मेरठ, नवनीत शर्मा। सरकारी प्रमाण पत्रों में सबसे आवश्यक परिवार रजिस्टर की नकल प्राप्त करने के लिए अब तहसील के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। परिवार रजिस्टर का तमाम ब्यौरा आनलाइन कर दिया गया है। अब कोई भी अपने परिवार रजिस्टर की नकल घर बैठे प्राप्त कर सकता है। प्रथम चरण में डिजिटल माध्यम से नकल उपलब्ध कराने के लिए मेरठ सहित पांच जनपदों में इसका पायलट प्रोजेक्ट शुरू किया गया है। इससे लोग बेवजह की भागदौड़ से बच सकेंगे। पैसे की भी बचत होगी। 

रजिस्टर में दर्ज होता है जन्म से मृत्यु तक का ब्यौरा

परिवार रजिस्टर में जन्म से मृत्यु तक का सारा ब्यौरा दर्ज होता है। सरकारी नौकरी के साथ-साथ कई अन्य स्थानों पर भी इसका प्रयोग प्रमाणित दस्तावेज के रूप में किया जाता है। इसे हासिल करने के लिए लोगों को तहसील में जाना पड़ता है। इसी समस्या का निराकरण करने के उद्देश्य से मेरठ के साथ गोंडा, एटा, बहराइच सहित पांच जिलों में इस योजना को पायलट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किया गया है। परिवार रजिस्टर का तमाम ब्यौरा आनलाइन कर दिया गया है। इसके चलते अब कोई भी अपने परिवार रजिस्टर की नकल घर बैठे प्राप्त कर सकता है। 

मेरठ में सात लाख परिवारों को मिलेगा लाभ 

जनपद में वर्तमान में परिवारों की संख्या सात लाख के करीब है। नगर निगम के साथ नगर पालिका, नगर पंचायत और ग्राम पंचायतों में रहने वाले परिवारों को इसका सीधा लाभ मिलेगा। परिवार रजिस्टर में जानकारी अपडेट कराने के लिए सभी सहायक विकास अधिकारियों को निर्देशित किया गया है।

दो सप्ताह में करा लें सुधार 

परिवार रजिस्टर में दर्ज सभी तरह का रिकार्ड आनलाइन कर दिया है। इसमें सुधार के लिए दो सप्ताह का समय भी निर्धारित किया गया है। रजिस्टर में अपना नाम, जन्म, मृत्यु, आयु, पता आदि की गलतियों में तय समय में सुधार कराया जा सकता है।

इन्‍होंने कहा 

जनपद में परिवार रजिस्टर का रिकार्ड आनलाइन कर दिया गया है। दो सप्ताह का समय सुधार के लिए दिया है। आमजन अपनी तमाम डिटेल जांचकर उसमें आवश्यक सुधार करा सकते हैं। इस सुविधा से लोगों को काफी सहूलियत हो जाएगी। 

रेनू श्रीवास्तव, डीपीआरओ

Edited By: Parveen Vashishta