लखनऊ, जागरण संवाददाता। बीते दिनों लखनऊ में पकड़े गए आतंकी गिरोह के माड्यूल और प्रमुख मंदिरों, आरएसएस कार्यालय को बम से उड़ाने की मिली धमकी के बाद शहर में हाई अलर्ट है। ऐसे में बुधवार को इंटरनेट मीडिया पर वायरल वीडियो में पाकिस्तान जिंदाबाद के लग रहे नारे से पुलिस महकमे और लोगों के कान खड़े हो गए। वीडियो में तांगा चालक रायबरेली रोड तेलीबाग में स्थित एक लोहे की दुकान के बाहर पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगा रहा है। उसके पास जो तांगा है उसमें भी पाकिस्तान के दो झंडे बने हैं। इंटरनेट मीडिया पर यह वीडियो खूब वायरल हुआ।

वीडियो तांगा चालक ने पाकिस्तान मुर्दाबाद बोलने से किया विरोध, साथी ने कहा पाकिस्तान जिंदाबाद : वीडियो तीन से चार दिन पुराना बताया जा रहा है। वीडियो तेलीबाग सर्पोटगंज स्थित एक फर्म में तांगा चालक है। वह तांगे से माल ढुलाई का काम करता है। चालक ने अपना नाम नूर आलम बताया और कहा कि वह राजीवनगर घुसियाना का रहने वाला है। वीडियो बना रहे युवक ने उसके तांगे में पाकिस्तान का झंडा बना देखा तो पूछा कि यह झंडा कैसे बना है। इस पर तांगा चालक नूर आलम ने बताया कि वह 20-22 साल से तांगा चला रहा है तब से उसमें झंडे बने हैं। युवक ने कहा कि हिंदुस्तान जिंदाबाद कहो। चालक ने हिंदुस्तान जिंदाबाद कहा, जय हिंद कहा। युवक ने जब पाकिस्तान मुर्दाबाद का नारा लगाने को कहा तो उसने मना कर दिया। इस बीच उसका साथी रशीद आ गया उसने भी विरोध किया कि हम पाकिस्तान मुर्दाबाद नहीं कहेंगे और झगड़ने लगा। रशीद ने कहा कि वह पाकिस्तान मुर्दाबाद नहीं कहेगा। अंत में हिंदुस्तान और पाकिस्तान दोनों जिंदाबाद के नारे लगाए।

चालक को तांगा समेत थाने बुलवाकर झंडे पर की गई पुताई : वायरल वीडियो को देखकर अधिकारियों के आदेश पर इंस्पेक्टर पीजीआइ आनंद शुक्ला ने तांगा चालक को थाने बुलवाया। उससे पूछताछ की तो वह माफी मांगने लगा। माफी मांगने और दोबारा ऐसी गलती न करने की हिदायत देकर उसके तांगे पर बने पाकिस्तान के दोनों झंडों पर पेंट करने के बाद उसे छोड़ दिया गया।

थाने से लौटने पर रास्ते में खरीदा तिरंगा, तांगे पर लगाया और हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे : थाने से निकलने के बाद नूर आलम ने रास्ते में तिरंगा झंडा खरीदा। तिरंगे को सल्यूट कर तांगे में लगाया और फिर हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे लगाते हुए घर चला गया।

Edited By: Anurag Gupta