मेरठ : मूलरूप से मुंबई की मौशमी उडेशी जानी-मानी मॉडल होने के साथ-साथ बॉलीवुड की कुछ फिल्मों में बतौर सपोर्टिग एक्ट्रेस काम कर चुकी हैं। उनका सबसे पहला विज्ञापन नेसकैफे कॉफी का था, जिसे बहुत सराहा गया। इसके साथ ही उन्होंने बहुत सी विडियो एवं विज्ञापन में काम किया है। रविवार को परतापुर स्थित होटल ब्रावुर में द ग्रेट मॉडल 2016 को जज करने आई मॉडल व बॉलीवुड एक्ट्रेस मौशमी उडेशी से हुई जागरण की बातचीत के कुछ अंश :

अपनी आने वाली फिल्मों के विषय में बताएं?

मेरी दो फिल्में आने वाली हैं। इनमें एक है फरहाना ताज और एक है पराकाष्ठा। इसमें मैं एक डांस टीचर का रोल प्ले कर रही हूं। वैसे भी मैंने रियल लाइफ में नालंदा इंस्टीट्यूट से सात साल का भरनट्यम कोर्स किया है।

फिल्म इंडस्ट्री के विषय में क्या कहेंगी?

यह इंडस्ट्री बहुत खराब है। खासतौर पर लड़कियों को बहुत संघर्ष करना होता है। कदम-कदम पर उनका शोषण होता है। मैंने अपने तेरह साल के करियर में कभी समझौता नहीं किया, शायद इसलिए मेरी सक्सेस इतनी धीरे है।

जजमेंट करते समय मेन फोकस किन खूबियों पर होगा?

मॉडल में ग्रेस होना जरूरी है। आपकी चाल-ढाल के साथ पोज भी परफेक्ट होने चाहिए। साथ ही यदि कोई अतिरिक्त खूबी हो तो उसे भी ध्यान रखा जाएगा।

प्रत्यूशा बैनर्जी के सुसाइड के विषय में क्या कहेंगी?

प्रत्यूशा को छोटी उम्र में इतनी सक्सेस मिली तो निश्चित रूप से उसने कहीं न कहीं तो काम्प्रोइज किया ही होगा। परंतु जितना मैं उसे जानती हूं वह आत्महत्या नहीं कर सकती। उसकी हत्या हुई है और निश्चित रूप से वह उसके बॉयफ्रेंड राहुल ने ही की होगी।

अपकमिंग मॉडल के लिए सुझाव?

मॉडल बनने के लिए आपको मेहनत तो करनी ही होगी। साथ-साथ एक बैकअप प्लान भी सोच कर रखें। इस इंडस्ट्री में सफल होने के लिए बहुत संघर्ष करना होता है। इसलिए साथ में पार्ट टाइम काम भी करें, जिससे आर्थिक रूप से परेशानी न हो।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस