Move to Jagran APP

UP Weather Today: पश्चिमी यूपी में गर्मी का कहर, पूर्वी उत्तर प्रदेश में कल से बारिश, जानिए आज यूपी के मौसम का हाल

UP Weather Update यूपी में मौसम का मिजाज बदल गया है। प्रदेश में मानसून की दस्‍तक होने वाली है लेकिन इससे पहले गर्मी ने लोगों की हालत खराब कर दी है। वहीं बुधवार रात को बारिश होने से गुरुवार दिन में गर्मी से काफी राहत मिली है। अब भी कई जिलों में तेज हवाएं चल रही हैं। 23 जून लगातार गरज के साथ बौछारें पड़ने के आसार हैं।

By Jagran News Edited By: Vivek Shukla Fri, 21 Jun 2024 07:04 AM (IST)
गोरखपुर में गुरुवार देर शाम आसमान में कुछ इस तरह दिखा बादलों का दृश्य। जागरण

 जागरण संवाददाता, लखनऊ। लखनऊ समेत प्रदेश के कई जिलों में बुधवार रात हल्की बारिश होने से मौसम सुहाना हो गया। इसका असर गुरुवार को भी रहा। सुबह से बादलों की आवाजाही और ठंडी हवा चलने की वजह से लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिली। हालांकि पश्चिमी यूपी में गर्मी का कहर अभी कुछ दिन जारी रहेगा।

मौसम विभाग के मुताबिक, मानसून बिहार पहुंच चुका है। शुक्रवार रात से शनिवार दोपहर तक गोरखपुर और आसपास के जिलों में मध्यम से तेज बारिश के आसार बन रहे हैं। वहीं, लखनऊ में रविवार को मानसून प्रवेश करेगा और 26 जून तक झमाझम बादल बरसेंगे। लखनऊ समेत कई इलाकों में हल्की बरसात और बादलों की आवाजाही ने भीषण गर्मी से बड़ी राहत दी है।

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अतुल कुमार सिंह के मुताबिक, राजधानी में अधिकतम तापमान में लगभग 6.5 डिग्री और न्यूनतम तापमान में चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है। प्रदेश के करीब 20 से अधिक जिलों में दिन का पारा 40 के नीच लुढ़क गया। लखनऊ में शुक्रवार को अधिकतम तापमान में दो-तीन डिग्री की वृद्धि हो सकती है, लेकिन शनिवार से बादलों की आवाजाही शुरू होगी और रविवार से 26 जून तक हल्की से तेज बरसात के पूर्वानुमान हैं।

इसे भी पढ़ें-'इंस्पेक्टर साहब से बात हो गई है...विकास दूबे की तरह गोली मारेंगे', बरेली पुलिस को मिली धमकी

मौसम विभाग का कहना है कि मध्य क्षोभ मंडल में जम्मू कश्मीर के ऊपर पश्चिमी विक्षोभ तथा निचले क्षोभ मंडल में बंगाल की खाड़ी से आ रही नम पुरवा हवाओं के कारण मानसून की परिस्थितियां अनुकूल हैं। पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई जिलों में तेज झोंकेदार हवा के साथ हुई हल्की से मध्यम बारिश ने लू का दौर खत्म कर दिया है। आने वाले समय में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है।

अतुल कुमार सिंह कहते हैं, 31 मई से पश्चिम बंगाल के इस्लामपुर में रुकी मानसून की पूर्वी शाखा 20 दिन बाद गुरुवार को सक्रिय हुई, जिसकी वजह से मानसून बिहार में तेजी से आगे बढ़ रहा है। एक-दो दिन में यह तेजी से पूर्वी यूपी के लगभग सभी जिलों तक पहुंचेगा। इन जिलों में अब लू का दौर समाप्त हो चुका है। हालांकि, पश्चिमी यूपी को अभी कुछ दिन मानसून का इंतजार करना होगा।

इसे भी पढ़ें-घर में बेटे के शव के साथ दो दिनों से रह रही थी असहाय मां, बदबू आने पर पड़ोसियों ने की जांच तो खुला मामला

हल्की वर्षा ने गिरा दिया पारा मानसूनी वर्षा की जगी आस

गोरखपुर में बीते पखवारे भर से भीषण गर्मी की तपिश झेल रहे लोगों के लिए बुधवार की रात सौगात बन कर आई। तेज हवा के साथ हल्की वर्षा ने गोरखपुर का पारा तेजी से गिरा दिया। साथ ही मानसून की दस्तक का अहसास करा दिया। मौसम विभाग के मानक पर मात्र दो मिलीमीटर हुई वर्षा से गुरुवार को अधिकतम तापमान में आठ डिग्री और न्यूनतम तापमान में पांच डिग्री सेल्सियस की गिरावट बीते दिन के मुकाबले दर्ज की गई।

एक बारगी लोगों को लगा कि मानसून आ गया पर मौसम विज्ञानी कैलाश पांडेय ने स्पष्ट किया कि यह वर्षा मानसूनी नहीं है पर इसे लेकर आस जगाने वाली जरूर है। मानसून बिहार तक पहुंच गया है, जिसका असर पूर्वांचल पर दिखने लगा है। एक-दो दिन में पूर्वांचल तक भी मानसून पहुंच जाएगा और मौसम की गर्मी को कुछ दिन के लिए पूरी तरह शांत करेगा।

मौसम विज्ञानी ने बताया कि अध्ययन के मुताबिक 22 जून से मानसूनी वर्षा की शुरुआत हो सकती है। उसके बाद छिटपुट वर्षा का सिलसिला चलता रहेगा। 25-26 जून को अच्छी वर्षा की की संभावना बन रही है, जो कृषि के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी।

मानसूनी वर्षा के मानक की जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि जब लगातार तीन दिन तक 2.5 मिलीमीटर वर्षा रिकार्ड होगी और उस वर्षा का दायरा कम से कम 100 वर्ग किलोमीटर का रहेगा, तो उसे मानसूनी वर्षा करार दिया जाएगा।

गुरुवार का अधिकतम तापमान 34.4 और न्यूनतम तापमान 23.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ। बुधवार को अधिकतम तापमान 42 और न्यूनतम तापमान 28.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।