Move to Jagran APP

आकाश आनंद के पर कतरे जाने पर क्या बोले अखिलेश, बताया- मायावती ने BSP में क्यों किया इतना बड़ा फेरबदल

Lok Sabha Election 2024 मायावती ने मंगलवार को तीजे आकाश आनंद को पार्टी के नेशनल कॉर्डिनेटर के पद से हटा दिया है। साथ ही उनसे अपना उत्तरधिकार का पद भी वापस ले लिया है। अब बसपा के अंदरूनी मसले पर समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने टिप्पणी की है। उन्होंने ट्वीट कर बताया कि आखिर क्यों बसपा ने बड़े फेरबदल किए हैं।

By Abhishek Pandey Edited By: Abhishek Pandey Published: Wed, 08 May 2024 01:10 PM (IST)Updated: Wed, 08 May 2024 01:10 PM (IST)
आकाश आनंद के पर कतरे जाने पर क्या बोले अखिलेश, बताया- मायावती ने BSP में क्यों किया इतना बड़ा फेरबदल

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। बहुजन समाज पार्टी ने मंगलवार को पार्टी के शीर्ष नेतृत्व में बड़ा बदलाव किया है। बसपा सुप्रीमो मायावती अपने भतीजे आकाश आनंद को पार्टी के नेशनल कॉर्डिनेटर के पद से हटा दिया है। साथ ही उनसे अपना उत्तरधिकार का पद भी वापस ले लिया है। अब इस मामले पर अखिलेश यादव ने बसपा पर सियासी हमला बोला है।

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने कहा- बसपा ने अपने संगठन में बड़े बदलाव का जो भी कदम उठाया है वो उनकी पार्टी का आंतरिक विषय है।

अखिलेश ने बताई BSP में फेरबदल की वजह

अखिलेश ने इसके पीछे वजह बताई की 'लोकसभा चुनाव में बसपा की एक भी सीट आती हुई नहीं दिख रही है क्योंकि बसपा के अधिकांश परंपरागत समर्थक भी इस बार संविधान और आरक्षण को बचाने के लिए इंडिया गठबंधन को ही वोट दे रहे हैं। इस बात को बसपा अपने संगठन की विफलता के रूप में ले रही है। इसीलिए उनका शीर्ष नेतृत्व संगठन में इतना बड़ा फेर-बदल कर रहा है लेकिन अब बाजी बसपा के हाथ से निकल चुकी है।'

अखिलेश ने कहा- सच ये है कि बसपा का प्रभाव क्षेत्र में होते हुए भी पिछले चरणों में उनकी एक भी सीट नहीं आ रही है तो बाकि के चार चरणों में तो कोई संभावना बचती नहीं है। उन्होंने वोटरों से अपील करते हुए कहा कि आप अपना वोट खराब न करें बाबासाहेब भीमराव अम्बेडकर के संविधान को बचाने के लिए इंडिया गठबंधन का साथ दें। साथ ही अखिलेश यादव ने भाजपा को आरक्षण विरोधी भी बताया।

अकाश को 10 दिसंबर को सौंपी गई थी कमान

उल्लेखनीय है कि बहुजन समाज को लेकर डॉ. आंबेडकर के मिशन को आगे बढ़ाने के लिए कांशीराम की राजनीतिक विरासत संभालने वाली मायावती ने पिछले वर्ष 10 दिसंबर को अपने छोटे भाई आनंद कुमार के 29 वर्षीय बेटे आकाश को अपना राजनीतिक उत्तराधिकारी बनाए जाने की घोषणा की थी।

इसे भी पढ़ें: लखनऊ में बुजुर्ग की हत्या के मामले में बड़ा खुलासा, छेड़खानी से नाराज प्रेमी ने खौफनाक वारदात को दिया अंजाम


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.