लखनऊ, जेएनएन। लविवि के 100 वें स्थापना दिवस समारोह के मौके पर बुधवार को केंद्र सरकार की ओर से 100 रुपए का विशेष सिक्का जारी किया गया। जिसमें एक ओर लखनऊ विश्वविद्यालय का चित्र अंकित है। 1920 से 2020 दर्ज है। ये सिक्का 100 रुपए का दूसरा स्मारक सिक्का है। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ही विजया राजे सिंधिया की स्मृति में 100 रुपए का पहला स्मारक सिक्का इसी वर्ष अक्टूबर में जारी किया था।

स्थापना दिवस समारोह के मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह की मौजूदगी में सिक्के का अनावरण किया गया। इसके एक विशेष डाक टिकट, एक डाक लिफाफा और एक कॉफी टेबल बुक भी लांच की गई है। इस मौके पर डाक विभाग वरिष्ठ अधिकारी केके यादव और पीके दक्ष मौजूद रहे। 

सात विभूतियां सम्मानित

दैनिक जागरण के वरिष्ठ कार्यकारी संपादक प्रशांत मिश्र सहित सात विभूतियों को लविवि 100 वें स्थापना दिवस समारोह के दौरान सम्मानित किया गया। जिसमें कुछ लोग मौजूद रहे और कुछ के स्मृति चिन्ह उनके घरों तक पहुंचाए जाएंगे। ये सभी लविवि के कभी न कभी पूर्व छात्र रहे हैं। पद्मश्री लोक गायिका मालिनी अवस्थी, सात बार के विधायक और प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना, डॉ राजीव कुमार, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर सुरेश रैना, फिल्मकार जूही चतुर्वेदी और प्रख्यात ह्दय रोग विशेषज्ञ डॉ नरेश त्रेहन को सम्मानित करने का एलान किया गया। इन सभी विभूतियों केनामों की घोषणा मंच से की गई। जिनमें पद्मश्री मालिनी अवस्थी, पद्मश्री राज बिसारिया और डॉ राजीव कुमार मौजूद रहे। बाकी लोगों के नामों की घोषणा कुलपति प्रो आलोक कुमार राय ने की।

सभी अपने क्षेत्रों के महारथी

यहां सम्मानित सभी विभूतियों के बारे में बताया गया। लविवि के ये सारे पूर्व विद्यार्थी अपने अपने क्षेत्र के महाराथी रहे हैं। दैनिक जागरण पत्र समूह को प्रथम स्थान पर पहुंचाने में प्रशांत मिश्र के योगदान की सराहना की गई। पद्मश्री मालिनी अवस्थी के बारे में बताया गया कि वे लविवि की 1987 में बीए आनर्स की गोल्ड मेडलिस्ट भी रहीं हैं। इसके साथ ही उन्होंने अवधी, भोजपुरी और बुंदेलखंडी लोकगीतों में अपना लोहा मनवाया है। सुरेश रैना भारतीय क्रिकेट टीम के उप कप्तान रहे हैं। आईपीएल में वे गुजरात लायंस के कप्तान थे व चेन्नई सुपर किंग्स में भी पद्मश्री राज बिसारिया ने भी रंगमंच के क्षेत्र में अपना लोहा मनवाया है। पूरे देश में उनका नाम रंगमंच के क्षेत्र में बहुत सम्मान से लिया जाता रहा है। डॉ नरेश त्रेहन प्रख्यात ह्दय रोग विशेषज्ञ थे और केजीएमयू से उन्होंने अपना एमबीबीएस किया था। मंत्री सुरेश खन्ना भी सात बार अपने इलाके से विधायक चुने गए।

पीएम के संबोधन के बाद बैंड और बीट बॉक्सिंग की मस्ती

लखनऊ विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह की आखिरी शाम प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के उद्बोधन के बाद, सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में कई विद्यार्थियों ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। बैंड प्रस्तुति, बीट बॉक्सिंग, ग्रुप संग, वाद्य यंत्र प्रस्तुति के साथ संगीत, नृत्य, नाटक भी प्रस्तुत किए गए। समस्त छात्रों ने खूब उत्साह के साथ पूरे कार्यक्रम का आनंद लिया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021