लखनऊ, जेएनएन। Video Viral of UP Me Baba Ba Fame Anamika Ambar : उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के दौरान बिहार की नेहा सिंह राठौर (Neha Singh Rathore) के यूपी में का बा (UP Me Ka Ba) को यूपी में बाबा बा (UP Me Baba Ba) के माध्यम से माकूल जवाब देने वाली कवियत्री अनामिका अंबर काफी आहत हैं। अनामिका (Anamika Ambar) को बिहार के सोनपुर में चल रहे मेले में शुक्रवार को कवि सम्मेलन में उनको जाने नहीं दिया गया। वह पटना एयरपोर्ट पर ही रोकी गईं। उन्होंने पटना के एयरपोर्ट से ही इसके विरोध में वीडियो संदेश जारी किया, जो कि काफी वायरल हो रहा है।

उत्तर प्रदेश के ललितपुर की निवासी अनामिका अंबर अपने काव्य पाठ के कारण कम ही समय में काफी विख्यात हो गई है। ग्वालियर से एमएससी बाटनी तक की शिक्षा लेने वाली अनामिका की कविताओं के काफी लोग दीवाने हैं। बीते दिनों बिहार की नेहा सिंह राठौर के यूपी में का बा को यूपी में बाबा बा के माध्यम से जोरदार जवाब देने वाली अनामिका अंबर बिहार में उनके साथ शुक्रवार को हुए बर्ताव के कारण काफी आहत हैं।

अनामिका अंबर को बिहार के सोनपुर के विख्यात मेले में बुलाया गया। वह नई दिल्ली से पटना एयरपोर्ट पहुंची तो उनको सोनपुर जाने से रोक दिया गया। इस दौरान जब अन्य कवियों को इसकी जानकारी हुई तो उन लोगों ने सोनपुर मेले में इसका अन्य कवियों ने भी विरोध किया। इन सभी ने कवि सम्मेलन का बहिष्कार किया। बिहार के हरिहर क्षेत्र में आयोजित सोनपुर मेले में आयोजित अखिल भारतीय कवि सम्मेलन में 'यूपी में बाबा' गाने वाली स्टार कवियत्री डा.अनामिका जैन अंबर को भी तमाम कवियों के साथ काव्यपाठ के लिए आमंत्रित किया गया था, पर उन्हें वहां जाने नहीं दिया गया। जिससे वह कविता पाढ़ करने से वंचित रह गईं।

अनामिका अम्बर को काव्यपाठ करने से मना करने के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के समर्थन में काव्यपाठ नहीं करने की बात उनसे फोन पर कही गई, जिसके कारण वह पटना से सोनपुर मेला के कार्यक्रम में नहीं पहुंच सकीं। उनको रोका गया।

फेसबुक लाइव में अनामिका अंबर में बताया कि कि करीब एक महीने पहले उन्हें इस कार्यक्रम के लिए आमंत्रित किया गया था। फेसबुक लाइव अनामिका अंबर ने पटना के एयरपोर्ट से किया था। अनामिका अंबर ने कहा कि उन्हें बहुत दुख है कि दिनकर की धरती से वे बिना काव्य पाठ पढ़े वापस जा रही हैं।

अनामिका अंबर के फेसबुक लाइव का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। उन्होंने बताया कि वे काव्य पाठ पढऩे के लिए सोनपुर मेला पहुंची थी। यहां पर कवि सम्मेलन प्रारंभ होने से पहले पहले प्रशासन ने काव्य पाठ से रोक दिया। उन्होंने बताया कि वे कार्यक्रम में मौजूद थी जब उन्हें मंच पर जाने से मना कर दिया कि वे काव्य पाठ नहीं करेगी। अनामिका अंबर ने कहा कि उन्हें बहुत दुख है कि बिना काव्य पाठ पढ़े वापस जा रही हैं।

अनामिका अंबर का कहना कि उसका कारण यह कि राष्ट्र की बात करना और सच्चाई की बात करना किसी सरकार को इतना परेशान कर सकता है। उन्होंने अपनी निराशा व्यक्त की और कहा कि वे अपने दर्शकों के लिए काव्य पाठ नहीं कर पाई। उन्होंने कहा कि उन्हें बहुत दुख है कि वे दिनकर जी की धरती से यानी पटना से बिना कविता पढ़े जा रही हैं।

Edited By: Dharmendra Pandey

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट