मेरठ, जेएनएन। उत्‍तर प्रदेश के मेरठ में सोमवार को चार और संक्रमितों में स्ट्रेन-2 की पुष्टि हो गई है। इसकी सूचना मिलते ही स्‍वास्‍थ्‍य विभाग में हड़कंप मच गया। जिले में स्‍ट्रेन-2 को लेकर अलर्ट जारी कर दिया गया है। अब संख्या पांच पहुंच गई है। संत विहार में लंदन से लौटे दंपती और पल्हेड़ा में उनके दो रिश्तेदारों में नया स्ट्रेन मिला है। दो साल की बच्ची में पहले ही पुष्टि हो चुकी है। सीएमओ डा. अखिलेश मोहन ने बताया कि एक महिला की जीनोम सिक्वेंसिंग की रिपोर्ट जारी नहीं हुई है। प्रदेश में स्ट्रेन-2 के सर्वाधिक मामले मेरठ में दर्ज हो गए हैं। मेरठ से भेजे गए 13 में से 12 सैंपलों की रिपोर्ट मिल गई, जिसमें पांच लोग नए स्ट्रेन की चपेट में आए हैं।

थाना टीपी नगर के संत विहार में 14 दिसंबर को एक परिवार लंदन से लौटा था, जिसमें एक बच्ची समेत तीन में कोरोना मिला। स्वास्थ्य विभाग ने सभी का सैंपल जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए नई दिल्ली की सीएसआइआर लैब में भेजा, जहां ढाई साल की बच्ची में स्ट्रेन-2 मिला। उसके माता-पिता का वायरल लोड कम होने से जीनोम सिक्वेंसिंग नहीं हो पाई, लिहाजा उनका दोबारा सैंपल मांगा गया।

सोमवार को उनमें भी ब्रिटेन वाले स्ट्रेन की पुष्टि हो गई। उधर, संत विहार के संक्रमित परिवार के पल्हेड़ा में बलवंत नगर निवासी रिश्तेदारों में चार को कोरोना हो गया। उनकी जीनोम रिपोर्ट सोमवार को जारी हुई। इसमें संत विहार की संक्रमित बच्ची के फूफा व उनके घर में 15 साल के लड़के में ब्रिटेन का वायरस मिला। माना जा रहा कि बच्ची की बुआ में भी ब्रिटेन का स्ट्रेन मिल सकता है, जिनकी रिपोर्ट प्रतीक्षारत है।

जिला सॢवलांस अधिकारी डा. प्रशांत ने बताया कि दोनों परिवार कई बार मिले, जिससे वायरस संक्रमित हुआ। अब बलवंत नगर को सील करने के साथ ही कांटेक्ट ट्रेसिंग पर जोर दिया जाएगा। संक्रमित परिवार के संपर्क में आने वालों की सूची बना ली गई है। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप