मेरठ, जागरण संवाददाता। Meerut Crime News मेरठ में बिल्डर प्रदीप गुप्ता के घर लाखों की चोरी करने वाले अनुचर बल बहादुर उर्फ वीर बहादुर को पकड़ना पुलिस के लिए चुनौती बन गया है। वारदात को अंजाम देकर बल बहादुर साथियों के संग सीधे अपने घर नेपाल के डोटी में पहुंचा था। वहां एक दिन रुकने के बाद काठमांडू के लिए निकल गया था। पुलिस जांच में सामने आया कि काठमांडू से बल बहादुर ने पासपोर्ट के लिए भी आवेदन किया था।

काठमांडू पहुंची पुलिस

माना जा रहा है कि बल बहादुर नेपाल से अन्य देश भागने की फिराक में लगा हुआ है। पुलिस की एक टीम बल बहादुर की तलाश को डोटी से फ्लाइट में सवार होकर काठमांडू पहुंच गई है। अभी तक काठमांडू में भी बल बहादुर और उसके साथियों को पकड़ा नहीं जा सका है। टीपीनगर थाने समीप कमला नगर में ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रदीप गुप्ता का परिवार दिल्ली के ताज होटल में बेटी सांची गुप्ता की मंगनी में गया था।

यह भी पढ़ें : Meerut News: कॉलेज में छात्रों ने शिक्षिका से बोला 'आई लव यू', वीडियो की वायरल, तीन के खिलाफ केस दर्ज

बल बहादुर के घर का पता लगाया

नेपाल का रहने वाला अनुचर बल बहादुर उर्फ वीर बहादुर गार्ड मनोज को नशीली खीर खिलाने के बाद बहोश कर गया। उसके बाद घर से करीब 80 लाख कीमत की ज्वैलरी और नकदी चोरी कर ले गया। वारदात को बल बहादुर ने अपने साथी लालिसंह भूल और एक अन्य के साथ अंजाम दिया है। मोबाइल फोन के जरिए पुलिस ने बल बहादुर के घर का पता लगाया।

साथियों संग सीधे निकल गया था नेपाल

उसके बाद पुलिस की दो टीमों को नेपाल भेज दिया गया। पुलिस की टीमों के नेपाल पहुंचने से पहले ही बल बहादुर अपना घर छोड़कर चला गया। यानि वारदात को अंजाम देने के बाद बल बहादुर अपने साथियों के संग सीधे नेपाल गया था। वह घर पर एक रात रहा और उसके बाद काठमांडू के लिए निकल गया था। काठमांडू में बल बहादुर ने पासपोर्ट के लिए आवेदन किया था। माना जा रहा है कि बल बहादुर किसी अन्य देश में भागने में फिराक में है। डोटी से पुलिस की एक टीम फ्लाइट के जरिए शनिवार को काठमांडू पहुंच गई है। हालांकि पुलिस टीम को अभी तक बल बहादुर नहीं मिल पाया है।

भाई को उठाने का प्रयास किया तो ग्रामीणों ने पुलिस की घेराबंदी

पुलिस की टीम ने बल बहादुर के गांव पहुंचकर उसके भाई को उठाने का प्रयास किया था। तभी ग्रामीणों ने पुलिस को घेर लिया था। उसके बाद पुलिस ने बल बहादुर के भाई से घर पर ही पूछताछ की। वहां से पता चला कि बल बहादुर चोरी करने के बाद घर पहुंचा था। पुलिस की एक टीम बल बहादुर के घर पर नजर बनाए हुए है, जबकि दूसरी टीम काठमांडू में धरपकड़ को लगी हुई है।

ज्वैलरी और नकदी का नहीं चला कोई पता

बल बहादुर के परिवार ने बताया कि घर पर वह कोई ज्वैलरी और नकदी लेकर बल बहादुर नहीं गया था। पुलिस मान रही है कि बल बहादुर ने ज्वैलरी और नकदी कहीं छिपा दी है। बल बहादुर के साथी लालसिंह भूल के घर पर भी पुलिस पहुंची थी। वह भी घर पर नहीं मिला है। पुलिस मान रही है कि दोनों ही आरोपित पासपोर्ट बनाकर विदेश भागने की फिराक में है। वहीं एसएसपी रोहित सजवाण का कहना है कि नेपाल पुलिस की मदद लेकर बल बहादुर और उसके साथियों की धरपकड़ की जा रही है। पुलिस की टीमें पूरी तरह से काम कर रही है। उम्मीद है कि काठमांडू से बल बहादुर को जल्द पकड़ लिया जाएगा।

मुबंई में भी मिला बल बहादुर का कनेक्शन

बल बहादुर का कनेक्शन मुंबई से भी जुड़ा हुआ है। वह पहले मुबंई भी रह चुका है। माना जा रहा है कि ज्वैलरी को बल बहादुर मुबंई में बेच सकता है। पुलिस की एक टीम मुंबई से भी पड़ताल कर रही है।

यह भी पढ़ें : Murder In Meerut: आइसीयू में भर्ती हनी सिंह को बनाया सोनिका की हत्या का आरोपित, रिमांड किया तैयार

Edited By: PREM DUTT BHATT

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट