मेरठ, जेएनएन। Rain In Meerut मेरठ और आसपास के जिलों में रात से ही हो रही बारिश के चलते जगह-जगह जलभराव होने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। वहीं सब्जियों की फसलों में भी नुकसान हुआ है। मेरठ में गुरुवार देर रात जागृति विहार उप केंद्र अंतर्गत विद्युत लाइन पर यूकेलिप्टस का पेड़ गिरने से कई इलाकों की बिजली गुल हो गई। बरसात होने के कारण ना तो पेड़ हटाया जा सका और ना ही विद्युत तारों की मरम्मत की जा सके। वहीं दूसरी ओर बुलंदशहर में मकान गिरने से एक महिला की मौत हो गई।

रात से ही झमाझम बारिश

शामली में शुक्रवार में सुबह से ही वर्षा हो रही है। गुरुवार रात में साढ़े दस बजे के बाद मौसम बदल गया था। देर रात में झमाझम वर्षा हुई। शुक्रवार सुबह में भी वर्षा हो रही है। इससे मौसम का मिजाज और ठंडा हो गया है। वहीं सहारनपुर में सुबह चार बजे से हो रही बारिश से कई जगह जलभराव से लोगों को परेशानी उठानी पड़ रही है।

किसान हो रहे परेशान

लगातार बारिश से जहां धान की तैयार खड़ी फसल में संभावित नुकसान से किसान परेशान हैं। वहीं सब्जियों की फसलों में भी नुकसान हुआ है। सब्जियों की फसलों में नुकसान से बाजार में सब्जियों की कीमतों में बढ़ोतरी से आम जन पर अतिरिक्त बोझ पड़ेगा।

बुलंदशहर में भी बारिश

लगातार हो रही बारिश व हवाओं से कई जगह ईख की फसलों के गिरने से गन्ना किसानों की परेशानी को बढा दिया है। इस बीच बुलंदशहर में चमक गरज के साथ हुई वर्षा। तीन दिनों से हो रही बरसात का क्रम चौथे दिन भी जारी है। गुरुवार की रात भर चमक गरज के साथ बरसात हुई और शुक्रवार की सुबह को भी बूंदाबांदी जारी है।

मेरठ में कई इलाके बिजली-पानी को तरसे

मेरठ : गुरुवार देर रात जागृति विहार उप केंद्र अंतर्गत विद्युत लाइन पर यूकेलिप्टस का पेड़ गिरने से कई इलाकों की बिजली गुल हो गई। बरसात होने के कारण ना तो पेड़ हटाया जा सका और ना ही विद्युत तारों की मरम्मत की जा सके। जिसके चलते शास्त्री नगर बी ब्लॉक, जागृति विहार समेत आसपास के कई मोहल्ले रात भर अंधेरे में रहे। सुबह लोग नींद से उठे तो उनके घरों में लगे इनवर्टर भी बोल गए। 

पीने की पानी की भी समस्‍या

मोबाइल डिस्चार्ज हो गए और बिजली गुल होने के कारण पीने के पानी की समस्या खड़ी हो गई। जलकल अनुभाग का जागृति विहार स्थित नलकूप नहीं चल सका। जिससे जलापूर्ति नहीं हो सकी। नगरीय विद्युत वितरण खंडहर द्वितीय के अधिशासी अभियंता विपिन कुमार सिंह का कहना है कि विद्युत लाइन की मरम्मत कराई जा रही है। जल्द बिजली आपूर्ति सुचारू हो जाएगी। पेड़ गिरने से रात 12 बजे से बिजली आपूर्ति बंद हुई थी। बरसात की वजह से मेंटीनेंस कार्य प्रभावित हुआ।

बागपत में खेत खलियान जलमग्‍न

बागपत जिले में गुरुवार को और शुक्रवार की रात रूक-रूक कर वर्षा हो रही है। कभी तेज तो कभी रिमझिम वर्षा से मौसम पूरी तरह बदलाव आ गया। ठंडा मौसम होने से जहां गर्मी से राहत है। किसानों को भी फायदा हुआ। खेत खलियान जलमगन है। फसलों की सिंचाई होने से चेहरे खिल हुए। थोड़ी परेशानी नीचले बस्ती और मोहल्लों में रहने वालों लोगों को हुई।

बागपत में स्‍कूलों में अवकाश

यहां मार्गो पर जलभराव होने से परेशानी बढ़ गई है। बारिश की वजह से वाहन चालकों को भी दिक्कत उठानी पड़ी। बाइक सवार लोग भिगते हुए गंतव्य तक पहुंचे। भरी वर्षा को देखते हुआ डीएम राजकमल यादव ने स्कूलों का अवकाश घोषित कर दिया। मौसम विशेषज्ञ अंकिता नेगी ने न्यूनतम तापमान 24.1और अधिकतम तापमान 28 डिग्री रिकार्ड किया गया। 

बिजनौर में मौसम हुआ सुहावना

बिजनौर में गुरुवार रात से बादलों में तेज गरज के साथ कभी हल्की तो कभी तेज बारिश हो रही है। बारिश से उड़द के अलावा सभी फसलों को फायदा है। हवा के तेज झोंके चलने पर गन्ने और धान की फसल गिर सकती हैं जिससे फसलों की पैदावार प्रभावित होगी। किसान हवा न चलने की प्रार्थना कर रहे हैं। वहीं बारिश से मौसम में ठंडक घुल गई है। नगीना स्थित मौसम वेधशाला के प्रेक्षक सतीश कुमार के अनुसार अभी दो तीन दिन मौसम खराब रहने का ही अंदेशा है।

बुलंदशहर में मकान गिरने से महिला की मौत

बुलंदशहर : अहमदगढ़ में डिबाई-शिकारपुर मार्ग पर स्थित जगदम्बा कोल्ड स्टोरेज के पास बीती रात अचानक मकान भरभरा धराशाई हो गया। जिसमें दंपती व एक रिश्तेदार मलबे दब गए। हादसे की सूचना पर पहुंची थाना पुलिस ने बड़ी मशक्कत के बाद मलबे में दबे लोगों को बाहर निकाला और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डिबाई ले गए। वहां चिकित्सकों ने महिला को मृत घोषित कर दिया। घायलो को उपचार हेतु जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया।

बना रखा था एक कमरा

गांव दारापुर निवासी एक युवक ने अपने खेत सड़क के निकट एक कमरा बना रखा था। करीब 20 दिन पहले उसका रिश्तेदार थाना शिकारपुर क्षेत्र के गांव रायपुर-मौजमपुर निवासी अमरसिंह 60 वर्ष उसकी पत्नी आशा देवी 55 वर्ष उस कमरे रहने लगे। पति अमरसिंह दिन में आटो चलाता था। क्षेत्र में बुधवार से रुक-रुक कर बरसात हो रही है। गुरुवार रात्रि को अमरसिंह का रिश्तेदार गांव दारापुर निवासी सुखवीर 40 पुत्र कनछी गिरि भी आ गया।

पुलिस ने मलबे से निकाला

रात्रि में बरसात के दौरान मकान भरभरा धराशाई हो गया। जिसमें पति-पतनी व रिश्तेदार भी मलबे में दब गए। हादसे की सूचना पर पहुंची पुलिस ने मलबे में दबे लोगों को बाहर निकाला गया। घायलों को उपचार हेतु सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डिबाई ले गए। वहां चिकित्सकों ने आशादेवी 55 वर्ष को मृत घोषित कर दिया और घायलों को उपचार हेतु जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया। पुलिस ने मृतका के शव का पंचनामा भर पीएम को भेज दिया है। मृतका के पति अमरसिंह ने हादसे की तहरीर थाना पुलिस को दी है।

यह भी पढ़ें : Meerut Weather Update: मेरठ में रात से लगातार हो रही बारिश ने बढ़ाई मुश्‍किलें, 25 तक ऐसा रहेगा मौसम का हाल

Edited By: Prem Dutt Bhatt