Move to Jagran APP

पहले दूध बेचा करते थे बिल्डर अजय चौधरी, आज बागपत के मरहमपुर में है 40 बीघे का फार्म हाउस

बागपत के गांव महरामपुर निवासी नोएडा के बड़े व्यापारी अजय चौधरी उर्फ संजू राठी के ठिकानों पर मंगलवार तड़के आयकर विभाग की टीम ने छापेमारी की। अजय का पांच बीघा जमीन में बना तीन मंजिला मकान सभी सुख सुविधा से लैस है।

By Parveen VashishtaEdited By: Tue, 04 Jan 2022 11:24 PM (IST)
अजय का पांच बीघा जमीन में बना तीन मंजिला मकान

बागपत, जागरण संवाददाता। बिल्डर अजय चौधरी कभी दूधिया थे। अजय अपने गांव मरहमपुर से दूध बेचने ट्रेन से दिल्ली जाया करते थे। हालांकि अजय जब कंस्ट्रक्शन के क्षेत्र में उतरे तो कुछ ही वर्षों में सफल बिल्डर बन गए। गांव में उनका छोटा सा मकान देखते ही देखते 40 बीघे के फार्म हाउस में बदल गया। आज पांच बीघे में बना उनका तीन मंजिला मकान सभी सुख सुविधाओं से सुसच्जित है।

बागपत अंतर्गत गांव महरमपुर निवासी अजय चौधरी उर्फ संजू राठी नोएडा में रहते हैं। अजय चौधरी एसीई ग्रुप के चेयरमैन हैं। मंगलवार सुबह पांच बजे आयकर विभाग की टीम ने अजय चौधरी के फार्म हाउस पर छापा मारा। ग्रामीणों के मुताबिक, 20 साल पहले अजय की गांव में ही दूध की डेयरी थी। बाद में अजय साइकिल से खेकड़ा, फिर वहां से ट्रेन द्वारा दिल्ली के यमुना विहार जाकर दूध बेचने लगे। अजय ने नोएडा में प्राइवेट नौकरी भी की। बताया जा रहा है कि इसी दौरान वह सपा नेताओं के संपर्क में आए। सपा नेताओं ने उनकी मुलाकात सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से कराई। आगे चलकर अजय बिल्डर बन गए। अजय के परिवार में बड़े भाई प्रताप उर्फ सतीश, मां सफेदी, पत्नी कृष्णा व एक बेटी हैं। चाचा राजेंद्र गांव के पूर्व प्रधान हैं।

मंदिर में कराया था भव्य जागरण

गांव में अजय चौधरी ने करोड़ों रुपये की जमीन खरीदी, 40 बीघा फार्म हाउस तैयार किया। यहां के मकान में अजय की मां व पत्नी रहती हैं। अजय ने गांव में मंदिर भी बनवाया है। वर्ष 2013 में अजय ने माता का भव्य जागरण कराया था। जागरण में लग्जरी कारों से तमाम वीआइपी पहुंचे थे। ग्रामीणों को भोजन करवाया गया था। ग्रामीणों ने बताया कि अजय चौधरी दीपावली पर गांव आए थे हालांकि लोगों से उनका कम ही मिलना जुलना था।