Move to Jagran APP

Reasi Attack: बस खाई में न गिरती तो… सामने ‘मौत’ देखकर कांप गई रुह, रियासी आतंकी हमले के घायलों ने सुनाई आपबीती

Reasi terror Attack News - जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में शिवखोड़ी धाम से दर्शन कर लौटते समय तीर्थयात्रियों की बस पर आतंकी हमले ने बलरामपुर गोंडा मथुरा मेरठ वाराणसी और गोरखपुर को हिला दिया। इन जिलों के लोग उस बस में सवार थे। बलरामपुर की रूबी और अनुराग वर्मा घटनास्थल पर ही मौत हो गई जबकि जिले के 12 लोग घायल हैं।

By Jagran News Edited By: Shivam Yadav Published: Tue, 11 Jun 2024 06:00 AM (IST)Updated: Tue, 11 Jun 2024 06:00 AM (IST)
Reasi Attack: बस खाई में न गिरती तो… सामने ‘मौत’ देखकर कांप गई रुह।

जागरण टीम, लखनऊ। जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में शिवखोड़ी धाम से दर्शन कर लौटते समय तीर्थयात्रियों की बस पर आतंकी हमले ने बलरामपुर, गोंडा, मथुरा, मेरठ, वाराणसी और गोरखपुर को हिला दिया। इन जिलों के लोग उस बस में सवार थे। बलरामपुर की रूबी और अनुराग वर्मा घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि जिले के 12 लोग घायल हैं। वहीं, गोंडा, मथुरा, मेरठ, वाराणसी और गोरखपुर के 19 श्रद्धालु भी घायल हैं।

तो आतंकी किसी को जिंदा नहीं छोड़ते

आतंकी हमले में बचे मेरठ के तरुण कुमार प्रजापति व प्रदीप कुमार प्रजापति की आपबीती खौफनाक है। जीवित बचने के लिए वह बाबा शिवखोड़ी और मां वैष्णो देवी की कृपा ही बता रहे हैं। 

दोनों बताते हैं कि आतंकी बीच सड़क पर खड़े होकर गोलियां बरसा रहे थे। करीब 10 मिनट तक आतंकियों ने फायरिंग की। बस खाई में न गिरती तो आतंकी किसी को जिंदा नहीं छोड़ते।

खाई में गिरती बस पर भी की फायरिंग

तरुण ने मोबाइल फोन पर बातचीत में बताया कि उनके साथ मामा पवन व प्रदीप भी थे। जम्मू से कटरा पहुंचने के बाद मां वैष्णो देवी के दर्शन किए। इसके बाद शिवखोड़ी धाम गए। बाबा शिवखोड़ी के दर्शन कर 10 किमी ही चले थे कि तभी आतंकी हमला हो गया। आतंकियों की गोली चालक को लगी और बस अनियंत्रित होकर नीचे खाई में जा गिरी। आतंकी खाई में गिरती बस पर भी फायरिंग करते रहे। 

प्रदीप ने बताया कि बेहद खौफनाक मंजर था। भाई पवन के पैर में चोट लगी है। फिलहाल तीनों जम्मू के राजकीय मेडिकल कालेज में उपचाराधीन हैं। 

मथुरा की देवरानी-जेठानी को लगी गोली

आतंकी हमले में मथुरा की देवरानी और जेठानी भी घायल हो गईं। परिवार और प्रशासनिक अधिकारियों के मुताबिक जेठानी लक्ष्मी की जांघ में गोली लगी है, देवरानी मीरा भी गोली लगने से घायल है। दोनों सगी बहनें भी हैं। 

मीरा पति रोहिताश के साथ नोएडा में ही रहती हैं। लक्ष्मी भी नोएडा गई थीं और वहां दोनों बहनों ने मां वैष्णो देवी के दर्शन करने की योजना बनाई और छह जून को जम्मू रवाना हो गईं। हादसे के बाद सेना ने रोहिताश को हादसे की जानकारी दी। 

जो गेस्ट हाउस में थे बच गए, चारों घायल एक परिवार के

आतंकी हमले में घायल गोरखपुर के सभी श्रद्धालु एक ही परिवार के हैं। स्वजन ने बताया कि राजेश, उनकी पत्नी रिकसोना देवी, सोनी देवी और रिश्तेदार गायत्री देवी घायल हैं। परिवार और रिश्तेदार मिलाकर कुल 17 लोग जम्मू गए थे। इनमें चार लोग शिव खोड़ी जा रहे थे, जो घायल हुए। बाकी 13 लोग गेस्ट हाउस में रुके थे।

घायलों और परिजनों से केंद्रीय राज्यमंत्री ने की बात

आतंकी हमले में गोंडा के आठ तीर्थयात्री घायल हैं। ये सभी समूह बनाकर चार जून को मां वैष्णो देवी का दर्शन करने गए थे। गोंडा सांसद एवं केंद्रीय राज्य मंत्री कीर्तिवर्धन सिंह ने वीडियो काल पर परिवारजन और घायलों से बात की। चिकित्सा प्रबंध के बारे में जानकारी प्राप्त करने के साथ ही बेहतर उपचार का भरोसा दिया। 

शादी की पहली सालगिरह पर गया था दंपती 

वाराणसी के अतुल मिश्रा और उनकी पत्नी नेहा ने सोचा भी न होगा कि उनकी शादी की पहली सालगिरह के साथ कभी न भूल पाने वाली खौफनाक घटना भी जुड़ जाएगी। रियाशी की घटना में यह दंपती भी घायल है और जम्मू के अस्पताल में इलाज चल रहा।

यह भी पढ़ें: All Eyes on Reasi कर रहा सोशल मीडिया पर ट्रेंड, क्यों है लोगों की इस शहर पर नजर?

यह भी पढ़ें: Reasi Terror Attack: खून से लथपथ शरीर, कटे हाथ लटके हुए... बस में छिपा रहा दिल्ली का परिवार, आतंकी बरसा रहे थे गोलियां


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.