लखनऊ, जेएनएन। Lucknow COVID-19 News: उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन के चलते कोरोना संक्रमण तो लगातार काबू में आता दिख रहा है। वहीं, राजधानी लखनऊ में मौतें उतनी ही तेजी से बेकाबू हो रही हैं। गुरुवार को राजधानी में कोरोना ने मौतों के पिछले सारे रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिए। एक ही दिन में रिकॉर्ड 65 मरीजों की मौत से डाक्टर भी हैरान हैं। इस दौरान 1865 नए लोग वायरस की चपेट में आए हैं। यह एक माह बाद 24 घंटे में संक्रमित होने वाले मरीजों की न्यूनतम संख्या है। इससे पहले सात अप्रैल को 1333 लोग वायरस की चपेट में आए थे। इसके बाद कभी भी रोजाना संक्रमित होने वाले मरीजों की संख्या 2000 के नीचे नहीं आई। 16 अप्रैल को तो अधिकतम संक्रमित होने वाले मरीजों की संख्या रिकॉर्ड 6598 तक पहुंच गई थी। अब तक एक दिन में 24 अप्रैल को सर्वाधिक 42 मौतों का रिकॉर्ड था। अब लखनऊ में 2003 लोगों की वायरस से जान जा चुकी है।

बीती गुरुवार को 3755 लोग स्वस्थ हुए। इससे आंशिक राहत महसूस हो रही है। सक्रिय मरीजों की संख्या भी लगातार घट रही है। अब लखनऊ में सिर्फ 29827 सक्रिय मरीज रह गए हैं। जबकि अप्रैल में सक्रिय मरीजों की संख्या 60 हजार के करीब पहुंच चुकी थी।

अमेठी में 122 और मिले संक्रमित, सौ से अधिक को अस्पताल से छुटटी: कोरोना से संक्रमित एक सौ से अधिक मरीज ठीक होने के बाद घर भेजे गए हैं। जब कि 140 भर्ती मरीजों का उपचार चल रहा है। 122 नए संक्रमित सामने आए हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा आरटीपीसीआर के 837 सैंपल जांच के लिए भेजा था। जब कि 927 लोगों की एंटीजेन के साथ 1764 लोगों की जांच कराई गई। आई रिपोर्ट में 122 संक्रमित निकले हैं। 111 संक्रमितों के ठीक होने पर उन्हें अस्पताल से घर भेज दिया गया है। वहीं 140 भर्ती मरीजों का उपचार चल रहा है। इसमें सौ मरीज जिला अस्पताल में व 40 तिलोई के कोविड अस्पताल में भर्ती हैं। 

यह भी पढ़ें: Death Due to COVID-19 in UP: BJP के चौथे विधायक का निधन, संक्रमित थे रायबरेली के सलोन के दल बहादुर कोरी

अंबेडकरनगर में 34 और मिले पाजिटिव, 25 संक्रमितों ने कोरोना को दी मात: कोरोना संक्रमण दो दिन से स्थिर है। अच्छी खबर यह है कि कोरोना संक्रमण से गुरुवार को कोई भी मौत नहीं हुई। हालांकि बगैर जांच और सांस फूलने से ग्रस्त दो-चार मरीजों की मौत रोजाना हो रही है। 25 मरीज पूरी तरह स्वस्थ भी हुए।गुरुवार को आई जांच रिपोर्ट में 34 लोग संक्रमित मिले। तीन को मेडिकल कालेज सद्दरपुर तथा पांच मरीजों को एल-टू हास्पिटल टांडा में भर्ती कराया गया है। शेष सभी मरीजों को होम आइसोलेशन में रखा गया है। वर्तमान में कुल 719 मरीज सक्रिय हैं, वहीं अब तक 79 दम तोड़ चुके हैं। संक्रमण रोकने के लिए जिला प्रशासन तैयारियों में जुटे होने का दावा कर रहा है, लेकिन अस्पतालों में बेड नहीं मिलने से कईयों की मौत हो रही है। 

यह भी पढ़ें: Lucknow COVID-19 News: लखनऊ में जज व डाक्टर ने मिलकर बचाई सौ से अधिक कोरोना संक्रमितों की जान

बहराइच में 140 नए रोगी आए सामने: जिले में 140 नए पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं, जबकि जांच में 852 निगेटिव रहे। आज 964 लोगों के सैंपुल जांच के लिए एकत्र किए गए हैं। यह जानकारी मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. राजेश मोहन श्रीवास्तव ने दी। उन्होंने बताया कि कोविड-19 एल-टू अस्पताल की क्षमता 280 बेड है, यहां भर्ती मरीजों की संख्या 127 है। आइसीयू में 30 बेड के सापेक्ष भर्ती मरीजों की संख्या 26 है। एचडीयू के 20 बेड है। यहां 18 मरीज भर्ती हैं। मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि कुल भेजे गये सैंपल 455048 में अब तक 453726 की रिपोर्ट आ चुकी है। अब तक कुल 9144 की रिपोर्ट पॉजिटिव रही है। अब तक 1625 ठीक हो चुके हैं। आज एक रोगी को डिस्चार्ज किया गया। अब तक 93 की मौत हो चुकी है। होम आइसोलेशन ओवर 5716 मरीज हैं। 20 कंटेनमेंट जोन घोषित किए गए हैं। कुल 586 कंटेनमेंट जोन में तहसील कैसरगंज में 104, महसी में 52, नानपारा में 174, मिहींपुरवा में 75, पयागपुर 91 तथा तहसील सदर 90 हैं।

बलरामपुर में भर्ती तीन संक्रमितों ने तोड़ा दम, 95 नए पाजिटिव: संयुक्त अस्पताल का एल-टू हास्पिटल संक्रमितों के लिए कब्रिस्तान साबित हो रहा है। करीब 15 दिन से यहां लगातार मौतें हो रही हैं, लेकिन स्वास्थ्य विभाग के अफसर व्यवस्था सुधारने के बजाए मौतों के आंकड़े छिपा कर मामले की लीपापोती में जुटे हुए हैं।  उधर 95 पाजिटिव मिले हैं जबकि संक्रमित चल रहे 98 लोग स्वस्थ हो गए। 77 स्थानों पर मिले नए सभी संक्रमितों को होम आइसालेट कर इनके संपर्क में आए लोगों की तलाश की जा रही है। अब तक 5686 पाजिटिव मिल चुके हैं। इनमें 83 की मौत हो गई। 4456 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। 1147 केस एक्टिव हैं।

यह भी पढ़ें: लखनऊ के DRDO अस्‍पताल में 90 फीसद बेड खाली, तीमारदार गिड़गिड़ाते रहे, नहीं भर्ती हुए मरीज

बाराबंकी में कोरोना संक्रमण से 13 की मौत, 518 हुए स्वस्थ: कोरोना संक्रमण को लेकर लोगों की जागरूकता का असर दिख रहा है। संक्रमित मिलने की रफ्तार जहां कम हुई है वहीं स्वस्थ होने वालों का आंकड़ा बढ़ा है। गुरुवार को आई जांच रिपोर्ट 518 लोग स्वस्थ हुए हैं और शाम तक जांच में 170 लोग संक्रमित पाए गए हैं। वहीं, कोरोना संक्रमण 13 लोगों की मौत भी हुई है।

अयोध्या में 20 दिन में 11 मौत, 206 मिले संक्रमित:  मिल्कीपुर विकास खंड के खिहारन में 20 दिनों में 11 लोगों की मौत से दहशत व्याप्त हो गई है। ग्रामवासी खौफजदा हैं। वहीं गुरुवार को जिले में 206 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। हालांकि, ठीक होने वालों की संख्या नए संक्रमितों से ज्यादा रही। मेडिकल कॉलेज में आठ लोगों ने दम तोड़ दिया। गुरुवार को नगर निगम क्षेत्र स्थित सआदतअली खान की छावनी में कोरोना का विस्फोट हुआ है। कुल 15 लोग संक्रमित पाए गए हैं। शिवनगर में नौ, सदर बाजार में छह समेत कुल 206 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या 13794, ठीक होने वालों की 11784 व सक्रिय मामलों की 1855 हो गई है। 

हरदोई में छह दिन में 1217 हुए संक्रमित तो 1523 ने दी कोरोना को मात: जिले में संक्रमण के साथ रिकवरी रेट भी तेजी से बढ़ रहा है। मई के छह दिनों में जहां 1217 लोगों कोरोना संक्रमित हुए, वहीं 1523 संक्रमितों ने होम आइसोलेशन में रहकर कोरोना को मात दे दी। कोरोना संक्रमण के डर से लोग घरों में रहकर इलाज करा रहे हैं, लक्षण होने के बाद भी जांच नहीं करा रहे हैं, जिस कारण वायरस धीरे-धीरे फेफड़ों तक पहुंच रहा है और जो लोग समय से जांच कराकर डॉक्टर की सलाह लेकर इलाज कर रहे हैं वह लोग घर में रहकर नियमित दिनचर्या से कोरोना को मात दे रहे हैं। एक मई को जिले में सबसे अधिक 397 संक्रमित मिले, वहीं 337 ने कोरोना को मात दी। दो मई को 292 लोग संक्रमित निकले तो 282 लोग होम आइसोलशन में ठीक हो गए। तीन में को 111 संक्रमित निकले और 227 ठीक हुए। चार मई को 174 लोग संक्रमित हुए तो 227 ने होम आइसोलेशन में ठीक हो गए। वहीं पांच को 197 और छह को 123 ने घर में रहकर ही कोरोना को हराया। 

लखीमपुर में सांस की बीमारी से रोज 25 से 30 मौतें, 449 नए संक्रमित: कोरोना की वजह से सबसे ज्यादा मरीज सांस की बीमारी के शिकार हो रहे हैं। जिनके इलाज के लिए उन्हें जिला अस्पताल ले जाया जा रहा है। चिंताजनक किया है कि जिला अस्पताल में उन्हें समुचित इलाज नहीं मिल पा रहा और औसतन रोज 25 से 30 मौतें हो रही हैं। संसाधनों और दवाइयों की कमी के कारण लोगों को इलाज नहीं मिल पा रहा है। इधर, पिछले 24 घंटे में लखनऊ लैब से कुल 769 रिपोर्ट आई। जिसमें 278 पॉजिटिव व 491 निगेटिव है। अन्य लैब व एंटीजन से 171 पॉजिटिव मिले हैं। सबसे ज्यादा ब्लॉक लखीमपुर में 142 मरीजों की पहचान हुई है। नकहा, ईसानगर में दो-दो, फूलबेहड़ में सात, धौरहरा में तीन, निघासन में 22, रमियाबेहड़ में 16, बांकेगंज में 10, पसगवा में 25, मितौली में 18, कुम्भी में 130, पलिया में 11, बिजुआ में 19, बेहजम में 13 तथा मोहम्मदी में 29 नए मरीज मिले हैं। जिससे जिले में एक्टिव केस 3748 हो गए हैं। अब तक कोरोना से 148 लोगों की मौत हो चुकी है।

सुलतानपुर में 122 नए लोग कोरोना पाजिटिव: बीते 24 घंटे में जिले भर में कुल 122 लोग कोरोना पाजिटिव पाए गए हैं। वहीं इलाज करा रहे कुल 561 लोग ठीक हो गए। कोरोना गाइड लाइन का अनुपालन करने व शारीरिक दूरी बनाए रखने की अपील के साथ इन सभी को गुरुवार को अस्पताल व आइसोलेशन वार्ड से छुट्टी दे दी गई।