Love Jihad in Sitapur: सीतापुर, संवाद सूत्र। खुद का नाम अर्जुन बताया और लड़की को प्रेम जाल में फंसाकर शादी कर ली। एक वर्ष बाद जब पता चला कि लड़का अर्जुन नहीं, लहरपुर इलाके का वसीम है। लड़की के पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई। विरोध जताने पर युवक और परिवारजन विवाद करने लगे। वसीम के परिवार वाले लड़की पर छुटौती का दबाव बनाकर तहसील पहुंचा तो भेद खुल गया। अधिवक्ता ने पुलिस बुला ली तो युवक भाग निकला। पुलिस जांच में जुटी है। तंबौर इलाके के एक गांव में रहने वाली युवती सोमवार की दोपहर लहरपुर तहसील आई थी।

लहरपुर इलाके का एक युवक और अन्य लोग भी साथ थे। यह लोग छुटौती करने पहुंचे थे। अधिवक्ता के पूछने पर लड़की ने चौकाने वाली जानकारी दी। लव जिहाद का मामला सामने आया तो अधिवक्ताओं ने कस्बा चौकी इंचार्ज जय प्रकाश यादव को फोन किया। चौकी प्रभारी की पूछताछ में लड़की ने कहा कि युवक ने उसे अपना नाम अर्जुन बताकर मंदिर में शादी की थी। वह एक वर्ष साथ रही। एक बच्चा भी है। उधर, मौका पाकर युवक और परिवारजन भाग निकले। बाद में पुलिस ने उसे हिरासत में लिया है।

बता दें कि इसके पहले लखनऊ में भी ऐसा ही एक मामला सामने आया था। जिसमें मुस्लिम लड़के ने धर्मा छिपाकर हिंदू लड़की से शादी कर ली थी। यह मामला चिनहट कोतवाली का था। पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था। इसमें आरोपित की गिरफ्तारी भी हुई थी। 

लड़का-लड़की तंबौर इलाके के रहने वाले हैं। अधिवक्ता की सूचना पर पुलिस गई थी। केस दर्ज कर लिया गया है। युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। -राजीव सिंह, कोतवाली प्रभारी लहरपुर

Edited By: Vikas Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट