मेरठ, जागरण संवाददाता। Sunil Bharala News उत्तर प्रदेश के श्रम कल्याण परिषद के निवर्तमान अध्यक्ष और भाजपा नेता सुनील भराला को धमकी दिलाने वाले मारूफ को हैदराबाद से गिरफ्तार कर लिया। वहां पर मारूफ हापुड़ में रहने वाले अपने एक दोस्त के घर में छुपा था।

आई थी धमकी भरी कॉल

बीते दस सितंबर को सुनील भराला के मोबाइल नंबर पर धमकी भरी काल आई थी। पुलिस ने मामले का पटाक्षेप कर नौचंदी के करीम नगर निवासी अतीब ठाकुर, रेहानी अली निवासी ओखला जाकिर नगर थाना जामियानगर दिल्ली और कासिफ खान निवासी जोगाबाई एक्सटेंशन दिल्ली को जेल भेज दिया।

मारूफ पर था 50 हजार का इनाम

अतीब ठाकुर ने पूछताछ में बताया कि सुनील भराला को धमकी देने के लिए नोएडा के सेक्टर 15 निवासी मारूफ ने सुपारी दी थी। मारूफ पर पुलिस ने 50 हजार का इनाम घोषित कर दिया गया था। उसके बाद मारूफ की तलाश में पुलिस ने कई टीमें लगाई हुई थी।

आज देररात तक पहुंचेगा मेरठ

शुक्रवार को पुलिस की एक टीम ने हैदराबाद से मारूफ को गिरफ्तार कर लिया है। एसएसपी रोहित सजवान ने बताया कि मारूफ को हवाईजहाज से लेकर पुलिस की टीम दिल्ली के लिए रवाना हो गई है। उम्मीद है कि देर रात तक मारूफ मेरठ पहुंच जाएगा।

पुलिस मान रही थी मारूफ विदेश भाग गया

पुलिस ने मारूफ के पासपोर्ट निरस्त कराने की तैयारी कर ली गई थी। मारूफ के खिलाफ कोर्ट में अर्जी डालकर वारंट जारी कराया जाता। पुलिस मान रही थी कि शुक्रवार को एयरपोर्ट के बाहर गाडी और मोबाइल छोड़कर मारूफ विदेश भाग गया है।

आप्रवासन ब्यूरो के अफसर को लिखा था लेटर

पुलिस मारूफ की धरपकड़ के लिए दबिश डाल रही थी। पुलिस को जानकारी मिली थी कि मारूफ विदेश भाग गया है। इसलिए पुलिस ने मारूफ के बारे में जानकारी जुटाने के लिए (immigration bureau) दिल्ली आप्रवासन ब्यूरो के प्रवर्तन अधिकारी को पत्र लिखकर जानकारी मांगी थी। साथ ही पुलिस ने मारूफ को 50 हजार का इनामी दर्शाते हुए उसका पासपोर्ट निरस्त कराने की तैयारी कर ली थी।

Edited By: Prem Dutt Bhatt