मेरठ, जेएनएन। एडीजी विमेन पावर लाइन के पद से अंजू गुप्ता को मेरठ पीटीएस की कमान दी गई हैं, अब से पंद्रह साल पहले भी अंजू गुप्ता मेरठ की कमान संभाल चुकी है। 2004-05 में मेरठ की पहली महिला कप्तान रह चुकी हैं, उन्होंने मनचलों को खूब सबक सिखाया था। सड़कों पर डंडा लेकर खुद पहुंचना, बगैर अनुमति धरना-प्रदर्शन पर सख्त कार्रवाई जैसी घटनाएं अब भी मेरठ के लोगों के जेहन में हैं। अस्वस्थ होने की वजह से वह फिलहाल अवकाश पर हैं। अवकाश से लौटने के बाद ही पीटीएस का पदभार ग्रहण करेंगी।

अंजू गुप्ता का मेरठ कार्यकाल भी काफी अच्छा रहा था। हालांकि वह 1992 बाबरी विध्वंस के मामले से जुड़े होने के चलते सुíखयों में आई थी। फिलहाल उन्हें एडीजी विमेन पावर लाइन की जिम्मेदारी दी गई थी। उनका स्वास्थ्य खराब होने की वजह से अवकाश पर चल रही हैं, फिलहाल उनकी तैनाती पीटीएस मेरठ में हो गई है। उससे पहले यहां का चार्ज आइजी लक्ष्मी सिंह संभाल रही थीं। पीटीएस की एसपी कमलेश का कहना है कि अंजू गुप्ता अभी अवकाश पर है। अवकाश से लौटने के बाद चार्ज ग्रहण करेंगी। उनसे फोन पर बातचीत करने की कोशिश की गई, लेकिन अस्वस्थता की वजह से वे उपलब्ध नहीं हुई। दोहरे हत्याकांड के आरोपित को जेल भेजा

मेरठ। जसौर गांव में पुरानी रंजिश एवं क्रिकेट खेलने को लेकर बच्चों हुए विवाद के बाद दो सगे भाइयों की गोली मारकर हत्या करने के मामले में फरार चले रहे एक आरोपित को पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

जसौरा में एक सप्ताह पूर्व दो पक्षों में पुरानी रंजिश एवं बच्चों के क्रिकेट खेलने को लेकर अजवर व पूर्व प्रधान नियाज अहमद पक्ष के लोगों के बीच विवाद हो गया था। जिसमें अजवर के दो लड़कों अब्दुल खालिक व माजिद की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इसमें 11 लोगों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज किया गया था। छह लोगों को पुलिस पहले ही जेल भेज चुकी है। बुधवार को पुलिस ने दोहरे हत्याकांड में नामजद आरोपित वसीम पुत्र नियाज अहमद को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। एसओ रवि चंद्रवाल ने बताया की सात आरोपित जेल भेज दिए गए है चार अभी फरार है। जल्द उन्हें भी गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस