लखनऊ, जेएनएन। हर बदलते मौसम के साथ खांसी-जुकाम आम समस्या है। इसके कारण बैक्टीरियल या वायरलइंफेक्शन, एलर्जी और ठंड आदि हो सकते हैं। इसके लिए कुछ घरेलू तरीकों को अपनाकर आप डॉक्टर के पास जाने से बच सकते हैं। हमारे घर की रसोई में ही कई ऐसे नुस्खे छिपे होते हैं, जिनसे खांसी-जुकाम जैसी छोटी-मोटी बीमारियां दूर हो जाती हैं। 

शहद, नींबू और इलायची का मिश्रण

आधा चम्मच शहद में एक चुटकी इलायची और कुछ नींबू के रस की बूंदे डालकर सिरप बना सकते हैं। इसका दिन में दो बार सेवन करें। आप खांसी-जुकाम से दूर रहेंगे।

गर्म पानी

जितना हो सके गर्म पानी पिएं। इससे आपके गले में जमा कफ खुलेगा। गर्म पानी में चुटकी भर नमक मिला कर गरारे करने से भी खांसी-जुकाम के दौरान काफी राहत मिलती है। ठंडा पानी, मसालेदार खाना आदि से परहेज करें।

हल्दी वाला दूध

हल्दी में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो कीटाणुओं से हमारी रक्षा करते हैं। रात को सोने से पहले हल्दी वाला दूध पीने से तेजी से आराम पहुंचता है।

मसाले वाली चाय

अदरक, तुलसी, काली मिर्च मिला कर चाय का सेवन कीजिए। इन तीनों तत्वों के सेवन से खांसी-जुकाम में काफी राहत मिलती है।

आंवला 

आंवला में प्रचुर मात्रा में विटामिन-सी पाया जाता है, जो खून के संचार को बेहतर करता है। इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट्स भी होते हैं जो रोग-प्रतिरोधक क्षमता में इजाफा करता है।

अदरक-तुलसी

अदरक के रस में तुलसी मिलाएं और इसका सेवन करें। इसमें शहद भी मिलाया जा सकता है।

अलसी

अलसी के बीजों को मोटा होने तक उबालें और उसमें नींबू का रस और शहद भी मिलाएं। इसके सेवन से जुकाम और खांसी से आराम मिलेगा।

अदरक और नमक

अदरक को छोटे टुकड़ों में काटें और उसमें नमक मिलाकर खा लें। इसके रस से आपका गला खुल जाएगा और नमक से कीटाणु मर जाएंगे।

लहसुन

लहसुन को घी में भून लें और गर्म-गर्म ही खा लें। यह स्वाद में खराब हो सकता है लेकिन स्वास्थ्य के लिए बहुत अ'छा है। 

काली मिर्च

अगर खांसी के साथ बलगम भी है तो आधा चम्मच काली मिर्च को देसी घी के साथ मिलाकर खाएं। 

मेथी के लाभ अनेक

लोकबंधु राजनारायण संयुक्त चिकित्सालय के पूर्व नोडल ऑफीसर (पंचकर्म) डॉ. राकेश चंद्र शर्मा ठंड में मेथी के प्रयोग को लाभदायक बताते हैं। उन्होंने मेथी दाना के प्रयोग के तरीके बताए : 

  • 10 ग्राम दानामेथी, 15 ग्राम काली मिर्च, 50 ग्राम शक्कर बूरा, 100 ग्राम बादाम गिरी लें। इन सबको पीसकर मिला लें। रोजाना गर्म दूध से रात को सोते समय एक चम्मच फंकी लेने से खांसी, बलगम, जुकाम, साइनोसाइटिस और कब्ज सभी में लाभ होता है। 
  •  तीन चम्मच दाना मेथी को दो कप पानी में डालकर दोपहर में भिगो दें। रात को इसी पानी में उबालकर एक कप पानी रहने पर छानकर स्वादानुसार शहद मिलाकर सोते समय कुछ सप्ताह नित्य पीते रहने से कफ, दमा, फेफड़े के रोग, टीबी, शराब पीने के दुष्प्रभाव, यकृत सिकुडऩा, कुपोषण, गठिया, खून की कमी और कमर दर्द आदि समस्या में राहत मिलेगी।

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस