मेरठ, जेएनएन। मवाना में विहिप व बजरंग दल के जिला हस्तिनापुर व मेरठ प्रांत के कार्यकर्ताओं ने बांग्लादेश, पाकिस्तान व अफगानिस्तान में लगातार हो रहे हिदुओं के नरसंहार व मंदिरों पर हुए हमलों के विरोध को अंतरराष्ट्रीय मंच पर रखने एवं पड़ोसी देशों में हिदुओं की रक्षा के लिए सुरक्षा नीति बनाने की मांग को लेकर गुरुवार को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन तहसीलदार रामचंद्र को सौंपा गया।

विहिप के जिलाध्यक्ष अमर रस्तोगी के नेतृत्व में कार्यकर्ता नगर पालिका के पास मैदान में एकत्र हुए और नारेबाजी करते हुए तहसील पहुंचे। बांग्लादेश में जेहादियों द्वारा हिदुओं का सामूहिक नरसंहार, मंदिरों पर हमले, मूíतयां तोड़ने व वैश्विक संगठन इस्कान के सेवा केंद्रों को विध्वंस करने के विरोध में प्रदर्शन कर तहसीलदार रामचंद्र को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौपा। ज्ञापन में अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग में विरोध दर्ज कराते हुए भारत के पड़ोसी देशों में हिदुओं की जानमाल व धर्मस्थलों की रक्षा के लिए सुरक्षा नीति तैयार कर सुरक्षा सुनिश्चित कराने, हत्यारों को गिरफ्तार कर फांसी दिए जाने, मृतकों के स्वजन व घायलों को मुआवजा देने, विध्वंस की गई संपत्ति की क्षतिपूíत कर मंदिरों का पुन: निर्माण कराकर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने तथा अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग, संयुक्त राष्ट्र संघ आदि वैश्विक समुदाय के संगठनों को हिदुओं के मानवाधिकारों को समझकर उनकी रक्षा के लिए प्रभावी कदम उठाने की मांग की है। ज्ञापन देने प्रदर्शनकारियों में सुभाष गाब्बा, सुरेश बाधवा, महेश आर्य, मुकेश शर्मा, अíपत पांडे, प्रभात कुमार, अमित कसाना, आदित्य कंसल, सचिन मोतला, लवकुश शर्मा, शिवम, मोहित पोसवाल, मुंशीराम और रविकांत कसंल आदि लोग उपस्थित थे।

- - - -

Edited By: Jagran