मैनपुरी, जेएनएन। लोकसभा चुनाव 2019 में मैनपुरी लोकसभा क्षेत्र से आज मुलायम सिंह यादव नामांकन दाखिल करेंगे। उनके इटावा से मैनपुरी आगमन से पहले दन्नाहार क्षेत्र में सड़क के किनारे हैंड ग्रेनेड मिलने से दहशत फैल गई। एसपी अजय शंकर राय ने बताया कि हैंड ग्रेनेड निष्क्रिय है।  

हैंड ग्रेनेड थाना दन्नाहार क्षेत्र के ग्राम झंडाहार के पास सड़क के एक किनारे पर मिला। मौके पर पहुंची पुलिस ने हैंड ग्रेनेड को कब्जे में लिया। इसके बाद जांच में जुट गई है। मुलायम सिंह यादव अपना नामांकन करने अखिलेश यादव के साथ मैनपुरी-इटावा मार्ग से पहुंचे जबकि ग्रेनेड मैनपुरी शिकोहाबाद मार्ग पर मिला। दोनों ही रास्ते अलग-अलग हैं। इस बात को लेकर प्रशासन ने थोड़ी राहत की सांस ली है।

मैनपुरी में आज मुलायम सिंह यादव के साथ ही अखिलेश यादव के आगमन की सूचना पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम थे। मामला प्रदेश के दो पूर्व मुख्यमंत्रियों की सुरक्षा का है। इसी बीच वहीं दन्नाहार क्षेत्र में सड़क किनारे ग्रेनेड मिलने से दहशत फैल गई। ग्रेनेड कहां से आया, इसको लेकर पड़ताल शुरू कर दी गई है।

मैनपुरी के थाना दन्नाहार के गांव कपूरपुर के ग्रामीण सोमवार सुबह टहलने के लिए सड़क पर पहुंचे तो पटरी पर बंबा की ओर एक ग्रेनेड पड़ा दिखाई दिया। ग्रेनेड मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई, भीड़ जमा हो गई। मौके पर पुलिस भी पहुंच गई। ग्रेनेड को कब्जे में ले लिया गया है।

मुलायम सिंह यादव के इटावा से मैनपुरी रवाना होने के समय मैनपुरी के दन्नाहर थाना क्षेत्र में हाई-वे के पास एक निष्क्रिय हैंड ग्रेनेड मिलने से सनसनी फैल गई। एसपी अजय शंकर राय ने बताया कि सुबह कुछ बच्चों ने इसको तालाब से निकालकर सड़क के किनारे फेंक दिया है। यह निष्क्रिय है। हम इसकी जांच भी करा रहे हैं। किसी को भी किसी प्रकार का खतरा नहीं है।

ग्रेनेड मिलने से अधिकारियों में खलबली मच गई। मैनपुरी से पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव को मैनपुरी पहुंच कर नामांकन करना था। उनके साथ उनके पुत्र पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी हैं। दोनों की सुरक्षा के लिए कड़े इंतजाम किए गए है। इस दौरान यहां पर सड़क के किनारे ग्रेनेड मिलने से अधिकारियों की चिंता बढ़ गई है। 

ग्रेनेड कहां से आया इसका जवाब फिलहाल अधिकारियों के पास नहीं है। ग्रेनेड रखे जाने के पीछे अपराधियों की मंशा क्या है, इसको लेकर भी कोई जानकारी जुटाने में अधिकारी सफल नहीं हो पाए है। बरामद ग्रेनेड सेना का बताया जा रहा हैं। इसके बाद मुलायम सिंह यादव का रूट बदलने की भी खबर फैली। जहां पर हैंड ग्रेनेड मिला है यह क्षेत्र मैनपुरी में नामांकन करने जा रहे मुलायम सिंह के रूट से आठ किलोमीटर दूर है।

ये भी पढ़ें- सपा मुखिया अखिलेश के साथ क्रांति रथ पर सवार हो मैनपुरी पहुंचे मुलायम सिंह यादव

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Prateek Gupta