लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में मंगलवार को कोरोना वायरस के संक्रमण से तीन और मौतें हो गईं। कानपुर में इस वायरस से पहली मौत, मुरादाबाद में दूसरी और आगरा में चौथी मौत हुई। इसके अलावा बस्ती, मेरठ, वाराणसी व बुलंदशहर में भी पहले एक-एक लोगों की मौत हो चुकी है। ऐसे में अब तक यूपी में कुल 11 लोगों जान गंवा चुके हैं।

मंगलवार को उत्तर प्रदेश में कोरोना के कुल 26 नए संक्रमित लोग मिले, जिसमें तब्लीगी जमात के 20 लोग शामिल थे। इसे मिलाकर यूपी में कोरोना संक्रमितों की संख्या 665 हो गई, जिसमें तब्लीगी जमात के 414 शामिल हैैं। अभी तक सर्वाधिक 143 संक्रमित आगरा में पाए गए हैं। मंगलवार को यूपी के विभिन्न अस्पतालों में 710 संदिग्ध संक्रमित लोगों को भर्ती कराया गया है।

कोरोना का संक्रमण अब उत्तर प्रदेश के 44 जिलों में अपने पांव पसार चुका है। मंगलवार को जो 26 नए संक्रमित  मिले, उसमें तब्लीगी जमात के मेरठ में छह, संभल में छह, बिजनौर में चार, बस्ती में दो, औरैया में एक और कानपुर का एक मरीज है। वहीं आगरा में चार, हापुड़ में एक और बांदा में एक कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। अब तक मिले कुल संक्रमितों में से तब्लीगी जमात के आगरा में 143 में से 73, लखनऊ में 44 में से 17, गाजियाबाद में 27 में से 15, लखीमपुर खीरी में चार में से तीन, कानपुर में 10 में से आठ, मुरादाबाद में 19 में से 17, वाराणसी में नौ में से चार, शामली में सभी 22, जौनपुर में चार में से तीन संक्रमित तब्लीगी जमात के हैं।

इसी प्रकार बागपत में 14 में से 13, मेरठ में 64 में से 42, बुलंदशहर में 11 मे से 6, हापुड़ में सभी 9, गाजीपुर में सभी पांच, आजमगढ़ में छह में से चार, फीरोजाबाद में 19 में से 15, हरदोई में सभी दो, प्रतापगढ़ में सभी छह, सहारनपुर में 53 में से 52, बस्ती में 16 में से दो, शाहजहांपुर में एक, बांदा में तीन में से दो, महाराजगंज में छह, हाथरस में सभी चार, मीरजापुर में दो, रायबरेली में दो, औरैया में पांच में से तीन, बाराबंकी में एक, सीतापुर में नौ, प्रयागराज में एक, मथुरा में दो, रामपुर में छह में से एक, मुजफ्फरनगर में नौ में से सात और संभल में सभी छह संक्रमित तब्लीगी जमात के हैं।

इसके अलावा नोएडा में 84, बरेली में छह, कौशांबी में दो, बदायूं में दो, भदोही में एक, कासगंज में तीन और इटावा में एक कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। मंगलवार को अस्पताल से ठीक होकर आठ लोग घर पहुंचे, जिसमें नोएडा के पांच, गाजियाबाद के दो और लखनऊ का एक व्यक्ति है। इन्हें मिलाकर अब तक कुल 54 लोग अस्पताल से छुट्टी पा चुके हैं। 

15134 की रिपोर्ट आई निगेटिव

यूपी में अभी तक 15914 संदिग्ध संक्रमितों के नमूने जांच के लिए लैब भेजे जा चुके हैं और इसमें से 15134 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। 120 की रिपोर्ट आना अभी बाकी है।

कानपुर में मौत, आठ मदरसा छात्र कोरोना संक्रमित

कानपुर में कोरोना से पहली मौत का मामला सामने आया है। यहां तिकोनिया पार्क निवासी 40 वर्षीय रेडीमेड कारोबारी को चुन्नीगंज स्थित एक नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया था, जहां से शुक्रवार देर रात उसे हैलट के कोविड -19 अस्पताल रेफर किया गया था। सोमवार रात करीब आठ बजे उसकी मौत हो गई। उक्त युवक का भाई कर्नलगंज क्षेत्र की एक मस्जिद का मुतवल्ली है, जहां वह व्यवस्थाएं देख रहा था। उधर, मछरिया के शेख हिदायतुल्ला मदरसा के आठ छात्रों में कोरोना के संक्रमण की पुष्टि हुई है। उनके नमूनों की जांच जीएसवीएम मेडिकल कालेज के कोविड-19 लैब में हुई है। 

मुरादाबाद में दो लोगों की मौत

पीतलनगरी मुरादाबाद में सोमवार रात 49 वर्षीय सरताज अली की इलाज के दौरान मौत हो गई। कोरोना पॉजिटिव सरताज अली थाना नागफनी के नवाबपुरा के रहने वाले थे। कोरोना वायरस से संक्रमित सरताज अली का टीएमयू में इलाज चल रहा था। जिले में कोरोना वायरस से यह पहली मौत थी। मंगलवार को भी मुरादाबाद में टीएमयू अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित 76 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गई। वह मूल रूप से तमिलनाडु का रहने वाला था। यह उन 11 जमातियों में शामिल था, जिनको 31 मार्च को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने खोज कर भर्ती कराया था। इनमें शामिल पांच लोगों की रिपोर्ट मंगलवार को ही पॉजिटिव आई थी। बाकी पांच जिला अस्पताल के आइसोलेशन में भर्ती हैं। टीएमयू में ही सोमवार की रात 49 वर्ष के व्यक्ति की मौत हो गई थी।

आगरा में दो की मौत, अब तक तीन

ताजनगरी आगरा की स्थिति बेहद भयावह है। आगरा के भगवान टॉकीज स्थित एक अस्पताल में भर्ती रही दो महिलाओं की सोमवार को कोरोना के संक्रमित होने से मौत हो गई। जिला प्रशासन के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने दोनों महिलाओं का आगरा में ही अंतिम संस्कार कराया। जिला प्रशासन ने दोनों महिलाओं की उनके रीति-रिवाजों के अनुसार अंत्येष्टि करा दी। शिकोहाबाद की 60 वर्षीय महिला को फेफड़ों में कैंसर था और उनको किडनी की भी समस्या थी। वह अपने इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती हुई थीं। रविवार दोपहर दो बजे उनकी किडनी फेल हो गईं। जिससे उनकी मौत हो गई। जिला अस्पताल ने इस अस्पताल की पुरानी हिस्ट्री को देखते हुए महिला का सैंपल केजीएमयू लखनऊ भेजा था। इसकी रिपोर्ट सोमवार को पॉजिटिव आई।

दूसरी ओर कमालगंज फर्रुखाबाद की 48 वर्षीय महिला की सोमवार दोपहर एक बजे इसी अस्पताल में ब्रेन हेमरेज होने के कारण मौत हो गई। इस महिला का भी सैंपल रविवार को भेजा गया था। सोमवार को आई रिपोर्ट पॉजिटिव निकली। इससे पहले कमला नगर की 72 साल की मनोरमा देवी की भी कोरोना से मौत हो चुकी है। भगवान टॉकीज के पास हाइ-वे पर स्थित इस हॉस्पिटल के आइसीयू में आठ दिन कोरोना संक्रमित महिला भर्ती रही थी। इसके बाद से हॉस्पिटल के मैनेजर, कर्मचारी उनके स्वजन सहित 21 में कोरोना की पुष्टि हो चुकी है। यहां भर्ती मरीज और कर्मचारियों के सैंपल 11 मार्च को भेजे गए थे। इसमें से फर्रुखाबाद निवासी 45 वर्ष की महिला की सुबह मौत हो गई, उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आइ है। महिला को तीन अप्रैल को ब्रेन हेमरेज होने पर भर्ती किया गया था। महिला के पति के भी सैंपल जांच को भेजे गए हैं। रविवार को भी एक महिला की मौत हुई थी। मृत्यु उपरांत आई टेस्ट रिपोर्ट में भी कोरोना पॉजीटिव पाई हैं।

बस्ती में तीन माह का शिशु कोरोना पाजिटिव

बस्ती में तीन माह का एक शिशु भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। दो दिन पहले शिशु और उसके माता-पिता का नमूना जांच के लिए बीआरडी मेडिकल कालेज गोरखपुर भेजा गया था। सोमवार को तीनों की जांच रिपोर्ट आई तो शिशु की पॉजिटिव और माता-पिता की रिपोर्ट निगेटिव रही। देर शाम बच्चे के साथ ही उसके माता-पिता को बस्ती मेडिकल कालेज में क्वारंटाइन करा दिया गया। यह बच्चा शहर के हॉटस्पॉट वाले क्षेत्र मिल्लतनगर का रहने वाला है। यह परिवार 30 मार्च को कोरोना से मृत युवक के रिश्तेदार के परिवार से जुड़ा है। इसी के साथ बस्ती में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 14 हो गई है।

कोरोना  वायरस संक्रमण से उत्तर प्रदेश के मृतकों की सूची

क्रम- स्थान - संक्रमित- उम्र - संक्रमण की पुष्टि-      मृत्यु       मेडिकल हिस्ट्री

1- बस्ती  -   पुरुष      25 वर्षीय         एक अप्रैल       30 मार्च            लिवर व किडनी रोग।

2- मेरठ -    पुरुष      72 वर्षीय          29 मार्च          एक अप्रैल       क्रॉनिक पल्मोनरी डिजीज।

3- आगरा-     महिला    76 वर्षीया         7 अप्रैल         8 अप्रैल          अस्थमा।

4- वाराणसी   पुरुष      55 वर्षीय        5 अप्रैल          3 अप्रैल           डायबिटीज, ब्लड शुगर।

5- बुलंदशहर-  पुरुष    58 वर्षीय        सात अप्रैल        नौ अप्रैल         डायबिटीज।

6- आगरा-     महिला   56 वर्षीया        छह अप्रैल       13 अप्रैल          डायबिटीज, अस्थमा।

7- आगरा-      महिला   45 वर्षीया       14 अप्रैल          13 अप्रैल          ब्रेन हेमरेज।

8- मुरादाबाद   पुरुष     49 वर्षीय         11 अप्रैल         13 अप्रैल          डायबिटीज।

9- कानपुर-      पुरुष     49 वर्षीय         14 अप्रैल         13 अप्रैल      किडनी व डायबिटीज।

10-मुरादाबाद    पुरुष     76 वर्षीय          02 अप्रैल         14 अप्रैल   

11-आगरा         पुरुष     57 वर्षीय          07 अप्रैल          14 अप्रैल          किडनी 

Edited By: Dharmendra Pandey