Move to Jagran APP

UP Politics: सपा मुखिया अखिलेश यादव के यूपी की ये सीट छोड़ने से पहले ही टिकट के दावेदारों की लगी लाइन

Mainpuri News In Hindi शनिवार को लखनऊ में हुई बैठक के दौरान अखिलेश संसदीय दल के नेता भी चुने गए हैं। इससे अब यह स्पष्ट हो गया है कि वह करहल सीट से इस्तीफा देंगे। ऐसे में करहल से चुनाव लड़ने वाले दावेदारों के नाम पर तेजी से चर्चा शुरू हो गई। यहां के लिए दावेदारों में पूर्व सांसद तेजप्रताप सिंह यादव का नाम सबसे ऊपर है।

By prateek bhadoria Edited By: Abhishek Saxena Published: Sun, 09 Jun 2024 02:37 PM (IST)Updated: Sun, 09 Jun 2024 02:37 PM (IST)
Mainpuri News: करहल से तेजप्रताप हो सकते हैं प्रत्याशी

जागरण संवाददाता, मैनपुरी। सपा मुखिया अखिलेश यादव कन्नौज से सांसद बनने के बाद करहल विधानसभा सीट छोड़ने जा रहे हैं। शनिवार को अखिलेश यादव के संसदीय दल का नेता चुने जाने के बाद यह स्पष्ट हो गया है। यहां उपचुनाव की घोषणा जल्द होने की संभावना जताई जा रही है। ऐसे में सपा की टिकट के दावेदारों की दौड़ में पूर्व सांसद तेज प्रताप यादव का नाम सबसे आगे है।

इस बार के लोकसभा चुनाव में सपा का प्रदर्शन शानदार रहा है। पार्टी ने प्रदेश की 37 सीटों पर कब्जा जमाया है। लोकसभा चुनाव के दौरान अखिलेश यादव ने तेजप्रताप को कन्नौज सीट से प्रत्याशी घोषित किया था, बाद में कार्यकर्ताओं के अनुरोध पर उन्होंने खुद चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की।

वहीं विधानसभा चुनाव में करहल सीट से अखिलेश यादव सपा तो केंद्रीय राज्य मंत्री प्रो. एसपी सिंह बघेल ने भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ा। यहां उन्होंने भाजपा प्रत्याशी को 67504 वोटों से हरा दिया। यहां सपा को 148196 और भाजपा प्रत्याशी को 80692 वोट मिले थे।

करहल सीट से ये हो सकते हैं दावेदार

अखिलेश यादव के संसदीय दल का नेता चुना जाने के बाद अब वह करहल विधानसभा सीट से इस्तीफा देंगे। ऐसी स्थिति में यहां सपा की ओर से कई दावेदार सामने आ सकते हैं। जिसमें सबसे पहला नाम सैफई परिवार से और पूर्व सांसद तेजप्रताप यादव का सामने आ रहा है। इसके अलावा पूर्व एमएलसी और सपा राष्ट्रीय प्रमुख महासचिव रामगोपाल यादव के भांजे अरविंद यादव के अलावा अखिलेश के लिए सीट छोड़ने वाले पूर्व विधायक सोबरन सिंह यादव दावेदार हो सकते हैं। हालांकि इसका निर्णय तो पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और शीर्ष नेतृत्व को ही करना है।

ये भी पढ़ेंः Modi 3.0 Cabinet: सस्पेंस हुआ खत्म, चौधरी चरण सिंह-अजित सिंह के बाद अब जयन्त चौधरी बनेंगे मोदी सरकार में मंत्री

पूर्व मंत्री ने भी करहल से ठोंकी दावेदारी

विधानसभा से विधायक और सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के कन्नौज से सांसद और संसदीय दल का नेता चुने जाने के बाद करहल सीट से नेता दावेदारी ठोंकने लगे हैं। सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के राजनीतिक गुरु चौधरी नत्थू सिंह के पुत्र और पूर्व मंत्री सुभाष चंद्र यादव ने शनिवार को करहल सीट से चुनाव लड़ने की दावेदारी की। उन्होंने कहा कि वह जल्द ही पार्टी हाइकमान को टिकट के लिए आवेदन करेंगे।

ये भी पढ़ेंः Modi 3.0 Cabinet: पीलीभीत से वरुण गांधी का टिकट काटकर लड़ाया, अब मोदी सरकार में जितिन प्रसाद का मंत्री बनना तय

करहल सीट के संबंध में जो भी निर्णय होगा, वह राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा ही होगा। फिलहाल जिला कार्यकारिणी को इस संबंध में कोई सूचना नहीं दी गई है। शीर्ष नेतृत्व द्वारा जो भी निर्णय लिया जाएगा। पदाधिकारी और कार्यकर्ता उसका स्वागत करेंगे। आलोक शाक्य, जिलाध्यक्ष सपा।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.