जागरण संवाददाता, चिरैयाकोट (मऊ) : थाना क्षेत्र के सकुनी कुटी के पास चिरैयाकोट व रानीपुर थाना की सीमा पर बने पुल से सोमवार को दोपहर गांव के युवकों के साथ नहाने गया एक युवक प्रेरित करने पर पुल से नदी में कूद गया। जब युवक डूबने लगा तो उसके दो साथी अपने घर चले गए। युवक के डूबने की जानकारी किसी को नहीं दी। पुल पर मौजूद किसी ने युवक के कपड़े में उसका आधार कार्ड निकला और गांव में सूचना दी। युवक के नदी में डूबने की खबर पर चिरैयाकोट व रानीपुर थाना की पुलिस मौके पर पहुंच गई। शाम तक युवक की तलाश गोताखोर करते रहे लेकिन युवक नहीं मिला। युवक की डूबने की खबर से परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है।

क्षेत्र के छपरा चक बदरूद्दीन निवासी सुरेश कन्नौजिया महाराष्ट्र के थाना जिला के वाशी में रहकर कपड़े प्रेस करने का कार्य करते हैं। लॉकडाउन में मंदी के चलते वह घर आ गए हैं। उनके चार पुत्रों में दूसरे नंबर का पुत्र अमन कन्नौजिया सुबह घर से बाहर मोहल्ले में गया था। परिवार का आरोप है गांव के ही दो युवक उसे नदी पर के गए थे और •ाबरदस्ती उसे पुल से कूदने को कहा। युवक नदी में कूदने से मना कर रहा था परंतु साथी युवकों ने जबरदस्ती कूदने के लिए प्रेरित किया। युवक नदी में कूदा और डूबने लगा। युवक को डूबता देख साथी युवक वहां से फरार अपने घर पहुंच गए। युवक के डूबने की बात किसी को नहीं बताई। पुल पर मौजूद किसी ने युवक के कपड़े देखे । कपड़े में रखे आधार कार्ड से उसके गांव में इसकी सूचना दी गई। परिजन भागते हुए पुल पर पहुंचे। दो थानों की सीमा का मामला होने के कारण रानीपुर थाना व चिरैयाकोट थाना की पुलिस मौके पर युवक की तलाश में देर शाम तक जुटी रही। जिला से गोताखोरों की टीम को बुलाया गया था। थानाध्यक्ष रूपेश कुमार सिंह ने बताया कि नदी की तेह में घास जामी होने व नदी की गहराई ज्यादा होने के कारण घंटों पानी में ढूंढने के बाद भी युवक नहीं मिला। कहा के घटनास्थल रानीपुर थाना क्षेत्र में है। आगे की कार्यवाही वहीं से होगी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस