पौने दाम पर मकान बेचकर लोग अन्यत्र जाने को मजबूर हैं। यहां कई मकानों व प्लॉट के गेटों पर बिकाऊ लिखा हुआ है।

प्रह्लादनगर में बहुसंख्यक समाज की महिलाओं से छेड़छाड़, पर्स, चेन, मोबाइल व कीमती सामान की लूटपाट, विरोध पर पिटाई, घर के सामने आपत्तिजनक वस्तुएं फेंकना, आपत्तिजनक हरकतें करना आदि हरकतों से लोगों का जीना दुश्वार हो गया है। इस कारण लोग यहां से पलायन करने के लिए मजबूर हो रहे हैैं। इस समस्या को लेकर कुछ दिनों पूर्व भारतीय जनता पार्टी के वार्ड-56 से पार्षद जितेंद्र पाहवा ने पुलिस-प्रशासनिक अफसरों को प्रार्थना पत्र देकर शरारती तत्वों पर लगाम कसने की मांग की थी, लेकिन उसपर कोई प्रभावी कदम नहीं उठाया गया।

इसके बाद पलायन के संबंध में स्थानीय भाजपा नेता व बूथ अध्यक्ष भवेश मेहता ने 11 जून को नमो ऐप पर पूरे प्रकरण की जानकारी देते हुए मदद की गुहार लगाई गई थी। पीएमओ से 11 जून को ही (ऑनलाइन) यूपी के मुख्यमंत्री कार्यालय को इस बारे में उचित कदम उठाने के लिए कहा गया। इसके बाद हरकत में आए मुख्यमंत्री कार्यालय ने उसी दिन मेरठ के जिलाधिकारी व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को पूरे मामले की जांच कर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए। इसी क्रम में अब एसएसपी द्वारा 13 जून को सीओ कोतवाली और लिसाड़ी गेट थानाध्यक्ष को जांच सौंपी गई है।

सांसद राजेंद्र अग्रवाल का कहना है कि अभी लोकसभा चल रही है, मेरठ आते ही इस मामले को देखूंगा। क्षेत्रीय भाजपा विधायक डॉ. सोमेंद्र तोमर का कहना है कि प्रह्लादनगर में शरारती तत्व उत्पात मचा रहे हैं, जिन पर लगाम कसने के लिए प्रशासन से कहा गया है। जिलाधिकारी अनिल ढींगरा का कहना है कि मुख्यमंत्री कार्यालय से जो ऑनलाइन रिपोर्ट मांगी गई है, वह अभी मेरे संज्ञान में नहीं है, मैं अपने कार्यालय से पता करता हूं।

शिकायतकर्ता व भाजपा नेता भवेश मेहता ने बताया कि प्रह्लादनगर में शरारती तत्व अराजकता फैला रहे हैं। इसके कारण यहां से लोग पलायन कर रहे हैैं। इनके मकान खरीदने वाले अधिकांश लोग दूसरे संप्रदाय से जुड़े हैैं। प्रधानमंत्री कार्यालय को भी इसकी जानकारी दी गई है। पुलिस अभी खानापूर्ति कर रही है। एसएसपी मेरठ नितिन तिवारी ने कहा कि पूरे प्रकरण की जांच कराई जा रही है। मुख्यमंत्री कार्यालय को रिपोर्ट भी जल्द दी जाएगी। सीएम कार्यालय से आए निर्देश के बाद प्रहृलाद नगर मंदिर के पास स्थाई पिकेट लगा दी गई है। एक दारोगा और दो सिपाहियों संग चेकिंग चलेगी। एंटी रोमियो स्क्वॉड भी समय-समय पर चेकिंग करेगा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Edited By: Umesh Tiwari

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट