Move to Jagran APP

क्या यूपी की इस सीट पर नहीं चलेगा BJP का जादू? झोंकी हर ताकत, पीएम-सीएम की सभा भी नहीं आ रही काम

घोसी लोकसभा सीट पर भाजपा समर्थित एनडीए प्रत्याशी डा. अरविंद राजभर को भी हार का सामना करना पड़ सकता है। कैबिनेेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर तो पिछले तीन माह से डेरा डाले हुए थे। वह जनता के बीच घूम-घूमकर न सिर्फ चुनाव प्रचार कर रहे थे बल्कि केंद्र व प्रदेश सरकार की हर योजनाओं से मतदाताओं को अवगत भी करा रहे थे।

By Jaiprakash Nishad Edited By: Aysha Sheikh Tue, 04 Jun 2024 04:27 PM (IST)
क्या यूपी की इस सीट पर नहीं चलेगा BJP का जादू? झोंकी हर ताकत, पीएम-सीएम की सभा भी नहीं आ रही काम
क्या यूपी की इस सीट पर नहीं चलेगा BJP का जादू?

जागरण संवाददाता, मऊ। घोसी लोकसभा सीट पर तीन कैबिनेट मंत्रियों की प्रतिष्ठा नहीं बच सकी और भाजपा समर्थित एनडीए प्रत्याशी डा. अरविंद राजभर को भी हार का सामना करना पड़ सकता है। कैबिनेेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर तो पिछले तीन माह से डेरा डाले हुए थे। वह जनता के बीच घूम-घूमकर न सिर्फ चुनाव प्रचार कर रहे थे बल्कि केंद्र व प्रदेश सरकार की हर योजनाओं से मतदाताओं को अवगत भी करा रहे थे। बावजूद जनाधार उनके विपरीत आने की संभावना है।

डा. अरविंद राजभर कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर के पुत्र हैं। इस सीट पर सुभासपा का काफी दबदबा है। 2004 में इस सीट से सुभासपा से अक्षय कुमार राजभर चुनाव लड़े थे। वह 52 हजार 72 मत पाकर पांचवें नंबर पर थे। 2019 लोकसभा चुनाव में इस सीट से सुभासपा के महेंद्र राजभर चुनाव लड़े थे। वह 39 हजार 860 मत पाकर तीसरे नंबर पर थे। अब इस बार भी लोकसभा चुनाव में राजभर प्रत्याशी के रूप में सुभासपा प्रत्याशी अरविंद राजभर को पहली बार चुनाव मैदान में उतारा गया था।

इससे पहले भी दो बार अलग अलग जिले के दो विधानसभा चुनाव में किस्मत आजमा चुके हैं, लेकिन दोनों में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। वर्ष 2017 में अरविंद राजभर ने बलिया जनपद की बासडीह विधानसभा से चुनाव लड़े थे। वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में सपा के साथ मिलकर अरविंद राजभर वाराणसी की शिवपुर विधान सभा से चुनाव मैदान में थे। यहां भाजपा के अनिल राजभर ने उनको हराया था। अब यहां भी उनको सपा के राजीव राय से हार का सामना करना पड़ा है।

हालांकि एनडीए प्रत्याशी की जीत सुनिश्चित करने के लिए नगर विकास व ऊर्जा मंत्री एके शर्मा, कारागार मंत्री दारा सिंह चौहान, कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने अपनी पूरी ताकत लगा दी थी। कारागार मंत्री का लोनिया व चौहान विरादरी मेंं पैठ है। साथ ही कैबिनेेट मंत्री एके शर्मा ने काफी विकास के कार्य कराऐ थे। यह तीन लोग मतदाताओं के बीच जा-जाकर एनडीए प्रत्याशी के समर्थन में वोट भी मांग रहे थे।

यही नहीं डिप्टी सीएम बृजेश पाठक, केशव मौर्य, कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही ने भी पूरी ताकत झोंक दी थी। पीएम नरेन्द्र मोदी ने 26 मई को रतनपुरा के मेउड़ी के मैदान में व पीएम योगी आदित्यनाथ रानीपुर के जनता इंटर कालेज के मैदान में जनसभा को संबोधित किए था और जनता को वोट की अपील किए थे। इसके बावजूद जनता का रुख बदला नजर आया। अंत समय में जनता ने एकतरफा सपा प्रत्याशी राजीव राय को वोट किया और जीत हासिल की।